PM की तुलना शिवाजी से करने वाली किताब पर भड़की शिवसेना, बोली- मोदी देश के राजा नही

modi shivaji
PM की तुलना शिवाजी से करने वाली किताब पर भड़की शिवसेना, बोली- मोदी देश के राजा नही

मुम्बई। भाजपा के नेता जय भगवान गोयल ने एक किताब लिखी है जिसको लेकर अब महाराष्ट्र की राजनीति में विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल उन्होने इस किताब में मोदी की ​तुलना महाराष्ट्र के छात्रपति शिवाजी महाराज से की है। इसी को लेकर शिवसेना भड़क गयी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी से करने वाली किताब को शिवसेना ने ‘पाखंड और चाटुकारिता’ की हद बताया है और जोर देकर कहा कि मोदी ‘भारत के राजा’ नहीं हैं।

On The Book Comparing Pm With Shivaji Shiv Sena Was Angry Quote Modi Is Not The King Of The Country :

भारतीय जनता पार्टी के नेता जयभगवान गोयल द्वारा लिखी गयी ‘आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी’ शीर्षक से प्रकाशित किताब पर लगातार महाराष्र्ट की सियासत गर्माती चली जा रही है। जहां शिवसेना के सांसद संजय राउत ने ट्वीट करके इसे महाराष्ट्र में मराठी लोगों का अपमान बताया था वहीं शिवसेना द्वारा सामना में लिखे लेकख में मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी से करने वाली किताब को ढोंग बताया गया है।

शिवसेना ने मुखपत्र में लिखा “नरेंद्र मोदी भारत के राजा नहीं हैं। मुखपत्र सामना में लिखी गयी संपादकीय में शिवसेना ने भाजपा नेताओं को छत्रपति शिवाजी पर कुछ किताबें पढ़ने की सलाह दी। वहीं शिवसेना दावा किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी 17वीं सदी के मराठा योद्धा छत्रपति शिवाजी से तुलना पसंद नहीं आई होगी। शिवसेना का कहना है कि इस मामले को लेकर सभी मराठी आक्रोशित हैं लेकिन ये गुस्सा प्रधानमंत्री के खिलाफ नहीं बल्कि ‘‘आज का शिवाजी: नरेंद्र मोदी” किताब के खिलाफ है।

भाजपा के नेता जय भगवान गोयल की किताब में लिखा गया, ‘‘ मोदी एक कर्तबगार और लोकप्रिय नेता हैं, देश के प्रधानमंत्री के रूप में उनका कोई तोड़ नहीं। ‘आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी’ शीर्षक पर आधारित इस किताब का दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में रविवार को विमोचन किया गया था। शिवसेना ने एक और तंज कसते हुए कहा कि ‘‘अभी जो लोग मोदी को ‘आज के शिवाजी’ के रूप में संबोधित कर रहे हैं इन्हीं लोगों ने लोकसभा चुनाव के पहले मोदी को विष्णु का तेरहवां अवतार माना था। कल विष्णु के अवतार, आज ‘शिवाजी’। ये सरसर इसमें देश, देव और धर्म का अपमान है।

मुम्बई। भाजपा के नेता जय भगवान गोयल ने एक किताब लिखी है जिसको लेकर अब महाराष्ट्र की राजनीति में विवाद खड़ा हो गया है। दरअसल उन्होने इस किताब में मोदी की ​तुलना महाराष्ट्र के छात्रपति शिवाजी महाराज से की है। इसी को लेकर शिवसेना भड़क गयी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी से करने वाली किताब को शिवसेना ने ‘पाखंड और चाटुकारिता’ की हद बताया है और जोर देकर कहा कि मोदी ‘भारत के राजा’ नहीं हैं। भारतीय जनता पार्टी के नेता जयभगवान गोयल द्वारा लिखी गयी 'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' शीर्षक से प्रकाशित किताब पर लगातार महाराष्र्ट की सियासत गर्माती चली जा रही है। जहां शिवसेना के सांसद संजय राउत ने ट्वीट करके इसे महाराष्ट्र में मराठी लोगों का अपमान बताया था वहीं शिवसेना द्वारा सामना में लिखे लेकख में मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी से करने वाली किताब को ढोंग बताया गया है। शिवसेना ने मुखपत्र में लिखा "नरेंद्र मोदी भारत के राजा नहीं हैं। मुखपत्र सामना में लिखी गयी संपादकीय में शिवसेना ने भाजपा नेताओं को छत्रपति शिवाजी पर कुछ किताबें पढ़ने की सलाह दी। वहीं शिवसेना दावा किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी 17वीं सदी के मराठा योद्धा छत्रपति शिवाजी से तुलना पसंद नहीं आई होगी। शिवसेना का कहना है कि इस मामले को लेकर सभी मराठी आक्रोशित हैं लेकिन ये गुस्सा प्रधानमंत्री के खिलाफ नहीं बल्कि ‘‘आज का शिवाजी: नरेंद्र मोदी'' किताब के खिलाफ है। भाजपा के नेता जय भगवान गोयल की किताब में लिखा गया, ‘‘ मोदी एक कर्तबगार और लोकप्रिय नेता हैं, देश के प्रधानमंत्री के रूप में उनका कोई तोड़ नहीं। 'आज के शिवाजी नरेंद्र मोदी' शीर्षक पर आधारित इस किताब का दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में रविवार को विमोचन किया गया था। शिवसेना ने एक और तंज कसते हुए कहा कि ‘‘अभी जो लोग मोदी को ‘आज के शिवाजी' के रूप में संबोधित कर रहे हैं इन्हीं लोगों ने लोकसभा चुनाव के पहले मोदी को विष्णु का तेरहवां अवतार माना था। कल विष्णु के अवतार, आज ‘शिवाजी'। ये सरसर इसमें देश, देव और धर्म का अपमान है।