बांग्लादेश के आगे गिड़गिड़ाया पाकिस्तान, कहा- 2 नहीं तो 1 ही टेस्ट मैच खेल लो

pcb
बांग्लादेश के आगे गिड़गिड़ाया पाकिस्तान, कहा- 2 नहीं तो 1 ही टेस्ट मैच खेल लो

नई दिल्ली। बांग्लादेश क्रिकेट टीम को अपने देश में टेस्ट मैच खेलने के लिए अब तक राजी नहीं कर पाने वाला पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) अब बांग्लादेश की मान-मनौव्वल पर उतर आया है। पाकिस्तानी मीडिया ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पीसीबी ने बांग्लादेश से आग्रह किया है कि अगर वह पूर्व प्रस्तावित दो टेस्ट मैच की सीरीज नहीं खेलना चाहता तो एक ही टेस्ट मैच खेल ले।  

Pakistan Begged In Front Of Bangladesh Said Play Test Matches If Not 2 Or 1 :

दौरे पर बांग्लादेश को तीन टी-20 मैच और दो टेस्ट मैच खेलने हैं लेकिन बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) अभी सिर्फ टी-20 के लिए राजी है। उसका कहना है कि इस दौरान सुरक्षा इंतजाम देखने के बाद वह टेस्ट मैच के बारे में फैसला करेगा। लेकिन, पीसीबी चाहता है कि पूरा दौरा एक साथ हो और कोई भी मैच किसी तटस्थ स्थान पर न हो। इससे पहले बांग्लादेश ने साफ कहा था कि सुरक्षा कारणों से वह लंबी अवधि वाले टेस्ट मैच पाकिस्तान के बजाए किसी तटस्थ स्थान पर खेलना पसंद करेगा।

क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, बीसीबी के मुख्य कार्यकारी निजामुद्दीन चौधुरी ने कहा, “हम पीसीबी के संपर्क में हैं। जैसा कि हमने पहले कहा है, हम (पहले) टी-20 खेलना चाहते हैं। हम चाहते हैं कि हमारे खिलाड़ी, कोचिंग स्टाफ और सुरक्षा टीम देख ले कि सुरक्षा कैसी है। इसके बाद हम फैसला करेंगे कि टेस्ट मैच हम पाकिस्तान में खेलें या किसी तटस्थ स्थान पर खेलें।”

हाल ही में श्रीलंका क्रिकेट टीम का दौरा पाकिस्तान में ऐसे ही हुआ था। पहले श्रीलंका की टीम ने सीमित ओवरों की सीरीज खेली और फिर कुछ दिन के अंतराल पर टेस्ट सीरीज।उधर, ‘एक्सप्रेस न्यूज’ ने सूत्रों के हवाले से अपनी रिपोर्ट में कहा है कि पीसीबी ने इस आशय का प्रस्ताव बीसीबी के समक्ष रखा है कि दौरे पर तीन टी-20 के अलावा बांग्लादेश की टीम दो के बजाए एक ही टेस्ट खेल ले। लेकिन, सभी मैच एक ही दौरे में खेले जाएं। रिपोर्ट में कहा गया है कि तीन टी-20 और एक टेस्ट मैच के इस प्रस्ताव पर अंतिम फैसला एक-दो दिन में हो सकता है।

नई दिल्ली। बांग्लादेश क्रिकेट टीम को अपने देश में टेस्ट मैच खेलने के लिए अब तक राजी नहीं कर पाने वाला पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) अब बांग्लादेश की मान-मनौव्वल पर उतर आया है। पाकिस्तानी मीडिया ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि पीसीबी ने बांग्लादेश से आग्रह किया है कि अगर वह पूर्व प्रस्तावित दो टेस्ट मैच की सीरीज नहीं खेलना चाहता तो एक ही टेस्ट मैच खेल ले।   दौरे पर बांग्लादेश को तीन टी-20 मैच और दो टेस्ट मैच खेलने हैं लेकिन बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) अभी सिर्फ टी-20 के लिए राजी है। उसका कहना है कि इस दौरान सुरक्षा इंतजाम देखने के बाद वह टेस्ट मैच के बारे में फैसला करेगा। लेकिन, पीसीबी चाहता है कि पूरा दौरा एक साथ हो और कोई भी मैच किसी तटस्थ स्थान पर न हो। इससे पहले बांग्लादेश ने साफ कहा था कि सुरक्षा कारणों से वह लंबी अवधि वाले टेस्ट मैच पाकिस्तान के बजाए किसी तटस्थ स्थान पर खेलना पसंद करेगा। क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, बीसीबी के मुख्य कार्यकारी निजामुद्दीन चौधुरी ने कहा, “हम पीसीबी के संपर्क में हैं। जैसा कि हमने पहले कहा है, हम (पहले) टी-20 खेलना चाहते हैं। हम चाहते हैं कि हमारे खिलाड़ी, कोचिंग स्टाफ और सुरक्षा टीम देख ले कि सुरक्षा कैसी है। इसके बाद हम फैसला करेंगे कि टेस्ट मैच हम पाकिस्तान में खेलें या किसी तटस्थ स्थान पर खेलें।” हाल ही में श्रीलंका क्रिकेट टीम का दौरा पाकिस्तान में ऐसे ही हुआ था। पहले श्रीलंका की टीम ने सीमित ओवरों की सीरीज खेली और फिर कुछ दिन के अंतराल पर टेस्ट सीरीज।उधर, 'एक्सप्रेस न्यूज' ने सूत्रों के हवाले से अपनी रिपोर्ट में कहा है कि पीसीबी ने इस आशय का प्रस्ताव बीसीबी के समक्ष रखा है कि दौरे पर तीन टी-20 के अलावा बांग्लादेश की टीम दो के बजाए एक ही टेस्ट खेल ले। लेकिन, सभी मैच एक ही दौरे में खेले जाएं। रिपोर्ट में कहा गया है कि तीन टी-20 और एक टेस्ट मैच के इस प्रस्ताव पर अंतिम फैसला एक-दो दिन में हो सकता है।