1. हिन्दी समाचार
  2. साहब! एक बार हमका घर पहुंचाई देवा…हम आपके आगे हाथ जोड़तानी

साहब! एक बार हमका घर पहुंचाई देवा…हम आपके आगे हाथ जोड़तानी

Once Your Home Is Delivered We Will Give You A Hand

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

ऊना: साहब! एक बार हमका घर पहुंचाई देवा…हम आपके आगे हाथ जोड़तानी। यह शब्द ऊना से पैदल यूपी अपने घर लौट रहे उन प्रवासियों के हैं। जिनको ऊना पुलिस ने जलग्रां में रोकते हुए वापिस अपने चर्टर भेजने के निर्देश दे दिए। आंखों में आंसू और रूंदे गले से एक महिला प्रवासी ने पुलिस चौकी इंचार्ज गुरदीप सिंह ने कहा कि साहिब लाकडाऊन के चलते पिछले डेढ़ माह से ऊना में ही फंस गए है। घर पर हमारे बच्चें हमारा इंतजार कर रहे है। जहां पर भी अब खाने को कुछ नहीं बचा है।

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

मकान मालिक किराया की मांग करता है। ऐसे में हमारी आपसे मांग है किसी तरह हमें घर पहुंचा दें, ताकि हम खुशी से रह सके। प्रवासियों ने बताया कि ऊना शहर में हम मजदूरी करके अपना पेट पाल रहे थे, लेकिन लॉकडाऊन के चलते अब पेट पालना मुशिकल हो गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि जिला प्रशासन की ओर से एक बार राशन दिया गया, लेकिन अब राशन भी नहीं मिला है। ऐसे में पिछले दो दिनों से भूखे हैं। उन्होंने बताया कि अपने घर यूपी जाने के लिए पास भी अप्लाई किया, लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं आया, ऐसे में पैदल ही घर जाने का निर्णय लिया।

बता दें कि शनिवार दोपहर करीब 12 बजे हमीरपुर रोड़ पर रहने वाले एक दर्जन से अधिक प्रवासी पैदल ही अपने घर यूपी जाने का निर्णय लिया। इनमें दो बच्चें भी थे। सभी ने अपना सामान सिर पर उठाया और मैहतपुर की ओर चल दिए। रक्कड़ कॉलोनी क्रॉस करते हुए ही ऊना पुलिस को सूचना मिली की कुछ प्रवासी पैदल ही मैहतपुर की ओर जा रहे है। इस पर पुलिस चौकी इंचार्ज गुरदीप सिंह ने तुरंत मौके पर पहुंचे और वापिस पैदल घर लौटने का कारण पूछा।

पूछताछ के दौरान पता चला कि प्रवासियों के पास भी पैसे नहीं है और न ही राशन है। पास के लिए अप्लाई किया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिल पाया। चौकी इंचार्ज ने मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को दी और प्रवासियों को आवश्वासन भी दिया। जिसके बाद सभी को वापिस अपने क्वार्टर जाने के निर्देश दिए। इस पर सभी वापिस अपने क्वार्टर पहुंचे। पुलिस चौकी इंचार्ज गुरदीप सिंह का कहना है कि सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। सभी को जलग्रां से वापिस चर्टर भेज दिया गया। उन्होंने बताया कि मामले की जानकारी उच्चाधिकारियों को भी दी गई है।

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...