UNHRC में PoK और खैबर पख्तूनख्वा के कार्यकर्ताओं ने PAK की खोली पोल

un
UNHRC में PoK और खैबर पख्तूनख्वा के कार्यकर्ताओं ने PAK की खोली पोल

नई दिल्ली। संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) के 40वें सत्र में पुलवामा आतंकी हमला और पाकिस्‍तान में आतंकवादी कैंपों का मामला छाया रहा। इस सत्र में पाकिस्‍तान की खुब किरकिरी हुई।

Other Pok Activists Condemn Pulwama Terror Attack At Unhrc :

स्वीट्जरलैंड के जेनेवा स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके), सिंध और खैबर पख्तूनख्वा के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की है। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग (यूएनएचआरसी) की बैठक में पीओके के एक्टीविस्ट शौकत अली ने पाकिस्तान से आतंकी कैंप खत्म करने की मांग की।

जिनेवा में यूनाइटेड कश्मीर पीपुल्स नेशनल पार्टी के चेयरमैन सरदार शौकत अली ने यूनाइटेड नेशंस मानवाधिकार परिषद के 40वें सत्र में यह दावा किया। सोमवार को इस सत्र के दौरान उन्होंने कहा कि सिर्फ पीओके क्षेत्र ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया आतंक का दंश झेल रही है। 

इस दौरान यूनाइटेड कश्‍मीर पीपुल्‍स नेशनल पार्टी के चेयरमैन एस अली कश्‍मीरी ने पाकिस्‍तान पर हमला करते हुए कहा कि पाकिस्‍तानी सेना के अफसर कश्‍मीरी लोगों से खुले तौर पर आत्‍मघाती हमला करने के लिए जाने को कहते हैं. वे उन्‍हें उकसाते हैं। यह एक बेहद चिंताजनक स्थिति है।

वहीं पीओके के मानवाधिकार कार्यकर्ता एम हसन ने पाकिस्‍तान पर निशाना साधते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि सभी आतंकी ठिकानों को तबाह किया जाए, फिर चाहे वो पाकिस्‍तान में हों या पीओके में। पाकिस्‍तान सरकार को इसकी जिम्‍मेदारी लेनी चाहिए और इन आतंकियों से छुटकारा पाना चाहिए। ये आतंकी स्‍थानीय लोगों को ही नहीं बल्कि अंतरराष्‍ट्रीय शांति को भी नष्‍ट कर रहे हैं। 

नई दिल्ली। संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) के 40वें सत्र में पुलवामा आतंकी हमला और पाकिस्‍तान में आतंकवादी कैंपों का मामला छाया रहा। इस सत्र में पाकिस्‍तान की खुब किरकिरी हुई।

स्वीट्जरलैंड के जेनेवा स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके), सिंध और खैबर पख्तूनख्वा के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने पुलवामा हमले की कड़ी निंदा की है। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग (यूएनएचआरसी) की बैठक में पीओके के एक्टीविस्ट शौकत अली ने पाकिस्तान से आतंकी कैंप खत्म करने की मांग की।

जिनेवा में यूनाइटेड कश्मीर पीपुल्स नेशनल पार्टी के चेयरमैन सरदार शौकत अली ने यूनाइटेड नेशंस मानवाधिकार परिषद के 40वें सत्र में यह दावा किया। सोमवार को इस सत्र के दौरान उन्होंने कहा कि सिर्फ पीओके क्षेत्र ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया आतंक का दंश झेल रही है। 

इस दौरान यूनाइटेड कश्‍मीर पीपुल्‍स नेशनल पार्टी के चेयरमैन एस अली कश्‍मीरी ने पाकिस्‍तान पर हमला करते हुए कहा कि पाकिस्‍तानी सेना के अफसर कश्‍मीरी लोगों से खुले तौर पर आत्‍मघाती हमला करने के लिए जाने को कहते हैं. वे उन्‍हें उकसाते हैं। यह एक बेहद चिंताजनक स्थिति है।

वहीं पीओके के मानवाधिकार कार्यकर्ता एम हसन ने पाकिस्‍तान पर निशाना साधते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि सभी आतंकी ठिकानों को तबाह किया जाए, फिर चाहे वो पाकिस्‍तान में हों या पीओके में। पाकिस्‍तान सरकार को इसकी जिम्‍मेदारी लेनी चाहिए और इन आतंकियों से छुटकारा पाना चाहिए। ये आतंकी स्‍थानीय लोगों को ही नहीं बल्कि अंतरराष्‍ट्रीय शांति को भी नष्‍ट कर रहे हैं।