एक बार फिर इस सोशल नेटवर्किंग प्लेटफ़ार्म के यूजर्स का पासवर्ड हुआ लीक

social sites
एक बार फिर इस सोश्ल नेटवर्किंग प्लेटफ़ार्म के यूजर्स का पासवर्ड हुआ लीक

नई दिल्ली। आए दिन आप किसी न किसी सोश्ल नेटवर्किंग साइट का डाटा लीक होने की खबर सुनते ही होंगे। हाल ही में फेसबुक की स्मावित्व वाली सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम के लाखों यूजर्स के पासवर्ड लीक हो गए हैं। कुछ सप्ताह पहले ही Facebook ने जानकारी दी थी कि पासवर्ड ग्लिच को ठीक कर दिया गया है।

Once Again The Password Of Users Of This Social Networking Platform Leaked :

दरअसल, Facebook ने करीब चार सप्ताह पहले एक बयान जारी करके बताया था कि उसने लाखों यूजर्स के पासवर्ड लीक होने वाली खामी को सुधार लिया है। यही नहीं, फेसबुक में आई इस खामी की वजह से कंपनी के 20 हजार से ज्यादा कर्मचारी लाखों यूजर्स के पासवर्ड प्लेन टेक्स्ट फॉर्मेट में देख सकते थे। बता दें, Facebook में यह खामी इंटरनल सिस्टम में आई थी जिसकी वजह से लाखों यूजर्स के पासवर्ड रीडेबल फॉर्मेट में स्टोर हो गए थे।

वहीं, Facebook से जानकारी ये भी मिली है कि केवल कंपनी ने इंटरनल कर्मचारियों को ही यूजर्स के पासवर्ड दिखाई देते हैं, कोई बाहरी व्यक्ति इन पासवर्ड को एक्सेस नहीं कर सकता है। Facebook ने कल एक ब्लॉग के जरिए इस बात की जानकारी दी है कि इस लीक की वजह से 10 हजार नहीं लाखों Instagram यूजर्स के पासवर्ड प्रभावित हुए हैं।

गौरतलब है कि Facebook ने पहले यह बताया था कि केवल 10 हजार Instagram यूजर्स के पासवर्ड ही इस ग्लिच कि वजह से प्रभावित हुए हैं। फेसबुक ने मार्च में यह भी बताया था कि इस पासवर्ड लीक का सबसे ज्यादा प्रभाव Facebook Lite यूजर्स हुए हैं। लाखों फेसबुक लाइट और Facebook यूजर्स के पासवर्ड इस इंटरर्नल सिक्युरिटी ग्लिच की वजह से प्रभावित हुए हैं।

आपको बता दें, ये पहली बार नहीं जब UpGuard नामक साइबर सिक्युरिटी फर्म ने खुलासा किया है। इससे पहले भी सिक्युरिटी फ़र्म ने एक और बड़े फेसबुक डाटा लीक का खुलासा किया था। Facebook डाटा लीक के बारे में बताते हुए UpGuard ने कहा, 540 मिलियन यानी कि 54 करोड़ Facebook यूजर्स का डाटा थर्ड पार्टी पब्लिक सर्वर में सेव हो गया जिसकी वजह से यूजर्स के डाटा सार्वजनिक हो गए। हालांकि, सिक्युरिटी फर्म ने यह नहीं बताया कि यूजर्स के डाटा का मिस यूज हुआ है कि नहीं। पिछले साल हुए कैम्ब्रिज एनालिटिका डाटा लीक विवाद के बाद से डाटा लीक का यह एक और बड़ा मामला सामने आया है।

नई दिल्ली। आए दिन आप किसी न किसी सोश्ल नेटवर्किंग साइट का डाटा लीक होने की खबर सुनते ही होंगे। हाल ही में फेसबुक की स्मावित्व वाली सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम के लाखों यूजर्स के पासवर्ड लीक हो गए हैं। कुछ सप्ताह पहले ही Facebook ने जानकारी दी थी कि पासवर्ड ग्लिच को ठीक कर दिया गया है। दरअसल, Facebook ने करीब चार सप्ताह पहले एक बयान जारी करके बताया था कि उसने लाखों यूजर्स के पासवर्ड लीक होने वाली खामी को सुधार लिया है। यही नहीं, फेसबुक में आई इस खामी की वजह से कंपनी के 20 हजार से ज्यादा कर्मचारी लाखों यूजर्स के पासवर्ड प्लेन टेक्स्ट फॉर्मेट में देख सकते थे। बता दें, Facebook में यह खामी इंटरनल सिस्टम में आई थी जिसकी वजह से लाखों यूजर्स के पासवर्ड रीडेबल फॉर्मेट में स्टोर हो गए थे। वहीं, Facebook से जानकारी ये भी मिली है कि केवल कंपनी ने इंटरनल कर्मचारियों को ही यूजर्स के पासवर्ड दिखाई देते हैं, कोई बाहरी व्यक्ति इन पासवर्ड को एक्सेस नहीं कर सकता है। Facebook ने कल एक ब्लॉग के जरिए इस बात की जानकारी दी है कि इस लीक की वजह से 10 हजार नहीं लाखों Instagram यूजर्स के पासवर्ड प्रभावित हुए हैं। गौरतलब है कि Facebook ने पहले यह बताया था कि केवल 10 हजार Instagram यूजर्स के पासवर्ड ही इस ग्लिच कि वजह से प्रभावित हुए हैं। फेसबुक ने मार्च में यह भी बताया था कि इस पासवर्ड लीक का सबसे ज्यादा प्रभाव Facebook Lite यूजर्स हुए हैं। लाखों फेसबुक लाइट और Facebook यूजर्स के पासवर्ड इस इंटरर्नल सिक्युरिटी ग्लिच की वजह से प्रभावित हुए हैं। आपको बता दें, ये पहली बार नहीं जब UpGuard नामक साइबर सिक्युरिटी फर्म ने खुलासा किया है। इससे पहले भी सिक्युरिटी फ़र्म ने एक और बड़े फेसबुक डाटा लीक का खुलासा किया था। Facebook डाटा लीक के बारे में बताते हुए UpGuard ने कहा, 540 मिलियन यानी कि 54 करोड़ Facebook यूजर्स का डाटा थर्ड पार्टी पब्लिक सर्वर में सेव हो गया जिसकी वजह से यूजर्स के डाटा सार्वजनिक हो गए। हालांकि, सिक्युरिटी फर्म ने यह नहीं बताया कि यूजर्स के डाटा का मिस यूज हुआ है कि नहीं। पिछले साल हुए कैम्ब्रिज एनालिटिका डाटा लीक विवाद के बाद से डाटा लीक का यह एक और बड़ा मामला सामने आया है।