तिहाड़ जेल में बिगड़ी पी चिदंबरम की तबीयत, AIIMS के लिए रेफर

p chidambram
बेटे कार्ति ने कहा, कल से राज्यसभा की कार्यवाही में हिस्सा लेंगे पी चिदम्बरम

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम (P Chidambaram) को पेट में दर्द की शिकायत हुई। जिसके बाद उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में जांच के लिए लाया गया है। हालांकि पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को फिलहाल एम्स में भर्ती नहीं कराया गया है।

P Chidambarams Health Deteriorates In Tihar Jail Referral To Aiims :

गौर हो कि चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट से अनुरोध किया था कि उन्हें घर का खाना और एम्स में इलाज कराने की अनुमति दी जाए। जिसके बाद दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट ने शुक्रवार को इसकी इजाजत दे दी थी। बता दें कि आईएनएक्स मीडिया मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहर ने गुरुवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री की न्यायिक हिरासत 17 अक्टूबर तक बढ़ा दी थी।  

5 सितंबर से चिदंबरम जेल में

चिदंबरम को सीबीआई ने 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था। सीबीआई (CBI) और ईडी (ED) ने आईएनएक्स मीडिया (INX Media) की प्रमोटर इंद्राणी मुखर्जी (Indrani Mukerjea) और उनके पति पीटर मुखर्जी के बयानों के आधार पर चिदंबरम को हिरासत में लिया गया। आरोप है कि आईएनएक्स मीडिया ग्रुप को 2007 में 305 करोड़ रुपए का विदेशी धन हासिल करने के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी में अनियमितता बरती गई। उस दौरान पी चिदंबरम वित्त मंत्री थे।  

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम (P Chidambaram) को पेट में दर्द की शिकायत हुई। जिसके बाद उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में जांच के लिए लाया गया है। हालांकि पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को फिलहाल एम्स में भर्ती नहीं कराया गया है। गौर हो कि चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट से अनुरोध किया था कि उन्हें घर का खाना और एम्स में इलाज कराने की अनुमति दी जाए। जिसके बाद दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट ने शुक्रवार को इसकी इजाजत दे दी थी। बता दें कि आईएनएक्स मीडिया मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहर ने गुरुवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री की न्यायिक हिरासत 17 अक्टूबर तक बढ़ा दी थी।   5 सितंबर से चिदंबरम जेल में चिदंबरम को सीबीआई ने 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था। सीबीआई (CBI) और ईडी (ED) ने आईएनएक्स मीडिया (INX Media) की प्रमोटर इंद्राणी मुखर्जी (Indrani Mukerjea) और उनके पति पीटर मुखर्जी के बयानों के आधार पर चिदंबरम को हिरासत में लिया गया। आरोप है कि आईएनएक्स मीडिया ग्रुप को 2007 में 305 करोड़ रुपए का विदेशी धन हासिल करने के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की मंजूरी में अनियमितता बरती गई। उस दौरान पी चिदंबरम वित्त मंत्री थे।