पाकिस्तान की गीदड़भभकी, कहा-भारत युद्ध करता है तो मुकाबले के अलावा कोई रास्ता नहीं

Arif Alvi
पाकिस्तान की गीदड़भभकी, कहा-भारत अगर युद्ध करता है तो मुकाबले के अलावा कोई रास्ता नहीं

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद हटाए जाने के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। वह बार—बार गीदड़भभकी दे रहा है। पाकिस्तान आज अपनी आजादी का दिन मना रहा है लेकिन निशाना भारत पर ही साध रहा है। वहां के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने धमकी दी है। आरिफ अल्वी ने कहा कि, हम युद्ध नहीं चाहते हैं लेकिन भारत युद्ध करता है तो उनके पास जेहाद और मुकाबला करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं है।

Pakistan Threatens War With India :

पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने कहा कि, आज पूरी दुनिया देख रही है कि पाकिस्तान कश्मीर के लोगों के साथ खड़ा है। इसके साथ ही हम हर समय उनका साथ देने क लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि, हम लोग कश्मीरियों की मदद करना नहीं रोकेंगे।

साथ ही उन्होंने कहा कि, पाकिस्तान इस मसले को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद तक जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि भारत ने जम्मू-कश्मीर पर इस तरह का फैसला लेकर संयुक्त राष्ट्र के नियमों का उल्लंघन किया है। इसके साथ ही आरिफ अल्वी ने कहा कि, भारत ने शिमला समझौते को तोड़ने का काम किया है।

हालांकि, पाकिस्तान कभी भी शिमला समझौते को नहीं माना और न ही इस समझौते को तवज्जो दी है। गौरतलब है कि, जम्मू कश्मीर पर सरकार के फैसले के बाद से पाकिस्तान धमकियां दे रहा है। इसको लेकर पाकिस्तान कई देशों के पास गया लेकिन हर जगह उसे निराशा ही हाथ लगी है।

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद हटाए जाने के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। वह बार—बार गीदड़भभकी दे रहा है। पाकिस्तान आज अपनी आजादी का दिन मना रहा है लेकिन निशाना भारत पर ही साध रहा है। वहां के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने धमकी दी है। आरिफ अल्वी ने कहा कि, हम युद्ध नहीं चाहते हैं लेकिन भारत युद्ध करता है तो उनके पास जेहाद और मुकाबला करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं है। पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने कहा कि, आज पूरी दुनिया देख रही है कि पाकिस्तान कश्मीर के लोगों के साथ खड़ा है। इसके साथ ही हम हर समय उनका साथ देने क लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि, हम लोग कश्मीरियों की मदद करना नहीं रोकेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि, पाकिस्तान इस मसले को लेकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद तक जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि भारत ने जम्मू-कश्मीर पर इस तरह का फैसला लेकर संयुक्त राष्ट्र के नियमों का उल्लंघन किया है। इसके साथ ही आरिफ अल्वी ने कहा कि, भारत ने शिमला समझौते को तोड़ने का काम किया है। हालांकि, पाकिस्तान कभी भी शिमला समझौते को नहीं माना और न ही इस समझौते को तवज्जो दी है। गौरतलब है कि, जम्मू कश्मीर पर सरकार के फैसले के बाद से पाकिस्तान धमकियां दे रहा है। इसको लेकर पाकिस्तान कई देशों के पास गया लेकिन हर जगह उसे निराशा ही हाथ लगी है।