1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Cheap Gold खरीदने का मौका आज फिर से, अगले पांच दिनों तक इस योजना का उठाएं लाभ

Cheap Gold खरीदने का मौका आज फिर से, अगले पांच दिनों तक इस योजना का उठाएं लाभ

केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) एक बार फिर देश की जनता को सस्ता सोना (Cheap Gold) खरीदने का मौका दे रही है। निवेशक 30 अगस्त यानी सोमवार से सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond) योजना के तहत बाजार मूल्य से कम दाम में सोना खरीद सकते हैं। यह योजना सिर्फ पांच दिन के लिए यानी 3 सितंबर तक खुली है। इसलिए अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो देर न करें।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) एक बार फिर देश की जनता को सस्ता सोना (Cheap Gold) खरीदने का मौका दे रही है। निवेशक 30 अगस्त यानी सोमवार से सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond) योजना के तहत बाजार मूल्य से कम दाम में सोना खरीद सकते हैं। यह योजना सिर्फ पांच दिन के लिए यानी 3 सितंबर तक खुली है। इसलिए अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो देर न करें।

पढ़ें :- Gold Price Today : रिकॉर्ड लेवल से 9500 रुपये सस्ता हुआ सोना, यहां चेक करें आज का भाव
Jai Ho India App Panchang

इसकी बिक्री पर होने वाले लाभ पर आयकर नियमों के तहत छूट के साथ और कई लाभ मिलेंगे। सरकार की ओर से गोल्ड बॉन्ड (Gold Bond)में निवेश के लिए यह वित्त वर्ष 2021-22 की छठी श्रृंखला है। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में बताया था कि सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond)  मई से लेकर सितंबर के बीच छह किस्तों में जारी किए जाएंगे।

जानें कितनी है सोने की कीमत

योजना के तहत आप 4,732 रुपये प्रति ग्राम पर सोना खरीद सकते हैं। यानी अगर आप 10 ग्राम सोने खरीदते हैं तो उसकी कीमत 47,320 रुपये बैठती है। बता दें कि गोल्ड बॉन्ड की खरीद ऑनलाइन तरीके से की जाती है। तो सरकार ऐसे निवेशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की अतिरिक्त छूट देती है। इसमें आवेदनों के लिए भुगतान ‘डिजिटल मोड’ के माध्यम से किया जाना है। ऑनलाइन सोना खरीदने पर निवेशकों को प्रति ग्राम सोना 4,682 रुपये का पड़ेगा। ऐसे में आपको 46,820 रुपये में 10 ग्राम सोना मिल जाएगा।

जानें कितना मिलेगा ब्याज

पढ़ें :- Gold Price Today : सोने फिसला व चांदी भी टूटी, जानें क्या है आज का रेट

गोल्ड बॉन्ड की परिपक्वता अवधि आठ साल की होती है और इस पर सालाना 2.5 फीसदी का ब्याज मिलता है। बॉन्ड पर मिलने वाला ब्याज निवेशक के टैक्स स्लैब के अनुरूप कर योग्य होता है, लेकिन इस पर स्रोत पर कर कटौती (TDS) नहीं होती है।

यहां कर सकते हैं निवेश

स्वर्ण बॉन्ड बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एसएचसीआईएल), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों (एनएसई और बीएसई) के माध्यम से बेचा जाएगा। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना (Sovereign Gold Bond) नवंबर 2015 में शुरू की गई थी, जिसका उद्देश्य सोने की हाजिर मांग को कम करना था और सोने की खरीद के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले घरेलू बचत के एक हिस्से को वित्तीय बचत में तब्दील करने के लिए किया गया था।

जानें कितना होना चाहिए न्यूनतम निवेश

बॉन्ड का अंकित मूल्य 999 शुद्धता वाले सोने के लिए पिछले तीन कामकाजी दिवसों में साधारण औसत बंद भाव (इंडिया बुलियन एंड जूलर्स एसोसिशन द्वारा प्रकाशित) मूल्य पर आधारित है। न्यूनतम स्वीकार्य निवेश एक ग्राम सोना और अधिकतम चार किलोग्राम प्रति व्यक्ति है। हिंदु अविभाजित परिवार के लिए भी निवेश की अधिकतम सीमा चार किलोग्राम है। ट्रस्ट्स के लिए यह 20 किलोग्राम है।

पढ़ें :- Gold Price Today : कीमती धातुओं में भारी गिरावट,Gold 8 हजार रुपये हुआ सस्ता, यहां चेक करें रेट्स

मालूम हो कि वर्ष 2015 में शुरू एसजीबी योजना से मार्च 2021 के अंत तक कुल 25,702 करोड़ रुपये जुटाए गए हैं। रिजर्व बैंक ने 2020-21 के दौरान 16,049 करोड़ रुपये (32.35 टन) की कुल राशि के लिए एसजीबी की 12 श्रृंखलाएं जारी की थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...