अफगानिस्तान से 100 से ज्यादा आतंकी कश्मीर भेजने की तैयारी कर रहा पाकिस्तान

aatank
अफगानिस्तान से 100 से ज्यादा आतंकी कश्मीर भेजने की तैयारी कर रहा पाकिस्तान

नई दिल्ली। पाकिस्तान कश्मीर घाटी में अशांति फैलाने की कोई कोशिश नहीं छोड़ना चाहता है। अब पाक अफगानिस्तान से 100 से अधिक कट्टर आतंकवादियों को कश्मीर में घुसपैठ कराने की फिराक में है। यह जानकारी खुफिया एजेंसियों का कहना है कि पाकिस्तान कश्मीर में अस्थिरता फैलाने के लिए अफगानिस्तान से 100 से ज्यादा आतंकियों को ला रहा है।

Pakistan To Push Afganistani Terrorists From Multiple Points Of Pok Inside Kashmir Indian Territory :

अफगानिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर के भाई मुफ्ती रऊफ असगर ने अपने साथियों से जैश के बहावलपुर स्थित मुख्यालय में 19 और 20 अगस्त को आतंकी एजेंडे पर बैठक की थी। सूत्र ने ये भी बताया कि खुफिया रिपोर्ट में पता चला है कि नियंत्रण रेखा से लगी पाकिस्तानी सीमा के लीपा वैली स्थित लॉन्च पैड पर संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 15 आतंकी घुसपैठ करने की फिराक में हैं। इसीलिए पाकिस्तान गोलाबारी कर रहा है।

कई प्रमुख शहरों के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठान निशाने पर

खुफिया इनपुट के मुताबिक, पाकिस्तान मूल के आतंकी संगठन अगले कुछ हफ्तों में भारत के कई प्रमुख शहरों में महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों पर हमले कर सकते हैं। सूत्र ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों से पाकिस्तान दुनिया को ये बताना चाहता है कि भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के फैसले से राज्य के हालात बिगड़ रहे हैं। हाल में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कश्मीर मामले पर विवादित बयान दिया था। इमरान ने कहा था कि अनुच्छेद-370 हटने से कश्मीर में पुलवामा जैसे आतंकी हमले बढ़ सकते हैं।

उत्तरी कश्मीर के स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति बढ़ी

स्कूल खुलने के दो दिन बाद जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा और बांदीपोरा समेत कई जिलों में छात्रों की उपस्थिति बढ़ गई है। हालांकि, श्रीनगर समेत घाटी में बहुत से स्थानों पर तनाव का माहौल होने से छात्रों की संख्या बेहद कम है। केवल
शिक्षक ही जा रहे हैं।

नई दिल्ली। पाकिस्तान कश्मीर घाटी में अशांति फैलाने की कोई कोशिश नहीं छोड़ना चाहता है। अब पाक अफगानिस्तान से 100 से अधिक कट्टर आतंकवादियों को कश्मीर में घुसपैठ कराने की फिराक में है। यह जानकारी खुफिया एजेंसियों का कहना है कि पाकिस्तान कश्मीर में अस्थिरता फैलाने के लिए अफगानिस्तान से 100 से ज्यादा आतंकियों को ला रहा है। अफगानिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर के भाई मुफ्ती रऊफ असगर ने अपने साथियों से जैश के बहावलपुर स्थित मुख्यालय में 19 और 20 अगस्त को आतंकी एजेंडे पर बैठक की थी। सूत्र ने ये भी बताया कि खुफिया रिपोर्ट में पता चला है कि नियंत्रण रेखा से लगी पाकिस्तानी सीमा के लीपा वैली स्थित लॉन्च पैड पर संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 15 आतंकी घुसपैठ करने की फिराक में हैं। इसीलिए पाकिस्तान गोलाबारी कर रहा है। कई प्रमुख शहरों के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठान निशाने पर खुफिया इनपुट के मुताबिक, पाकिस्तान मूल के आतंकी संगठन अगले कुछ हफ्तों में भारत के कई प्रमुख शहरों में महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों पर हमले कर सकते हैं। सूत्र ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों से पाकिस्तान दुनिया को ये बताना चाहता है कि भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के फैसले से राज्य के हालात बिगड़ रहे हैं। हाल में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कश्मीर मामले पर विवादित बयान दिया था। इमरान ने कहा था कि अनुच्छेद-370 हटने से कश्मीर में पुलवामा जैसे आतंकी हमले बढ़ सकते हैं। उत्तरी कश्मीर के स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति बढ़ी स्कूल खुलने के दो दिन बाद जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा और बांदीपोरा समेत कई जिलों में छात्रों की उपस्थिति बढ़ गई है। हालांकि, श्रीनगर समेत घाटी में बहुत से स्थानों पर तनाव का माहौल होने से छात्रों की संख्या बेहद कम है। केवल शिक्षक ही जा रहे हैं।