1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. पूर्व सीएम कमलनाथ के बयान पर मध्यप्रदेश में घमासान, ​मौन धरने पर बैठे सीएम शिवराज और ज्योतिरादित्य सिंधिया

पूर्व सीएम कमलनाथ के बयान पर मध्यप्रदेश में घमासान, ​मौन धरने पर बैठे सीएम शिवराज और ज्योतिरादित्य सिंधिया

On The Statement Of Former Cm Kamal Nath There Is A Fierce Battle In Madhya Pradesh Cm Shivraj And Jyotiraditya Scindia Are Sitting On Silence

By शिव मौर्या 
Updated Date

इंदौर। मध्यप्रदेश में होने वाले उपचुनाव को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच लड़ाई तेज हो गयी है। पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा की महिला प्रत्याशी इमरती देवी को ‘आइटम’ कह दिया था। इसको लेकर वहां की सियासत गर्म हो गयी है। दोनों पार्टियों के नेता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं।

पढ़ें :- मध्यप्रदेश: बाबूलाल चौरसिया कांग्रेस में हुए शामिल, नाथूराम गोडसे की मूर्ति लगाने के कार्यक्रम में थे शामिल

कमलनाथ के इसी बयान के विरोध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज मौन धरने पर बैठ गए हैं। ये धरना करीब दो घंटे तक चलेगा। मुख्यमंत्री के अलावा इंदौर में ज्योतिरादित्य सिंधिया धरने पर बैठे हैं। वहीं भाजपा के अन्य नेता अलग-अलग हिस्सों में मौन प्रदर्शन कर रहे हैं। धरने पर बैठने से पहले शिवराज चौहान ने कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि इस तरह के बयानों को बिलकुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, देश में मां, बहन और बेटियों का सम्मान रखा जाएगा, हम महिलाओं का अपमान बर्दाश्त नहीं करेंगे।

वहीं, राज्यसभा के सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि ऐसे बयान महिलाओं और अनुसूचित जाति के खिलाफ कांग्रेस नेताओं की सोच दर्शाते हैं। सिंधिया ने इंदौर शहर से करीब 30 किलोमीटर दूर कंपेल कस्बे में एक चुनावी सभा में कहा, ‘दलित समाज की नेता और सरपंच पद से शुरूआत कर अपनी अथक मेहनत से मंत्री बनीं इमरती देवी के लिए कमलनाथ कहते हैं कि वह आइटम हैं।

(कांग्रेस नेता) अजय सिंह कहते हैं कि वह जलेबी हैं। महिलाओं और अनुसूचित जाति के विरुद्ध इनकी (कांग्रेस नेताओं) यही सोच और विचारधारा है, जबकि हमारे शास्त्रों में बताया गया है कि जहां नारियों का मान-सम्मान होता है, देवता वहीं विराजते हैं।’

पढ़ें :- दिल्ली सरकार कोरोना की नई लहर को लेकर सतर्क, रिपोर्ट नेगेटिव होने पर ही मिलेगी एंट्री

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...