ओडीओपी समिट: 4084 लोगों को 1006.94 करोड़ रुपये के ऋण पत्रों का होगा वितरण

odop-satyadev-pachauri
ओडीओपी समिट: 4084 लोगों को 1006.94 करोड़ रुपये के ऋण पत्रों का होगा वितरण

One District One Product Summit In Lucknow News Update

लखनऊ। प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का ऐसा पहला राज्य है, जो ‘एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी)’ के माध्यम से लोगों को रोजगार के अवसर सुलभ करायेगा। प्रदेश के सभी 75 जिलों मे परम्परागत उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार पूरी तरह गम्भीर और संवेदनशील है। उन्होंने अवगत कराया कि ओडीओपी के तहत कल पूरे प्रदेश में 4084 लोगों को 1006.94 करोड़ रुपये के ऋण पत्रों का वितरण किया जायेगा।

पचैरी आज इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में प्रेस प्रतिनिधियों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ओडीओपी योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के प्रति पहल की है। यह योजना मुख्यमंत्री की महात्वाकांक्षी योजना है। उनकी दूरदर्शिता का ही परिणाम है कि पहली बार लघु उद्योग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से समिट का आयोजन किया जा रहा है। विशाल रूप से आयोजित समिट का आयोजन राज्य को नये आयाम प्रदान करेगा।

लघु उद्योग मंत्री ने कहा कि सरकार ने परम्परागत उद्योगों के विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की है। जिसके फलस्वरूप सभी जिलों में प्रसिद्ध उत्पादों को एक मंच देने की व्यवस्था की गई है। इससे उद्यमियों को अपने उत्पादों के विपणन के लिए बेहतर बाजार उपलब्ध होगा, वहीं वे अपने उत्पादों की तकनीक एवं गुणवत्ता में सुधार लाकर निर्यात के क्षेत्र में भी भागीदारी कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश से प्रतिवर्ष 02 लाख करोड़ रुपये निर्यात का लक्ष्य रखा है।

पचौरी ने कहा कि सरकार ने प्रतिवर्ष ओडीओपी के माध्यम से एक लाख लोगों को स्वरोजगार से जोड़ने का लक्ष्य रखा है। लाभार्थियों को सरकार के माध्यम से तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान कराया जायेगा, ताकि वे अपने उत्पादों को बेहतर बना सकें। उन्होंने कहा कि इस महत्वाकांक्षी योजना से ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी उद्यम स्थापित करने के लिए निरंतर प्रेरित हो रहे हैं। सरकार का यह भी प्रयास है कि सभी जनपद अपने-अपने क्षेत्र के उत्पाद में अपनी एक विशेष पहचान कायम करें।

लघु उद्योग मंत्री ने समिट के संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि इसमें आठ तकनीकी सत्रों का आयोजन किया जायेगा। ये सत्र कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण, हस्तशिल्प एवं पर्यटन, हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग तथा क्रेडिट एवं फाइनेंस पर आधारित होंगे। इन सत्रों को विषय विशेषज्ञों के अलावा राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी सम्बोधित करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक सत्र की अध्यक्षता विभागीय मंत्रियों द्वारा की जायेगी।

लखनऊ। प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का ऐसा पहला राज्य है, जो 'एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी)' के माध्यम से लोगों को रोजगार के अवसर सुलभ करायेगा। प्रदेश के सभी 75 जिलों मे परम्परागत उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार पूरी तरह गम्भीर और संवेदनशील है। उन्होंने अवगत कराया कि ओडीओपी के तहत कल पूरे प्रदेश में 4084 लोगों को 1006.94 करोड़ रुपये के ऋण पत्रों का वितरण…