सोनौली बॉर्डर से वाराणसी जाने के फिरक में था पाक नागरिक, हुआ गिरफ्तार

महराजगंज। उत्तर प्रदेश के महाराजगंज जिले में स्थित भारत-नेपाल की सीमा सोनौली में एक संदिग्ध पाक नागरिक को एसएसबी के जवानों ने चेकिंग के दौरान हिरासत में ले लिया, जिसके पास से  बिना वीजा के पाकिस्तान और भारत के दो पासपोर्ट भी बरामद हुआ। बताया जा रहा है कि यह पाकिस्तानी नागरिक वाराणसी जाने की फिराक में था।  

शुक्रवार की सुबह आठ बजे के लगभग में भारतीय सीमा सोनौली में प्रवेश कर रहे एक युवक को एसएसबी के जवानों ने रोक कर चेकिंग किया तो उसके पास से भारत और पाकिस्तान के दो अलग-अलग पासपोर्ट बरामद हुए जिसके बाद एसएसबी ने उस युवक को हिरासत में ले लिया।

हिरासत में लेकर कडी पूछताछ किए जाने पर युवक ने अपना नाम जावेद कमाल पुत्र नबाब कमाल उम्र 45 वर्ष निवासी पीएलओ 76, फैसलबाद, पाकिस्तान बताया, युवक ने बताया कि वह पाकिस्तान से बैंकाक गया और बैंकाक से काठमाडू आया और लम्बे समय रहने के बाद मौके देखते हुए सोनौली के रास्ते वाराणसी जा रहा था। खुफिया एजेन्सियों की पूछताछ जारी है।

सोनौली बार्डर पर लगातार आतंकी संगठन के लोगों के पकडे जाने से एक बार फिर इस बात पर मोहर लग गयी है कि नेपाल आतकिंयो के लिए महफूज ठिकाना बन गया है। साथ ही इस बात की भी पुष्टि हो गयी है नेपाल से सोनौली सीमा होकर भारत जाना इनके लिए एक आसान रास्ता है।

भारत-नेपाल की खुली सीमा सोनौली बार्डर आतंकियो के लिए काफी मुफिद साबित होती रही है। दिल्ली-मुम्बई आतंकी वारदातो को अन्जाम देकर पुलिस की नजरों से दूर नेपाल में छिपना उनके लिए आसान हो गया है। छिपने के दौरान यहाँ कोई संकट आने पर वह किसी दूसरे देश में भी जाना आसान है। 

सोनौली बॉर्डर से विजय चौरसिया की रिपोर्ट

Loading...