सरफराज और वसीम के दम पर फाइनल जीतने का सपना देख रहा पाकिस्तान

नई दिल्ली। भारत-पाकिस्तान के बीच कल चैम्पियंस ट्रॉफी का फाइनल मैच खेला जाना है जिसको लेकर तरफ तरफ के आकड़े पेश किए जा रहे है। आकड़ों के आधार पर समर्थक अपने अपने टीम को सपोर्ट कर रहे है। अभी पाकिस्तान के लोग सरफराज और वसीम के दम पर फाइनल जीतने की बात कर रहे है और उनका कहना है कि इन दोनों ने ऐसा इससे पहले भी आईसीसी के इवैंट में कर के दिखाया है । दरअसल कप्तान सरफराज अहमद…

नई दिल्ली। भारत-पाकिस्तान के बीच कल चैम्पियंस ट्रॉफी का फाइनल मैच खेला जाना है जिसको लेकर तरफ तरफ के आकड़े पेश किए जा रहे है। आकड़ों के आधार पर समर्थक अपने अपने टीम को सपोर्ट कर रहे है। अभी पाकिस्तान के लोग सरफराज और वसीम के दम पर फाइनल जीतने की बात कर रहे है और उनका कहना है कि इन दोनों ने ऐसा इससे पहले भी आईसीसी के इवैंट में कर के दिखाया है ।



दरअसल कप्तान सरफराज अहमद और इमाद वसीम से जुड़ा एक ऐसा आंकड़ा है जो आईसीसी चैम्पियंस ट्राफी में भारत के खिलाफ होने वाले फाइनल मुकाबले से पूर्व पाकिस्तानी प्रशंसकों को रोमांचित कर सकता है। आईसीसी टूनार्मेंट में भारत के खिलाफ पाकिस्तान का रिकार्ड काफी खराब है जहां ‘मैन इन ब्ल्यू’ ने 15 में से 13 मैचों में जीत दर्ज की है जबकि सिर्फ दो मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा है लेकिन पाक के मौजूद कप्तान के पास खुश होने का कारण है।



{ यह भी पढ़ें:- वर्ल्ड कप 2019 में अफ्रीका के खिलाफ 5 जून को पहला मैच खेलेगी टीम इंडिया }

सरफराज और बायें हाथ के स्पिनर इमाद पाकिस्तान टीम के सिर्फ दो ऐसे सदस्य हैं जिन्होंने भारत के खिलाफ आईसीसी टूनार्मेंट का फाइनल जीता है। पाकिस्तान की जूनियर टीम ने 2006 में अंडर 19 विश्व कप के फाइनल में कोलंबो के प्रेमदास स्टेडियम में भारत को 38 रन से हराकर खिताब जीता था। खराब तरीके से तैयार की गई पिच पर पाकिस्तान की टीम 109 रन आउट हो गई थी लेकिन इसके बाद उसने भारत को सिर्फ 71 रन पर समेट दिया।



सरफराज पाकिस्तान टीम के कप्तान थे जबकि भारतीय टीम की अगुआई चेतेश्वर पुजारा कर रहे थे। पाकिस्तान की तरह ही भारत की उस टीम के दो सदस्य रोहित शर्मा और रविंद्र जडेजा कल के मैच में खेलेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- एशिया कप: भारत के पास पाकिस्तान को धूल चटाने का सुनहरा मौका }

Loading...