1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Operation Blue Star Anniversary : अकाल तख्त के चीफ ज्ञानी हरप्रीत सिंह बोले- सिख लें हथियार चलाने की ट्रेनिंग

Operation Blue Star Anniversary : अकाल तख्त के चीफ ज्ञानी हरप्रीत सिंह बोले- सिख लें हथियार चलाने की ट्रेनिंग

Operation Blue Star Anniversary : ऑपरेशन ब्लू स्टार  बरसी (Operation Blue Star Anniversary ) के मौके पर सोमवार को स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) में खालिस्तानी नारे (Khalistani slogans) लगाए जाने की घटना सामने आई है। इसी बीच अकाल तख्त के जत्थेदार के बयान ने विवाद पैदा कर दिया है। उन्होंने कहा कि सभी सिखों को हथियार चलाने की ट्रेनिंग मिलना जरूरी है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Operation Blue Star Anniversary : ऑपरेशन ब्लू स्टार  बरसी (Operation Blue Star Anniversary ) के मौके पर सोमवार को स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) में खालिस्तानी नारे (Khalistani slogans) लगाए जाने की घटना सामने आई है। इसी बीच अकाल तख्त के जत्थेदार के बयान ने विवाद पैदा कर दिया है। उन्होंने कहा कि सभी सिखों को हथियार चलाने की ट्रेनिंग मिलना जरूरी है।

पढ़ें :- Sidhu Moosewala: सिद्धू मूसेवाला के गांव श्रद्धांजलि देने पहुंचे राहुल गांधी, परिवार को बंधाया ढांढस

जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह (Jathedar Giani Harpreet Singh) ने कहा कि सिखों को ट्रेनिंग अकादमी शुरू करनी चाहिए, जिसमें लोगों को यह बताया जाए कि वे कैसे हथियार चला सकते हैं? अकाल तख्त सिखों की 5 अथॉरिटीज में से एक है। इसका केंद्र अमृतसर स्थित स्वर्ण मंदिर (Golden Temple) में है। ऐसे में इसकी राय को बेहद अहम माना जाता रहा है।

यह बात ज्ञानी हरप्रीत सिंह (Giani Harpreet Singh) ने स्वर्ण मंदिर के बाहर ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में कही है। इसी कार्यक्रम में खालिस्तानी नारे लगने की बात भी कही जा रही है। इस दौरान सिख कैदियों को भी जेलों से रिहा करने की मांग उठाई गई। हरप्रीत सिंह (Harpreet Singh)ने इस मौके पर कहा कि सिखों को कभी भी आजादी नहीं मिली। सिखों को राजनीतिक, आर्थिक और सामाजिक रूप से कमजोर करने के प्रयास किए जा रहे हैं। हमें धार्मिक रूप से मजबूत होने की जरूरत है। इस बार पुलिस को तैनात कर सरकार ने सिखों को कंट्रोल करने की कोशिश की है।’

 

ज्ञानी हरप्रीत सिंह (Giani Harpreet Singh) ने कहा कि सूबे में जिस तरह से अपराध बढ़ रहे हैं। उस स्थिति में हर धर्म के लोगों को यह हक है कि वे अपने लोगों की रक्षा कर सकें। ज्ञानी हरप्रीत सिंह (Giani Harpreet Singh) ने कहा कि सिखों को हथियार चलाने की ट्रेनिंग मिलनी चाहिए। उनका यह बयान ऐसे वक्त में आया है, जब करीब एक सप्ताह पहले ही पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला (Punjabi Singer Sidhu Moosewala) की हत्या हुई है। उनके मर्डर के बाद ही पटना साहिब से जुड़े धर्मगुरु ने भी ऐसी ही बात कही थी।

पढ़ें :- Operation Blue Star Anniversary : स्वर्ण मंदिर में लगे खालिस्तान समर्थक नारे, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

बता दें कि पिछले दिनों केंद्र सरकार की ओर से ज्ञानी हरप्रीत सिंह (Giani Harpreet Singh)को जेड सिक्युरिटी (Z Security) भी दी गई थी, लेकिन उन्होंने इसे खारिज कर दिया था। उनका कहना था कि जेड सिक्युरिटी (Z Security) के चलते उनका कामकाज प्रभावित होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...