लोकसभा में विपक्ष ने लगाये नारे- ‘गोली मारना बंद करो, देश को तोड़ना बंद करो’

anurag thakur
लोकसभा में विपक्ष ने लगाये नारे- 'गोली मारना बंद करो, देश को तोड़ना बंद करो'

नई दिल्ली। बीते शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद में आर्थिक सर्वे पर अभिभाषण दिया था जिसके बाद 1 फरवरी शनिवार को संसद में केन्द्र सरकार ने बजट पेश किया। आज संसद राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होनी थी। लेकिन जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई तो विपक्ष ने हंगामा करना चालू कर दिया। विपक्ष ने शाहीन बाग, जामिया हिंसा, सीएए, एनआरसी को लेकर जमकर हंगामा किया।

Opposition Slogans In Lok Sabha Stop Shooting Stop Smashing The Country :

लोकसभा में जैसे ही एक सवाल का जवाब देने के लिए वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर खेड़े हुए वैसे ही विपक्ष ने गोली मारना बंद करो के नारे लगाकर उनका विरोध किया। वहीं हंगामे के कारण 12 बजे तक के लिए राज्यसभा स्थगित हो गई है। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, कोदिकुन्निल सुरेश और सांसद गौरव गोगोई ने स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है। इन नेताओं का कहना है कि लोकसभा के अंदर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पूरे देश में हो रहे विरोध प्रदर्शन पर चर्चा की जाए।

विपक्ष के नेताओं ने अनुराग ठाकुर के खड़े होते ही ‘गोली मारना बंद करो’ के नारे इसलिए लगाये क्योंकि राज्य मंत्री ने एक जनसभा के दौरान भीड़ को गोली मारो, …… को के नारे लगाए थे। वहीं इस बयान के बाद से जामिया और शाहीन बाग में गोली चलाने की घटनाएं सामने आ चुकी है। हालांकि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इस दौरान सभी विपक्षी सांसदों को समझाने की कोशिश की लेकिन सांसदो ने नारेबाजी बंद नही की।

आपको बता दें कि राज्यसभा की कार्यवाही भी दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी। कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों ने स्थगन प्रस्ताव का नोटिस देकर सीएए के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन और जामिया में लगातार हो रही गोलीबारी को लेकर देश के सुरक्षा जैसे मुद्दों पर चर्चा कराने की मांग की थी। वहीं बहुजन समाज पार्टी की तरफ से सतीश चंद्र मिश्रा ने राज्यसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस देकर संशोधित नागरिकता कानून पर चर्चा के लिए नोटिस दिया है। वो अविलंब इस कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। जबकि कांग्रेस ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत नोटिस दिया है।

नई दिल्ली। बीते शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संसद में आर्थिक सर्वे पर अभिभाषण दिया था जिसके बाद 1 फरवरी शनिवार को संसद में केन्द्र सरकार ने बजट पेश किया। आज संसद राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होनी थी। लेकिन जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई तो विपक्ष ने हंगामा करना चालू कर दिया। विपक्ष ने शाहीन बाग, जामिया हिंसा, सीएए, एनआरसी को लेकर जमकर हंगामा किया। लोकसभा में जैसे ही एक सवाल का जवाब देने के लिए वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर खेड़े हुए वैसे ही विपक्ष ने गोली मारना बंद करो के नारे लगाकर उनका विरोध किया। वहीं हंगामे के कारण 12 बजे तक के लिए राज्यसभा स्थगित हो गई है। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, कोदिकुन्निल सुरेश और सांसद गौरव गोगोई ने स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है। इन नेताओं का कहना है कि लोकसभा के अंदर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पूरे देश में हो रहे विरोध प्रदर्शन पर चर्चा की जाए। विपक्ष के नेताओं ने अनुराग ठाकुर के खड़े होते ही 'गोली मारना बंद करो' के नारे इसलिए लगाये क्योंकि राज्य मंत्री ने एक जनसभा के दौरान भीड़ को गोली मारो, ...... को के नारे लगाए थे। वहीं इस बयान के बाद से जामिया और शाहीन बाग में गोली चलाने की घटनाएं सामने आ चुकी है। हालांकि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इस दौरान सभी विपक्षी सांसदों को समझाने की कोशिश की लेकिन सांसदो ने नारेबाजी बंद नही की। आपको बता दें कि राज्यसभा की कार्यवाही भी दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी। कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों ने स्थगन प्रस्ताव का नोटिस देकर सीएए के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन और जामिया में लगातार हो रही गोलीबारी को लेकर देश के सुरक्षा जैसे मुद्दों पर चर्चा कराने की मांग की थी। वहीं बहुजन समाज पार्टी की तरफ से सतीश चंद्र मिश्रा ने राज्यसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस देकर संशोधित नागरिकता कानून पर चर्चा के लिए नोटिस दिया है। वो अविलंब इस कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। जबकि कांग्रेस ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत नोटिस दिया है।