स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी ने बताया कब आयेगी कोरोना वैक्सीन, कहीं यह बड़ी बातें

pm
स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी ने बताया कब आयेगी कोरोना वैक्सीन, कहीं यह बड़ी बातें

नई दिल्ली। 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि इस समय देश कोरोना महामाारी से जूझ रहा है। पूरी दुनिया इस बीमारी की वैक्सीन बनाने में जुटी है। इस बीच पीएम ने ऐलान किया है कि देश में कोरोना की तीन वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है।

On Independence Day Pm Modi Told When The Corona Vaccine Will Come Somewhere These Big Things :

उन्होंने कहा कि देश के वैज्ञानिक फिलहाल कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में जुटे हुए हैं, वह तपस्या में जुटे हुए हैं। पीएम ने कहा कि जब भी कोरोना वायरस की बात होती है तो लोग यहीं पूछते हैं कि इसकी वैक्सीन कब बनेगी। पीएम ने कहा कि हमारे देश के वैज्ञानिक ऋषि-मुनि की तरह है, जो फिलहाल लैब में कड़ी तपस्या कर रहे हैं।

पीएम ने कहा कि भारत में कोराना की एक नहीं, दो नहीं, तीन-तीन वैक्सीन्स इस समय टेस्टिंग के चरण में हैं। जैसे ही वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिलेगी, देश की तैयारी उन वैक्सीन की बड़े पैमाने पर उत्पादन की है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि देश में कोरोना की टेस्टिंग किस तरह तेज हुई है।

उन्होंने बताया कि जब कोरोना शुरू हुआ था तब देश में टेस्टिंग के लिए सिर्फ एक लैब थी। आज देश में कोरोना की जांच के लिए 1,400 से ज्यादा लैब हैं। गौरतलब है कि देश में फिलहाल तीन कोरोना वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। इनमें भारत बायोटेक की कोवाक्सिन(Covaxin), जाइडस कैडिला की जाइकोव-डी (Zykov-D) और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन शामिल है। देश की पहली स्वदेशी कोरोना वैक्सीन कोवाक्सिन(Covaxine) का ट्रायल भारत बायोटेक की अगुवाई में देश के कुल 12 सेंटर पर फिलहाल चल रहा है।

 

नई दिल्ली। 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि इस समय देश कोरोना महामाारी से जूझ रहा है। पूरी दुनिया इस बीमारी की वैक्सीन बनाने में जुटी है। इस बीच पीएम ने ऐलान किया है कि देश में कोरोना की तीन वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। उन्होंने कहा कि देश के वैज्ञानिक फिलहाल कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में जुटे हुए हैं, वह तपस्या में जुटे हुए हैं। पीएम ने कहा कि जब भी कोरोना वायरस की बात होती है तो लोग यहीं पूछते हैं कि इसकी वैक्सीन कब बनेगी। पीएम ने कहा कि हमारे देश के वैज्ञानिक ऋषि-मुनि की तरह है, जो फिलहाल लैब में कड़ी तपस्या कर रहे हैं। पीएम ने कहा कि भारत में कोराना की एक नहीं, दो नहीं, तीन-तीन वैक्सीन्स इस समय टेस्टिंग के चरण में हैं। जैसे ही वैज्ञानिकों से हरी झंडी मिलेगी, देश की तैयारी उन वैक्सीन की बड़े पैमाने पर उत्पादन की है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि देश में कोरोना की टेस्टिंग किस तरह तेज हुई है। उन्होंने बताया कि जब कोरोना शुरू हुआ था तब देश में टेस्टिंग के लिए सिर्फ एक लैब थी। आज देश में कोरोना की जांच के लिए 1,400 से ज्यादा लैब हैं। गौरतलब है कि देश में फिलहाल तीन कोरोना वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है। इनमें भारत बायोटेक की कोवाक्सिन(Covaxin), जाइडस कैडिला की जाइकोव-डी (Zykov-D) और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन शामिल है। देश की पहली स्वदेशी कोरोना वैक्सीन कोवाक्सिन(Covaxine) का ट्रायल भारत बायोटेक की अगुवाई में देश के कुल 12 सेंटर पर फिलहाल चल रहा है।