1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Omicron Variants: ओमिक्रॉन ने बदला अपना रूप, फरवरी में तेज हो सकती है इसकी रफ्तार

Omicron Variants: ओमिक्रॉन ने बदला अपना रूप, फरवरी में तेज हो सकती है इसकी रफ्तार

Omicron Variants: देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए लोगों के बीच में दहशत का माहौल है। हर दिन कोरोना संक्रमण के केस में इजाफा हो रहा है। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (New Variants Omicron) ने भी दहशत मचानी शुरू कर दी है। इन सबके बीच अब ओमिक्रॉन वैरिएंट ने भारत में अपना रूप बदल लिया है। बताया जा रहा है कि कोरोना का नया वैरिएंट BA.1 डेल्टा की जगह लेना शुरू कर दिया है लेकिन यह वैरिएंट अभी कुछ राज्यों में देखा गया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Omicron Variants: देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए लोगों के बीच में दहशत का माहौल है। हर दिन कोरोना संक्रमण के केस में इजाफा हो रहा है। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (New Variants Omicron) ने भी दहशत मचानी शुरू कर दी है। इन सबके बीच अब ओमिक्रॉन वैरिएंट ने भारत में अपना रूप बदल लिया है। बताया जा रहा है कि कोरोना का नया वैरिएंट BA.1 डेल्टा की जगह लेना शुरू कर दिया है लेकिन यह वैरिएंट अभी कुछ राज्यों में देखा गया है।

पढ़ें :- प्रो. पीके मिश्रा का इस्तीफा, तो विनय पाठक पर गंभीर आरोपों के बाद राजभवन की 'मेहरबानी' का क्या है 'राज'?

कोरोना की बढ़ती रफ्तार का जिम्मेदार BA.1 वैरिएंट
वैज्ञानिकों का कहना है कि ओमिक्रॉन से ज्यादा BA.1 वैरिएंट ही देश भर में तेजी से बढ़ रहे केसों के लिए जिम्मेदार है। बायोटेक्नोलॉजी के सीनियर साइंटिस्ट ने बताया कि, ‘हमें कुछ क्लीनिकल सैंपल्स में BA.1 वैरिएंट की मौजूदगी मिली है। ओमिक्रॉन वैरिएंट से जुड़े तीन नए वैरिएंट BA.1, BA.2 और BA.3 सामने आए हैं।

फरवरी तक पीक पर होगी तीसरी लहर
गौरलतब है कि देश में 20 दिसंबर के बाद से ही कोरोना के नए केसों में इजाफा देखने को मिल रहा है। सोमवार को 1.80 लाख नए केसों का आंकड़ा सामने आया है। दिल्ली, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में केसों की संख्या में इजाफा देखने को मिला है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि देश में तीसरी लहर शुरू हो चुकी है और फरवरी तक यह पीक पर होगी।

सरकार ने अपनाया सख्त रवैया
कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण सरकार ने सख्त रवैया अपनाया है। कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है और साथ ही स्कूल और कॉलेजों को भी बंद कर दिया गया है। यही नहीं कोरोना का असर विधानसभा के चुनाव में भी देखने को मिल रहा है। चुनाव आयोग ने रैलियों पर प्रतिबंध लग दिया है। जिसके कारण अब चुनाव प्रचार डिजिटल के माध्यम से किया जाएगा।

रिपोर्ट – प्रिया सिंह

पढ़ें :- Parliament Live : पीएम मोदी, बोले- '2004 से 14 तक घोटालों का दशक, UPA ने मौकों को मुसीबत में पलटा'

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...