पूर्वसैनिक खुदकुशी मामला: पीडित परिवार से मिलने पहुंचे राहुल को गेट पर ही रोक दिया गया

Orop Delhi Rahul Gandhi Manish Sisodia Arvind Kejriwal

नयी दिल्ली : राजधानी में वन रैंक-वन पेंशन की मांग के लिए प्रदर्शन कर रहे एक पूर्व सैनिक ने आत्महत्या कर ली है। सुबेदार रामकिशन ग्रेवाल अपने कुछ साथियों के साथ सोमवार से जंतर-मंतर पर धरना दे रहे थे। बुधवार सुबह वे रक्षामंत्री को ज्ञापन सौंपने जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही जहर खाकर आत्महत्या कर ली। इस घटना के बाद इस पर राजनीति भी शुरू हो चुकी है। जहां एक तरफ आम आदमी पार्टी के नेता और उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया आरएमएल अस्‍पताल पहुंचे वहीं राहुल गांधी भी यहां मृतक के परिजनों से मिलने आए लेकिन उन्‍हें अस्‍पताल के अंदर नहीं जाने दिया गया। राहुल गांधी को गेट पर ही रोक दिया गया जिसके बाद वे भड़क गए. उन्होंने कहा कि ये कैसा देश बनाकर रख दिया है जहां मैं पीडि़त परिवार से मिल भी नहीं सकता… यह नया हिंदुस्तान बन रहा है… खबर है कि पीडित परिवार राहुल गांधी से मिलने गेट के बाहर आ रहे हैं।




मामले को लेकर आज सुबह आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मोदी सरकार पर हमला किया। खबर है कि पीडित परिवार से मिलने अस्पताल पहुंचे दिल्ली के उपमुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया को हिरासत में ले लिया गया है। सिसोदिया के हिरासत में लिए जाने की खबर के बाद केजरीवाल ने ट्वीट किया कि अगर अपने राज्य में किसी की मौत पर उप मुख्यमंत्री परिवार को सांत्वना देने जाए तो क्या उसे गिरफ़्तार किया जाएगा? गुंडागर्दी की हद है मोदी जी….हिरासत में लिये जाने के बाद सिसादिया ने ट्वीट किया कि एक पूर्व सैनिक केंद्र सरकार की हरकतों की वजह से आत्महत्या कर लेता है और उसके परिवार से बात करने पर मुझे हिरासत में लिया जाता है….हद है! सैनिकों की बहादुरी पर सीना ठोककर अपनी वाहवाही में लगे प्रधानमंत्री जी! आज एक पूर्व सैनिक ने आत्महत्या कर ली है… इसकी जवाबदेही किसकी है?




वहीं, आप नेता कुमार विश्वास ने भी पूर्व सैनिक की खुदकुशी मामले में मोदी सरकार पर हमला बोला है। ‘जंतर मंतर पर देश के सैनिक ने सेना के पराक्रम को छाती पर सजाने वालों के नाम ख़त लिखकर आत्महत्या कर ली है,सब चुप रहना वरना देशद्रोही कहलाओगे’ जंतरमंतर पर देश के सैनिक ने सेना के पराक्रम को छाती पर सजाने वालों के नाम ख़त लिखकर आत्महत्या कर ली है,सब चुप रहना वरना देशद्रोही कहलाओगे????

बताया जा रहा है कि राम किशन ने कल रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के आवास के सामने जहर खा लिया था। उसे गंभीर हालत में राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। पूरे मामले में रक्षा मंत्री ने रिपोर्ट मंगवाई है। पूरे मामले में रक्षा मंत्री ने रिपोर्ट मंगवाई है। रामकिशन की खुदकुशी की जानकारी लगने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री परिजनों से मुलाकात करेंगे। बता दें कि रामकिशन मूलरूप से हरियाणा का रहने वाला था। इस मामले में डीसीपी नई दिल्ली जतिन नरवाल का कहना है कि रामकिशन ने जहर खाया था। रामकिशन के पास जो मांग का नोट मिला है, उसका सत्यापन कराया जा रहा है।

नयी दिल्ली : राजधानी में वन रैंक-वन पेंशन की मांग के लिए प्रदर्शन कर रहे एक पूर्व सैनिक ने आत्महत्या कर ली है। सुबेदार रामकिशन ग्रेवाल अपने कुछ साथियों के साथ सोमवार से जंतर-मंतर पर धरना दे रहे थे। बुधवार सुबह वे रक्षामंत्री को ज्ञापन सौंपने जा रहे थे, लेकिन रास्ते में ही जहर खाकर आत्महत्या कर ली। इस घटना के बाद इस पर राजनीति भी शुरू हो चुकी है। जहां एक तरफ आम आदमी पार्टी के नेता और उपमुख्‍यमंत्री…