1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. सीबीआई कोर्ट से लालू यादव की रिहाई का आदेश जारी,जमा किया 10 लाख जुर्माना राशि

सीबीआई कोर्ट से लालू यादव की रिहाई का आदेश जारी,जमा किया 10 लाख जुर्माना राशि

सीबीआई कोर्ट (CBI Court) ने गुरुवार को चारा घोटाले से जुड़े डोरंडा मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की जमानत का आदेश जारी कर दिया है। बता दें कि इससे पहले लालू यादव  (Lalu Yadav) ने रिहाई के लिए 10 लाख रुपये कोर्ट में जमा (Deposited 10 Lakh Fine Amount) कर दिए हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। सीबीआई कोर्ट (CBI Court) ने गुरुवार को चारा घोटाले (Fodder Scam) से जुड़े डोरंडा मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की जमानत का आदेश जारी कर दिया है। बता दें कि इससे पहले लालू यादव  (Lalu Yadav) ने रिहाई के लिए 10 लाख रुपये कोर्ट में जमा (Deposited 10 Lakh Fine Amount) कर दिए हैं।

पढ़ें :- India vs New Zealand: न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज से पहले धोनी ने दिया जीत का मंत्र! खिलाड़ियों से मुलाकात की Video आई सामने

झारखंड हाई कोर्ट (Jharkhand High Court) से बुधवार को बेल बॉन्ड (Bail Bonds) निचली अदालत में भेज दिया गया था। लालू प्रसाद (Lalu Prasad )  के वकील प्रभात कुमार ने बताया कि बेल बॉन्ड भर दिया है। अब उन्हें कभी भी जेल से जमानत पर रिहा किया जा सकता है।

 

डोरंडा केस में मिली है जमानत

लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav)  को चारा घोटाले (Fodder Scam)  से जुड़े डोरंडा ट्रेजरी (Doranda Treasury) मामले में जमानत मिली है। यह मामला डोरंडा कोषागार (Doranda Treasury) से 139 करोड़ रुपये की निकासी का है। 1990 से 1995 के बीच डोरंडा कोषागार से 139 करोड़ रुपये की निकासी की गई थी। 27 साल बाद कोर्ट ने इसी साल फरवरी में इस घोटाले पर फैसला सुनाया था, जिसमें लालू यादव (Lalu Yadav) को दोषी पाया गया था। इस मामले में लालू यादव (Lalu Yadav) को पांच साल की सजा हुई है।

पढ़ें :- Lucknow Alaya Apartment News: रेस्क्यू के दौरान अलाया अपार्टमेंट के मलबे से एक और महिला का शव मिला

अब   नीतीश  ने  दिया इफ्तार का न्योता

इधर राजद के बाद नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पार्टी जदयू ने लालू यादव (Lalu Yadav), राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) को इफ्तार पार्टी का न्योता भेजा है। इससे पहले राबड़ी देवी (Rabri Devi) के आवास पर 22 अप्रैल को हुई इफ्तार पार्टी में नीतीश कुमार (Nitish Kumar)  ने पहुंचकर सबको चौंका दिया था।

30 अप्रैल को पटना आ सकते हैं लालू

लालू यादव (Lalu Yadav) को हाई कोर्ट से जमानत तो मिल गई है,लेकिन अभी उनका दिल्ली एम्स में इलाज चल रहा है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि वह एम्‍स से डिस्‍चार्ज होकर 30 अप्रैल की शाम तक पटना पहुंच सकते हैं।

तेज प्रताप की नाराजगी पर हो सकती है बात

पढ़ें :- सपा के विकासशील कार्यों का विरोध करते-करते भाजपा यूपी की जनता की ख़ुशियों की ही विरोधी हो गयी: अखिलेश यादव

कार्यकर्ता से मारपीट के मामले में घिरे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) पार्टी से इस्तीफा देने का एलान कर चुके हैं। उन्होंने इस संबंध में ट्वीट किया, ‘मैंने अपने पिता के नक्शे कदम पर चलने का काम किया। सभी कार्यकर्ताओं को सम्मान दिया, जल्द ही अपने पिता से मिलकर अपना इस्तीफा दूंगा। पार्टी के युवा प्रकोष्ठ के पटना महानगर के अध्यक्ष रामराज यादव ने तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) पर राबड़ी देवी (Rabri Devi) के आवास पर इफ्तार पार्टी के दौरान कमरे में बंद करके उनकी पिटाई व गालियां देने का आरोप लगाया है। यह भी बताया कि तेज प्रताप ने पार्टी न छोड़ने पर दस दिन के अंदर गोली मरवाने की धमकी दी है। वहीं तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने खुद को बेकसूर बताया है।

इन मामले में मिल चुकी है जमानत

चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ और फिर 33 करोड़ की अवैध निकासी मामले में 5 -5 साल की सजा हुई थी. आधी अवधि काटने के बाद से लालू बेल पर हैं।

देवघर कोषागार से 79 लाख रुपये अवैध निकासी के मामले में उन्हें साढ़े 3 साल की सजा हुई थी। उस मामले में भी वह आधी अवधि और खराब स्वास्थ्य के आधार पर बेल पर हैं।

दुमका कोषागार से 3.13 करोड़ की अवैध निकासी के मामले में लालू को अलग-अलग धाराओं में 7-7 साल की सजा सुनाई गई थी। इस केस में उन्हें अप्रैल 2021 में झारखंड हाईकोर्ट से बेल मिल गई थी।

पढ़ें :- शाहरुख खान ने दी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं, कहा-हमें वह सब संजोना चाहिए जो हमारे संविधान ने हमें दिया
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...