पूरा देश सशस्त्र बलों के साथ कंधे से मिलाकर कर खड़ा है: नवाज शरीफ

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने शुक्रवार को कहा कि इस्लामाबाद क्षेत्र में शांति चाहता है, लेकिन ‘हम किसी को भी पाकिस्तान पर बुरी नजर रखने की अनुमति नहीं देंगे।’ रेडियो पाकिस्तान के मुताबिक, शरीफ ने यह टिप्पणी जम्मू एवं कश्मीर में और नियंत्रण रेखा पर हाल की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाई गई मंत्रिमंडल की एक बैठक में की।





शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान अपने विकास कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने के लिए शांति चाहता है, ‘लेकिन मातृभूमि की रक्षा के लिए हर पाकिस्तानी तैयार है।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरा देश सशस्त्र बलों के साथ कंधे से मिलाकर कर खड़ा है और ‘हम किसी को भी पाकिस्तान पर बुरी नजर रखने की इजाजत नहीं हीं देंगे।’

उन्होंने कहा कि आर्थिक प्रगति और गरीबी व बेरोजगारी से लड़ने के लिए पाकिस्तान शांति चाहता है। शरीफ ने जोर देकर कहा कि विभाजित (जम्मू एवं कश्मीर) राज्य का एक तिहाई उत्तरी भाग हिस्सा पाकिस्तान के पास है और दो तिहाई दक्षिणी हिस्सा भारत के पास है, जो उपमहाद्वीप के विभाजन का अधूरा एजेंडा है। उन्होंने कहा कि भारत, जम्मू एवं कश्मीर में ज्यादतियां कर रहा है जो पाकिस्तान को स्वीकार्य नहीं है। शरीफ ने यह प्रतिक्रिया भारत के यह कहने के एक दिन बाद दी है कि उसने नियंत्रण रेखा के उस पार आतंकवादी लांच पैड पर सर्जिकल स्ट्राइक किए हैं।

उधर, पाकिस्तानी मंत्रिमंडल ने भारतीय सैनिकों द्वारा पाकिस्तानी क्षेत्र में आतंकी ठिकानों पर हमले के मद्देनजर नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर स्थिति की समीक्षा की। रेडियो पाकिस्तान के मुताबिक, प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बैठक की अध्यक्षता की। पाकिस्तान ने इस बात से इनकार किया है कि भारतीय सेना ने उसके क्षेत्र में सर्जिकल स्ट्राइक किया है। उसने कहा है कि केवल नियंत्रण रेखा पर दोनों सेनाओं के बीच गोलीबारी हुई थी जिसमें उसकी सेना के दो जवान मारे गए।

मंत्रिमंडल बैठक से पहले मंत्रियों ने अपनी टिप्पणी में हर कीमत पर देश की रक्षा करने के सरकार के निश्चय को दोहराया। पाकिस्तान के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने कहा कि कश्मीरी लोगों के संघर्ष का समर्थन पाकिस्तान की मुख्य प्राथमिकता बनी रहेगी। अजीज ने कहा कि पाकिस्तान, भारत का कूटनीतिक रूप से विरोध करेगा, लेकिन ‘हमारे सशस्त्र बल देश की रक्षा के लिए पूरी तैयार हैं।’

रक्षा मंत्री ख्वाजा मोहम्मद आसिफ ने दोहराया कि पाकिस्तान तनाव बढ़ाना नहीं चााहता है, लेकिन पाकिस्तान नियंत्रण रेखा के पार से किसी भी फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब देगा। वाणिज्य मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने कहा कि कश्मीरियों पर हो रहे अत्याचार से दुनिया का ध्यान बांटने के लिए भारत कृत्रिम तनाव उत्पन्न कर रहा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की सुरक्षा मजबूत हाथों में है और देश कश्मीरियों के अधिकारों का मुद्दा उठाता रहेगा।



Loading...