पाकिस्तानी मंत्री पर पत्रकार को थप्पड़ मारने का आरोप, शिकायत दर्ज

favad khan
पाकिस्तानी मंत्री पर पत्रकार को थप्पड़ मारने का आरोप, शिकायत दर्ज

नई दिल्ली। पाकिस्तान के एक मशहूर टेलीविजन पत्रकार ने सोमवार को कहा है कि उन्होंने विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी के खिलाफ औपचारिक शिकायत दर्ज करवाई है। पत्रकार का कहना है कि मंत्री ने उनके साथ मारपीट की है। जबकि आरोपी मंत्री फवाद चौधरी ने इसे एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताते हुए अपना बचाव किया है।

Pakistan Journalist Files Complaint Against Minister For Slapping Him :

पत्रकार का नाम समी इब्राहिम है, जो निजी टेलीविजन चैनल बोल न्यूज में काम करते हैं। इब्राहिम का कहना है कि उनके साथ चौधरी ने बुधवार को फैसलाबाद में हुई एक शादी में मारपीट की है। इब्राहिम ने अपनी लिखित शिकायत में कहा है, “उन्होंने मुझे थप्पड़ मारा, गलत भाषा का इस्तेमाल किया और मुझे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी।” वहीं फैसलाबाद की पुलिस ने भी शिकायत दर्ज होने की पुष्टि की है।

चौधरी इमरान खान की सरकार में पूर्व सूचना मंत्री भी रह चुके हैं। उनका कहना है कि इब्राहिम ने उनके साथ बदतमीजी की और “भारतीय जासूस” कहा। “यह घटना नहीं होनी चाहिए थी, लेकिन दुर्भाग्य से हो गई है। वो मेरे पास आया और बार बार बदतमीजी की, तब जाकर ये सब हुआ।”

बता दें पाकिस्तान में पत्रकार बिलकुल सुरक्षित नहीं माने जाते हैं। यहां अकसर सरकार या फिर सेना के खिलाफ कुछ भी बोलने पर उन्हें हिरासत में लेने, मारपीट करने और जान से मरने की खबरें आती रहती हैं। चौधरी फरवरी माह में ही विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री बने हैं।

नई दिल्ली। पाकिस्तान के एक मशहूर टेलीविजन पत्रकार ने सोमवार को कहा है कि उन्होंने विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी के खिलाफ औपचारिक शिकायत दर्ज करवाई है। पत्रकार का कहना है कि मंत्री ने उनके साथ मारपीट की है। जबकि आरोपी मंत्री फवाद चौधरी ने इसे एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताते हुए अपना बचाव किया है। पत्रकार का नाम समी इब्राहिम है, जो निजी टेलीविजन चैनल बोल न्यूज में काम करते हैं। इब्राहिम का कहना है कि उनके साथ चौधरी ने बुधवार को फैसलाबाद में हुई एक शादी में मारपीट की है। इब्राहिम ने अपनी लिखित शिकायत में कहा है, "उन्होंने मुझे थप्पड़ मारा, गलत भाषा का इस्तेमाल किया और मुझे गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी।" वहीं फैसलाबाद की पुलिस ने भी शिकायत दर्ज होने की पुष्टि की है। चौधरी इमरान खान की सरकार में पूर्व सूचना मंत्री भी रह चुके हैं। उनका कहना है कि इब्राहिम ने उनके साथ बदतमीजी की और "भारतीय जासूस" कहा। "यह घटना नहीं होनी चाहिए थी, लेकिन दुर्भाग्य से हो गई है। वो मेरे पास आया और बार बार बदतमीजी की, तब जाकर ये सब हुआ।" बता दें पाकिस्तान में पत्रकार बिलकुल सुरक्षित नहीं माने जाते हैं। यहां अकसर सरकार या फिर सेना के खिलाफ कुछ भी बोलने पर उन्हें हिरासत में लेने, मारपीट करने और जान से मरने की खबरें आती रहती हैं। चौधरी फरवरी माह में ही विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री बने हैं।