सिर्फ इंडियन कपल्स ही करते हैं शादी की पहली रात ये काम !

kju

Only Indian Couples Do This Wedding First Night

शादी के बारे में बात करें तो हर देश में अलग-अलग परंपराएं निभाई जाती हैं। जो मात्र कुछ ही क्षणों में होकर समाप्त भी हो जाती है। पर भारत की बात करें तो यहां पर शादी की तैयारियां कई महीने पहले से ही चलने लगती है और इस दौरान होने वाली रस्में कुछ ही क्षणों की नहीं, बल्कि कई दिनों तक चलती रहती है। इसमें सिर्फ घरवालें ही नहीं बल्कि दूल्हा-दुल्हन भी रस्मों को निभाते-निभाते इतने थक जाते है कि शादी की रात वाले दिन वो अपने जीवन साथी से दो पल प्यार भरी बातें भी नही कर पाते हैं। आज हम आपको भारतीय शादी की इसी पहली रात के बारे में ही बता रहें हैं कि यह रात कैसी गुजरती है।

1. शादी के बाद की पहली रात हर नए जोड़े के लिए खास होती है, एक ओर यह रात एक-दूसरे की नजदिकियों को बढ़ाने वाली रात होती है, तो दूसरी ओर उनकी थकान वाली रात भी हो सकती है। क्योंकि रस्मों को निभाने के चक्कर में हुई थकान के कारण कई नव दंपत्तियों की यह रात सोते हुए ही बीत जाती है।

2. शादी की पहली रात में भारतीय कपल्स अपने साथी के साथ पूरी रात सिर्फ एक-दूसरे की लाइफ से जुड़ी बातों को ही शेयर करते हुए गुजारते हैं, जिससे उनके बीच बना रिश्ता मजबूर हो जाता है।

3. भारत की शादियों में जितनी रस्में शादी के पहले होती है, शादी के बाद भी उन्हें उतनी ही रस्मों को निभाना पड़ता है। ससुराल में जाकर अपना इम्प्रेशन बनाने के लिए दुल्हन को सुबह सबसे पहले जल्दी उठना होता है और रात के समय सभी रिश्तेदारों के बीच रहकर जागते रहने पड़ता है। जिससे दुल्हन को काफी थकान आ जाती है।

4. कुछ न्यू कपल्स तो ऐसे भी होते है जो शादी के दूसरे या तीसरे दिन ही हनीमून पर चले जाते हैं। ऐसे में शादी की पहली रात पैकिंग करने में ही गुजर जाती हैं।


 

 

 

5. कुछ कपल्स शादी की पहली रात में एक दूसरे से नजदीकियां बढ़ाने की अपेक्षा शादी के फंक्शन में आने वाली परेशानियों की बातों को ही करते हुए रात गुजार लेते है। इसके बाद कुछ समय बचता है तो वह एक दूसरे की पसंद ना पसंद के बारे में जानते हुए ही सुबह कर देते है।

6. पूरे समय व्यस्त रहने के बाद कपल्स जब उस पहली रात को एक दूसरे के करीब नहीं आ पाते है, तो वो इसके लिए दूसरे दिन का इंतजार करने में ही अपनी रात गुजार देते हैं और अगली रात का इंतजार करते है।

शादी के बारे में बात करें तो हर देश में अलग-अलग परंपराएं निभाई जाती हैं। जो मात्र कुछ ही क्षणों में होकर समाप्त भी हो जाती है। पर भारत की बात करें तो यहां पर शादी की तैयारियां कई महीने पहले से ही चलने लगती है और इस दौरान होने वाली रस्में कुछ ही क्षणों की नहीं, बल्कि कई दिनों तक चलती रहती है। इसमें सिर्फ घरवालें ही नहीं बल्कि दूल्हा-दुल्हन भी रस्मों को निभाते-निभाते इतने थक जाते है कि…