पद्मावती को लेकर कोटा में करणी सेना ने जमकर तांडव मचाया

Padmavati Protests Turn Violent Karni Sena Members Vandalise Cinema Hall In Kota

जयपुर। राजस्थान में फिल्म पद्मावती की रिलीज को लेकर विवाद बढता जा रहा है। मंगलवार को कोटा के एक मॉल में स्थित सिनेमा हॉल में पद्मावती का ट्रेलर दिखाने पर तोड़फोड़ और पथराव किया गया। उधर इस मामले में सरकार के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया का कहना है कि लोकतंत्र में विरोध करना सबका अधिकार है, लेकिन कानून हाथ में लेगा तो कार्रवाई होगी। इस मामले में भी आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है।

आधे घंटे दहशत में रहा
मॉल प्रदर्शनकारियों ने आधे घंटे तक मॉल में दहशत का माहौल पैदा कर दिया। एक साथ सिनेमा हॉल में नारेबाजी करते हुए १० से १५ कार्यकर्ता अंदर घूसे और जमकर तांडव मचाया। उनके आक्रोश को देखते हुए उन्हें कोई रोक नहीं सका। सिनेमा हॉल में से लोग बाहर भागने लगे। कई लोग भगदड में नीचे गिर गए। महिलाओं की चीख पुकार के बीच करणी सेना ने दरवाजों के कांच तोड़ दिए।

राजस्थान में राजपूत समाज सहित ज्यादातर लोग इस फिल्म का विरोध कर रहे हैं और रोजाना कहीं न कहीं से विरोध प्रदर्शन की बात सामने आ रही है। मंगलवार को कोटा के एयरोड्रम सर्किल पर स्थित आकाश सिने मॉल में एक फिल्म के दौरान संजय लीला भंसाली निर्देशित फिल्म पद्मावती का ट्रेलर दिखाया गया।

इस पर सिनेमा हॉल में मौजूद कुछ लोगों ने करणी सेना के पदाधिकारियों को इसकी सूचना दे दी। पता चलते ही करणी सेना से जुड़े 35-40 लोग आकाश सिने मॉल पहुंचे। इनमें से कुछ अंदर सिनेमा हॉल में जबरन घुस गए और जमकर तोड़फोड़ की। वहीं, बाहर प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना था कि वे किसी भी हाल में फिल्म पद्मावती को यहां रिलीज नहीं होने देंगे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके पर मौजूद प्रदर्शनकारियों खदेड़ा। इस मामले में तोडफोड़ करने वाले आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है।

जयपुर। राजस्थान में फिल्म पद्मावती की रिलीज को लेकर विवाद बढता जा रहा है। मंगलवार को कोटा के एक मॉल में स्थित सिनेमा हॉल में पद्मावती का ट्रेलर दिखाने पर तोड़फोड़ और पथराव किया गया। उधर इस मामले में सरकार के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया का कहना है कि लोकतंत्र में विरोध करना सबका अधिकार है, लेकिन कानून हाथ में लेगा तो कार्रवाई होगी। इस मामले में भी आठ लोगों को हिरासत में लिया गया है। आधे घंटे दहशत में…