राम मंदिर भूमि पूजन से पहले ओवैसी का विवादित बयान, कहा-बाबरी मस्जिद थी और रहेगी

Asaduddin Owaisi
राम मंदिर भूमि पूजन से पहले ओवैसी का विवादित बयान, कहा—बाबरी मस्जिद थी और रहेगी

नई दिल्ली। रामनगरी अयोध्या में आज पीएम नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। राम मंदिर निर्माण को लेकर पूरे देश के साथ विदेशों में भी खुशी की लहर दिख रही है। वहीं इस बीच ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने एक विवादित ट्विट किया है।

Owaisis Disputed Statement Before Ram Temple Bhoomi Pujan Said Babri Masjid Was And Will Remain :

ट्वीट कर ओवैसी ने कहा है कि बाबरी मस्जिद थी और रहेगी। बुधवार सुबह असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर कहा है कि ‘बाबरी मस्जिद थी और रहेगी। इंशाअल्लाह।’ अपने ट्विट के साथ ओवैसी ने विवादित ढांचे और विवादित ढांचे के विध्वंस की एक-एक तस्वीर साझा की है।

बता दें कि नौ नवंबर, 2019 को उच्चतम न्यायालय ने विवादित भूमि को लेकर फैसला सुनाया था। अपने फैसले में अदालत ने विवादित जमीन को राम लला को सौंप दिया था।

साथ ही सरकार को मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में पांच एकड़ जमीन देने का आदेश दिया था। इसके साथ ही ओवैसी ने प्रियंका गांधी के बयान पर पलटवार किया था। उन्होंने प्रियंका के बयान पर कहा था, ‘खुशी है कि वो अब नाटक नहीं कर रही हैं। कट्टर हिंदुत्व की विचारधारा को गले लगाना चाहती हैं तो ठीक है, लेकिन भाईचारे के मुद्दे पर वो खोखली बातें क्यों करती हैं।’

 

नई दिल्ली। रामनगरी अयोध्या में आज पीएम नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। राम मंदिर निर्माण को लेकर पूरे देश के साथ विदेशों में भी खुशी की लहर दिख रही है। वहीं इस बीच ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने एक विवादित ट्विट किया है। ट्वीट कर ओवैसी ने कहा है कि बाबरी मस्जिद थी और रहेगी। बुधवार सुबह असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर कहा है कि 'बाबरी मस्जिद थी और रहेगी। इंशाअल्लाह।' अपने ट्विट के साथ ओवैसी ने विवादित ढांचे और विवादित ढांचे के विध्वंस की एक-एक तस्वीर साझा की है। बता दें कि नौ नवंबर, 2019 को उच्चतम न्यायालय ने विवादित भूमि को लेकर फैसला सुनाया था। अपने फैसले में अदालत ने विवादित जमीन को राम लला को सौंप दिया था। साथ ही सरकार को मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में पांच एकड़ जमीन देने का आदेश दिया था। इसके साथ ही ओवैसी ने प्रियंका गांधी के बयान पर पलटवार किया था। उन्होंने प्रियंका के बयान पर कहा था, 'खुशी है कि वो अब नाटक नहीं कर रही हैं। कट्टर हिंदुत्व की विचारधारा को गले लगाना चाहती हैं तो ठीक है, लेकिन भाईचारे के मुद्दे पर वो खोखली बातें क्यों करती हैं।'