1. हिन्दी समाचार
  2. नीतीश की रैली में कम हुई भीड़ तो विपक्ष ने कसा तंज- ‘पहाड़ खोदने के बाद चुहिया भी नहीं निकली’

नीतीश की रैली में कम हुई भीड़ तो विपक्ष ने कसा तंज- ‘पहाड़ खोदने के बाद चुहिया भी नहीं निकली’

Opposition Tightened When Nitishs Rally Decreased Even After Digging The Mountain The Chuhiya Did Not Come Out

पटना। चंद महीनो बाद ही बिहार में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में सभी पार्टियों ने अपनी अपनी कमर कस ली है और एक दूसरे पर मुंहजुबानी जंग शुरू हो गयी है। रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जन्मदिन पर पटना के गांधी मैदान में जेडीयू का कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया गया था जहां आंकड़े के मुताबिक थोड़ा कम भीड़ दिखी तो विपक्ष ने तंज कसना शुरू कर दिया।

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

बिहार में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने ट्विटर पर रैली की फोटो पोस्ट करते हुए कटाक्ष किया, ‘मुख्यमंत्री नीतीश जी के जन्मदिन के शुभ उपलक्ष्य पर पटना के गांधी मैदान में आयोजित महारैला सह महानुक्कड़ सभा सह महाकार्यकर्ता सम्मेलन की महासफलता पर महाबधाई। 200 सीट जीतने का दावा करने वाले सत्ताबल, धनबल, बाहुबल एवं अश्लील नाच-गाने के बावजूद प्रत्येक विधानसभा से 50 लोग भी नहीं ला पाए।’

वहीं हाल ही में विपक्षी महागठबंधन में शामिल हुए रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने रैली पर तंज कसते हुए कहा ‘यहां तो हालत यह है कि पहाड़ खोदने के बाद चुहिया भी नहीं निकली’। कुशवाहा ने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार पूरी तरह बेनकाब हो गए और अब भीड़ की चुहिया तलाशने में जुटे हैं। उनका आरोप है कि नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ मिल देश में सीएए लागू करवाया है और बिहार के युवाओं, पिछड़ों, महादलितों और अल्पसंख्यकों को छला है इसलिए आज उनके पीछे उनके कार्यकर्ता भी नहीं खड़े हैं।

दूसरी तरफ कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने जदयू के कार्यकर्ता सम्मेलन को सुपर फ्लॉप शो करार देते हुए कटाक्ष किया कि विगत 15 वर्षों से नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री हैं इसके बावजूद गांधी मैदान का दसवां हिस्सा भी उनके पार्टी के लोगों के द्वारा सत्ता का कथित दुरुपयोग करके भी नहीं भरा जा सका।
उन्होने कहा कि नीतीश को आत्ममंथन करना चाहिए कि आखिर उन्होंने 15 वर्षों तक गद्दी में बैठकर क्या काम किया कि उन्हें सुनने के लिए लोग गांधी मैदान नहीं पहुंच सके।

बता दें कि जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने अपनी पार्टी के इस कार्यकर्ता सम्मेलन में दो लाख लोगों के आने का दावा किया था। इसी दौरान जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश ने अपनी पार्टी द्वारा आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में प्रचंड जीत की भविष्यवाणी की और कहा कि राजग लड़ेगा और हमलोग 200 से अधिक सीटें जीतेंगे।

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...