सोनौली: आलू बताकर नेपाल भेज दी करोड़ की प्याज, कारोबारी हिरासत में

images (8)

महराजगंज : भारत से पड़ोसी देश नेपाल में अवैध रूप से आलू के नाम पर प्याज का निर्यात हो रहा है। राजस्व खुफिया निदेशालय लखनऊ की टीम ने शुक्रवार को इस बात का पर्दाफाश करते हुए सोनौली सीमा से एक थोक कारोबारी को हिरासत में ले लिया है।

Onion Worth Crores Sent To Nepal After Telling Potatoes In Business Custody :

अब तक जांच में जो बात सामने आई है, उसके मुताबिक आलू बताकर 3600 क्विंटल प्याज नेपाल भेज दी गई है। प्याज की अनुमानित कीमत दो करोड़ रुपये बताई जा रही है। राजस्व खुफिया निदेशालय लखनऊ की टीम ने भारत व नेपाल में अभिलेखों की जांच कर इस बात की पुष्टि की है।

भारत से नेपाल प्याज की तस्करी को देखते हुए राजस्व खुफिया निदेशालय लखनऊ की टीम शुक्रवार सुबह नगर के जयप्रकाश नगर वार्ड से प्याज के एक थोक कारोबारी सन्नी मद्धेशिया को घर से पूछताछ के लिए उठा लिया।

कुछ लोगों द्वारा युवक को उठाए जाने की सूचना पर हड़कंप मच गया। बाद में जांच के बाद अवैध निर्यात की पुष्टि की बात सामने आई तो लोगों ने पूरा माजरा समझा।

इंस्पेक्टर परमाशंकर यादव ने बताया कि राजस्व खुफिया निदेशालय की टीम ने प्याज कारोबारी को हिरासत में लिया है।

संदेह के घेरे में कस्टम की कार्य प्रणाली भी

अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर सोनौली से प्याज की तस्करी के खुलासे ने कस्टम विभाग की कार्यप्रणाली को भी संदेह के घेरे में ला दिया है. अंतरराष्ट्रीय सीमा से प्रतिबंध के बावजूद प्याज भेजी जाती रही और कस्टम के अधिकारियों को भनक तक न लगी, यह बात सवालों के घेरे में है. अंदेशा यह भी जताया जा रहा है कि क्या यह लापरवाही है या फिर बड़ा खेल.

 

महराजगंज : भारत से पड़ोसी देश नेपाल में अवैध रूप से आलू के नाम पर प्याज का निर्यात हो रहा है। राजस्व खुफिया निदेशालय लखनऊ की टीम ने शुक्रवार को इस बात का पर्दाफाश करते हुए सोनौली सीमा से एक थोक कारोबारी को हिरासत में ले लिया है। अब तक जांच में जो बात सामने आई है, उसके मुताबिक आलू बताकर 3600 क्विंटल प्याज नेपाल भेज दी गई है। प्याज की अनुमानित कीमत दो करोड़ रुपये बताई जा रही है। राजस्व खुफिया निदेशालय लखनऊ की टीम ने भारत व नेपाल में अभिलेखों की जांच कर इस बात की पुष्टि की है। भारत से नेपाल प्याज की तस्करी को देखते हुए राजस्व खुफिया निदेशालय लखनऊ की टीम शुक्रवार सुबह नगर के जयप्रकाश नगर वार्ड से प्याज के एक थोक कारोबारी सन्नी मद्धेशिया को घर से पूछताछ के लिए उठा लिया। कुछ लोगों द्वारा युवक को उठाए जाने की सूचना पर हड़कंप मच गया। बाद में जांच के बाद अवैध निर्यात की पुष्टि की बात सामने आई तो लोगों ने पूरा माजरा समझा। इंस्पेक्टर परमाशंकर यादव ने बताया कि राजस्व खुफिया निदेशालय की टीम ने प्याज कारोबारी को हिरासत में लिया है। संदेह के घेरे में कस्टम की कार्य प्रणाली भी अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर सोनौली से प्याज की तस्करी के खुलासे ने कस्टम विभाग की कार्यप्रणाली को भी संदेह के घेरे में ला दिया है. अंतरराष्ट्रीय सीमा से प्रतिबंध के बावजूद प्याज भेजी जाती रही और कस्टम के अधिकारियों को भनक तक न लगी, यह बात सवालों के घेरे में है. अंदेशा यह भी जताया जा रहा है कि क्या यह लापरवाही है या फिर बड़ा खेल.