1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. ओवैसी बोले-कंगना की जगह कोई ​मुस्लिम बयान देता तो UAPA लगाकर और घुटने पर गोली मार सलाखों की पीछे डाल देती सरकार

ओवैसी बोले-कंगना की जगह कोई ​मुस्लिम बयान देता तो UAPA लगाकर और घुटने पर गोली मार सलाखों की पीछे डाल देती सरकार

भारत को 1947 में मिली आजादी भीख थी और हमें असली आजादी 2014 में मिली। कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के इस बयान पर बवाल बढ़ता ही जा रहा है। अब इस बयान पर एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी (AIMIM chief Asaduddin Owaisi ) केंद्र की मोदी व यूपी की योगी सरकार (Yogi Government) को आड़े हाथों लेते हुए जमकर बरसे हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

अलीगढ़ । भारत को 1947 में मिली आजादी भीख थी और हमें असली आजादी 2014 में मिली। कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के इस बयान पर बवाल बढ़ता ही जा रहा है। अब इस बयान पर एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी (AIMIM chief Asaduddin Owaisi ) केंद्र की मोदी व यूपी की योगी सरकार (Yogi Government) को आड़े हाथों लेते हुए जमकर बरसे हैं।

पढ़ें :- Complaint to Aligarh SSP : मैं एक मॉडल हूं और मुझे नहीं चाहिए ऐसा पति, पत्नी बोली- दाढ़ी नहीं कटवाई तो ले लूंगी तलाक

ओवैसी ने अलीगढ़ (Aligarh) में एक जनसभा संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एक मोहतरमा को हमारा सर्वोच्च नागरिक सम्मान (Highest Civilian Award) दिया गया, वो मोहतराम (Mohtarma) इंटरव्यू में कहती हैं कि भारत को 2014 में आजादी मिली, अगर किसी मुस्लिम (Muslim) ने ऐसा कहा होता तो उसपर यूएपीए (UAPA) लगा दिया गया होता और घुटने पर गोली मारकर उसे जेल में डाल दिया जाता।

पढ़ें :- योगी सरकार ने साधु टीएलवासवानी के जन्म दिन 25 नवम्बर को मांस रहित दिवस किया घोषित , दिया ये निर्देश

बता दें कि कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने एक न्यूज चैनल से कहा था कि 1947 में मिली आजादी भीख थी और हमें असली आजादी 2014 में मिली। इस बयान का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था, जिसके बाद कंगना ने यह तक कहा कि अगर कोई यह साबित कर दे कि उन्होंने शहीदों और स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान किया है तो वह अपना पद्मश्री पुरस्कार वापस लौटा देंगी।

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के बयान पर तंज भरे अंदाज में ओवैसी कहते हैं कि वह क्वीन हैं और आप किंग, लेकिन आप कुछ नहीं करेंगी। बाबा ने इंडिया-पाकिस्तान टी 20 मैच (India-Pakistan T20 match) के बाद टिप्पणी करने वालों को देशद्रोह के आरोप में जेल में डालने की धमकी दिया था।’ बता दें कि उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (Uttar Pradesh CM Yogi Adityanath) ने 24 अक्टूबर को हुए भारत-पाकिस्तान (India-Pakistan) के मैच के बाद पाक की जीत का जश्न मनाने वालों को चेतावनी दी थी।

इसके बाद ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और यूपी मुख्यमंत्री आदित्यनाथ (UP CM Adityanath) ने सवाल किया कि क्या वे कंगना रनौत पर देशद्रोह का आरोप लगाएंगे? ओवैसी ने यह भी पूछा कि क्या देशद्रोह सिर्फ मुसलमानों के लिए है? बता दें कि दिल्ली महिला आयोग की चीफ स्वाति मालीवाल (Delhi Commission for Women Chief Swati Maliwal) ने बीते रविवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) को चिट्ठी लिखकर कंगना रनौत के बयान को लेकर पद्मश्री पुरस्कार वापस लिए जाने की अपील की है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...