1. हिन्दी समाचार
  2. ऑस्ट्रेलिया में 10 हजार ऊंटों को गोली मारने का आदेश, जानें वजह

ऑस्ट्रेलिया में 10 हजार ऊंटों को गोली मारने का आदेश, जानें वजह

Order To Shoot 10 Thousand Camels In Australia Know The Reason

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। आमतौर पर आपने देखा होगा कि दुनियाभर में जीव-जंतुओं को बचाने की कोशिश होती है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया में आदिवासी नेताओं के एक फैसले ने सबको हैरान कर दिया है। मिली जानकारी के अनुसार सूखाग्रस्त क्षेत्र में पीने के पानी को बचाने के उद्देश्य से दक्षिण ऑस्ट्रेलिया में जंगली ऊंट मारे जाएंगे। हेलीकॉप्टरों में पेशेवर शूटरों द्वारा 10,000 से अधिक ऊंटों को मार दिया जाएगा. इस काम में पांच दिन लगने की उम्मीद है।

पढ़ें :- फ्रांस के राष्ट्रपति को लेकर भारत में हो रहे प्रदर्शन पर बोले रामदेव-खतरा है आतंकवाद और कट्टरवाद से

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले कुछ आदिवासी समुदायों की शिकायत है कि जंगली ऊंट पानी की तलाश में उनके इलाके में आते हैं और उनकी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाते हैं। इसी शिकायत के बाद ऊंटों को मारने का फैसला लिया गया है, यह काम बुधवार से शुरू किया जाएगा, जिसमें पेशेवर निशानेबाज हेलीकॉप्टर से ऊंटों का शिकार करेंगे। ऑस्ट्रेलिया के राष्ट्रीय जंगली ऊंट प्रबंधन योजना का दावा है कि अगर ऊंटों को लेकर कोई रोकथाम योजना नहीं लाई गई तो यहां जंगली ऊंटों की आबादी हर नौ साल में दोगुनी हो जाएगी।

कार्बन फार्मिंग विशेषज्ञ रेजेनको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिम मूर का कहना है कि एक लाख जंगली ऊंट प्रति वर्ष जितनी कार्बन डाइऑक्साइड के बराबर मीथेन का उत्सर्जन करते हैं, वह सड़क पर चलने वाली अतिरिक्त चार लाख कारों के बराबर है। हालांकि ऊर्जा एवं पर्यावरण विभाग का कहना है कि जंगली जानवरों के उत्सर्जन को देश के उत्सर्जन अनुमान में नहीं माना जाना चाहिए क्योंकि वे घरेलू प्रबंधन के तहत नहीं हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...