महाकाल एक्सप्रेस में शिव मंदिर पर सवाल, ओवैसी ने PM मोदी को याद दिलाया संव‍िधान

owaisi
महाकाल एक्सप्रेस में शिव मंदिर पर सवाल, ओवैसी ने PM मोदी को याद दिलाया संव‍िधान

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India Narendra Modi) ने 16 फरवरी को काशी महाकाल एक्सप्रेस (Kashi Mahakal Express) को हरी झंडी दिखाई। 20 फरवरी से आम यात्रियों के लिए शुरू होने वाली यह ट्रेन शिव रात्रि के मौके पर वाराणसी से इंदौर तक चलेगी। जिसमें एक सीट भगवान शिव के लिए सेफ रखी गई है। लेकिन इस पर अब सवाल खड़े होने शुरू हो गए हैं। AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस फैसले पर सवाल खड़े किए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग कर एक ट्वीट किया है।

Owaisi Reminds Pm Modi Of The Question On Shiv Temple In Mahakal Express :

ओवैसी ने राष्ट्र की एकता और अखंडता वाली पंक्ति पोस्ट की

ओवैसी ने ट्विटर पर पीएम मोदी को सविंधान की याद दिलाते हुए प्रस्तावना का हिस्सा ‘अवसर की समानता’ को पोस्ट किया। उन्होंने ने राष्ट्र की एकता और अखंडता वाली पंक्ति पोस्ट की। ओवैसी ने ट्वीट के जरिए प्रधानमंत्री से सभी धर्मों के लोगों के साथ एक समान व्यवहार करने को कहा है। आपको बता दें कि इससे पहले ओवैसी ने नागरिकता संशोधन एक्ट, नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन को लेकर भी सरकार पर सवाल उठाए थे।

ट्रेन में ये हैं सुविधाएं

IRCTC इस ट्रेन में यात्रियों के लिए वाई-फाई, सीसीटीवी कैमरा, कॉफी मशीन, एलसीडी स्क्रीन जैसी सुविधाएं देगी। IRCTC के मुताबिक काशी महाकाल एक्सप्रेस के हर यात्री को 10 लाख रुपये का यात्रा बीमा भी उपलब्ध होगा। इस काशी महाकाल एक्सप्रेस के लिए टिकट की बुकिंग केवल IRCTC वेबसाइट और इसके मोबाइल ऐप ‘Irctc Rail Connect’ के जरिए की जा सकेगी। ट्रेन में 120 दिनों का एडवांस रिजर्वेशन पीरियड होगा और केवल जनरल व फॉरेन टूरिस्ट कोटा रहेगा।

सप्ताह में दो दिन चलेगी

सप्ताह में दो दिन 82403/82404 वाराणसी-इंदौर-वाराणसी (वाया सुल्तानपुर-लखनऊ-कानपुर सेंट्रल) और सप्ताह में एक दिन 82401/82402 वाराणसी-इंदौर-वाराणसी (वाया जंघई – इलाहाबाद -कानपुर सेंट्रल) के बीच चलेगी। सप्ताह में दो दिन चलने वाली 82401 वाराणसी-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन की नियमित सेवा दिनांक 20.02.2020 से वाराणसी से शुरू होगी। सप्ताह में दो दिन चलने वाली 82401 वाराणसी-इंदौर एक्सप्रेस दिनांक 20.02.2020 हर मंगलवार और गुरुवार को दोपहर 02.45 बजे वाराणसी से चलेगी और अगले दिन सुबह 09.40 बजे इंदौर पहुंचेगी।

ये है ट्रेन का रूट

काशी महाकाल एक्सप्रेस तीन ज्योतिर्लिंगों को जोड़ती है। इनमें आंकारेश्वर (इंदौर के करीब), महाकालेश्वर (उज्जैन) और काशी विश्वनाथ (वाराणसी) है। इसके अलाया से ट्रेन इंदौर से चलने के बाद उज्जैन, संत हिरदाराम नगर रेलवे, बीना, झांसी, कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज और सुलतानपुर होते हुए गुजरेगी।  

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister of India Narendra Modi) ने 16 फरवरी को काशी महाकाल एक्सप्रेस (Kashi Mahakal Express) को हरी झंडी दिखाई। 20 फरवरी से आम यात्रियों के लिए शुरू होने वाली यह ट्रेन शिव रात्रि के मौके पर वाराणसी से इंदौर तक चलेगी। जिसमें एक सीट भगवान शिव के लिए सेफ रखी गई है। लेकिन इस पर अब सवाल खड़े होने शुरू हो गए हैं। AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस फैसले पर सवाल खड़े किए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग कर एक ट्वीट किया है। ओवैसी ने राष्ट्र की एकता और अखंडता वाली पंक्ति पोस्ट की ओवैसी ने ट्विटर पर पीएम मोदी को सविंधान की याद दिलाते हुए प्रस्तावना का हिस्सा 'अवसर की समानता' को पोस्ट किया। उन्होंने ने राष्ट्र की एकता और अखंडता वाली पंक्ति पोस्ट की। ओवैसी ने ट्वीट के जरिए प्रधानमंत्री से सभी धर्मों के लोगों के साथ एक समान व्यवहार करने को कहा है। आपको बता दें कि इससे पहले ओवैसी ने नागरिकता संशोधन एक्ट, नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन को लेकर भी सरकार पर सवाल उठाए थे। ट्रेन में ये हैं सुविधाएं IRCTC इस ट्रेन में यात्रियों के लिए वाई-फाई, सीसीटीवी कैमरा, कॉफी मशीन, एलसीडी स्क्रीन जैसी सुविधाएं देगी। IRCTC के मुताबिक काशी महाकाल एक्सप्रेस के हर यात्री को 10 लाख रुपये का यात्रा बीमा भी उपलब्ध होगा। इस काशी महाकाल एक्सप्रेस के लिए टिकट की बुकिंग केवल IRCTC वेबसाइट और इसके मोबाइल ऐप ‘Irctc Rail Connect’ के जरिए की जा सकेगी। ट्रेन में 120 दिनों का एडवांस रिजर्वेशन पीरियड होगा और केवल जनरल व फॉरेन टूरिस्ट कोटा रहेगा। सप्ताह में दो दिन चलेगी सप्ताह में दो दिन 82403/82404 वाराणसी-इंदौर-वाराणसी (वाया सुल्तानपुर-लखनऊ-कानपुर सेंट्रल) और सप्ताह में एक दिन 82401/82402 वाराणसी-इंदौर-वाराणसी (वाया जंघई - इलाहाबाद -कानपुर सेंट्रल) के बीच चलेगी। सप्ताह में दो दिन चलने वाली 82401 वाराणसी-इंदौर एक्सप्रेस ट्रेन की नियमित सेवा दिनांक 20.02.2020 से वाराणसी से शुरू होगी। सप्ताह में दो दिन चलने वाली 82401 वाराणसी-इंदौर एक्सप्रेस दिनांक 20.02.2020 हर मंगलवार और गुरुवार को दोपहर 02.45 बजे वाराणसी से चलेगी और अगले दिन सुबह 09.40 बजे इंदौर पहुंचेगी। ये है ट्रेन का रूट काशी महाकाल एक्सप्रेस तीन ज्योतिर्लिंगों को जोड़ती है। इनमें आंकारेश्वर (इंदौर के करीब), महाकालेश्वर (उज्जैन) और काशी विश्वनाथ (वाराणसी) है। इसके अलाया से ट्रेन इंदौर से चलने के बाद उज्जैन, संत हिरदाराम नगर रेलवे, बीना, झांसी, कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज और सुलतानपुर होते हुए गुजरेगी।