नशीली दवाओं की सप्लाई करने वाले सरगने की खुली पोल, 11 राज्यों तक जाती थी नशीली दवाएं

medicines

आगरा। कोरोना महामारी में जहां आज पूरा देश लड़ रहा है वहीं कुछ बातें एसी सामने आती हैं जो दिल दहला देने वाली होती है। हाल ही में बरनाला में नशीली दवाओं के सप्लायर और उसके गैंग के लोगों को आगरा पुलिस ने पकड़ लिया उसके बाद पंजाब पुलिस टीम यहां पहुंच गई। न्यू आगरा के कमला नगर व अन्य इलाकों में छापामारी करके पुलिस ने तीन युवकों को धर दबोचा है। इनमें से एक इस गैंग में सामिल है। वह व्यक्ति वहां का प्रचलित दवा का व्यवसायी है। पंजाब पुलिस की इस छापेमारी से आगरा के दवा कारोबारियों में खलबली मच गइ है। पूरे बाजार में छापेमारी की खबर आग की तरह फैल गई है।

Opinion Of Drug Lord Gangster 11 States Used To Go To Drugs :

यही नहीं बल्की आगरा का यह गैंग 11 राज्यों में नशीली दवाइयों की सप्लाई करता है। बरनाला व मोगा से पुलिस ने गिरोह के 20 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। और उनके पास से 27,62,137 नशीली गोलियां, कैप्सूल, टीके व सीरप की बोतलें और 70,03,800 रुपये ड्रग मनी बरामद की है।

हवाला से तस्करी का नेटवर्क चलाने वाले गिरोह के पर्दाफाश में दो माह का समय लगा। गिरफ्तार लोगों में पंजाब से 16, उत्तर प्रदेश से दो और हरियाणा व दिल्ली से एक-एक व्यक्ति शामिल हैं। यह गिरोह दवा उत्पादकों, सप्लायरों, थोक दवा विक्रेताओं और रिटेल केमिस्टों के साथ मिलकर बड़ी मात्रा में नशीली दवाएं बाजार में सप्लाई कर रहा था। गिरोह के सदस्य मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव (एमआर) बन कर तस्करी करते थे। गिरफ्तार हरीश ने बताया कि वह दिल्ली का रहने वाला है।

पुलिस की सख्ती से पूछताछ के बाद उसने बताया कि वह हरीपर्वत क्षेत्र के खटीकपाड़ा का रहने वाला है। उससे पूछताछ के बाद शनिवार सुबह पंजाब के बरनाला पुलिस की टीम न्यू आगरा थाने पहुंच गई। स्थानीय पुलिस को साथ लेकर कमला नगर में एक दवा व्यवसायी के यहां छापा मारा। उसको पकडऩे के बाद पुलिस ने दो अन्य युवकों को उठाया। तीनों से पंजाब पुलिस पूछताछ कर रही है। इसके बाद नशीली दवाओं की बरामदगी को गोदामों में छापामारी की जा सकती है। इंस्पेक्टर न्यू आगरा उमेश चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि पंजाब पुलिस की टीम ने थाने में आमद कराने और तीन युवकों को पकडऩे की पुष्टि की है।

आगरा। कोरोना महामारी में जहां आज पूरा देश लड़ रहा है वहीं कुछ बातें एसी सामने आती हैं जो दिल दहला देने वाली होती है। हाल ही में बरनाला में नशीली दवाओं के सप्लायर और उसके गैंग के लोगों को आगरा पुलिस ने पकड़ लिया उसके बाद पंजाब पुलिस टीम यहां पहुंच गई। न्यू आगरा के कमला नगर व अन्य इलाकों में छापामारी करके पुलिस ने तीन युवकों को धर दबोचा है। इनमें से एक इस गैंग में सामिल है। वह व्यक्ति वहां का प्रचलित दवा का व्यवसायी है। पंजाब पुलिस की इस छापेमारी से आगरा के दवा कारोबारियों में खलबली मच गइ है। पूरे बाजार में छापेमारी की खबर आग की तरह फैल गई है। यही नहीं बल्की आगरा का यह गैंग 11 राज्यों में नशीली दवाइयों की सप्लाई करता है। बरनाला व मोगा से पुलिस ने गिरोह के 20 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। और उनके पास से 27,62,137 नशीली गोलियां, कैप्सूल, टीके व सीरप की बोतलें और 70,03,800 रुपये ड्रग मनी बरामद की है। हवाला से तस्करी का नेटवर्क चलाने वाले गिरोह के पर्दाफाश में दो माह का समय लगा। गिरफ्तार लोगों में पंजाब से 16, उत्तर प्रदेश से दो और हरियाणा व दिल्ली से एक-एक व्यक्ति शामिल हैं। यह गिरोह दवा उत्पादकों, सप्लायरों, थोक दवा विक्रेताओं और रिटेल केमिस्टों के साथ मिलकर बड़ी मात्रा में नशीली दवाएं बाजार में सप्लाई कर रहा था। गिरोह के सदस्य मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव (एमआर) बन कर तस्करी करते थे। गिरफ्तार हरीश ने बताया कि वह दिल्ली का रहने वाला है। पुलिस की सख्ती से पूछताछ के बाद उसने बताया कि वह हरीपर्वत क्षेत्र के खटीकपाड़ा का रहने वाला है। उससे पूछताछ के बाद शनिवार सुबह पंजाब के बरनाला पुलिस की टीम न्यू आगरा थाने पहुंच गई। स्थानीय पुलिस को साथ लेकर कमला नगर में एक दवा व्यवसायी के यहां छापा मारा। उसको पकडऩे के बाद पुलिस ने दो अन्य युवकों को उठाया। तीनों से पंजाब पुलिस पूछताछ कर रही है। इसके बाद नशीली दवाओं की बरामदगी को गोदामों में छापामारी की जा सकती है। इंस्पेक्टर न्यू आगरा उमेश चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि पंजाब पुलिस की टीम ने थाने में आमद कराने और तीन युवकों को पकडऩे की पुष्टि की है।