पाकिस्तान ने स्टॉक एक्सचेंज पर हमले के पीछे बताया भारत का हाथ, सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने जताई नाराजगी

pak
पाकिस्तान ने स्टॉक एक्सचेंज पर हमले के पीछे बताया भारत का हाथ, सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने जताई नाराजगी

न्यूयॉर्क। पाकिस्तान के कराची में स्टॉक एक्सचेंज पर हुए आतंकी हमले में 19 लोगों की मौत हुई थी। इस घटना के बाद पाकिस्तान ने इस हमले का आरोप भारत पर लगा दिया। आतंकी हमले के बाद चीन समर्थित संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के बयान को लेकर परिषद के सदस्यों ने नारागजी जाहिर की है।

Pakistan Told India Behind The Attack On The Stock Exchange Members Of The Security Council Expressed Their Displeasure :

दरअसल, इस बयान में हमले के लिए भारत को दोषी ठहराया गया था, जिस पर साथी सदस्यों ने नाराजगी व्यक्त की। बता दें कि, स्टॉक एक्सचेंज हमले में 19 लोगों कीे मौत हुई थी। हमले को अंजाम देने वाले बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी के चार हमलावरों को भी मुठभेड़ में मार गिराया गया था।

न्यूयॉर्क स्थित राजनयिकों के अनुसार, चीन ने मंगलवार को हमले पर यूएनएससी के बयान का प्रस्ताव रखा। किसी भी आतंकी हमले के बाद इस तरह के बयानों को यूएनएससी द्वारा जारी किया जाता है। इस प्रस्ताव को लेकर यूएनएससी सदस्यों ने पाकिस्तान द्वारा अनछुए बयानों पर संदेह व्यक्त करते हुए अंतिम समय पर हस्तक्षेप किया।

राजनयिकों के मुताबिक, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने विदेश मंत्री शाहद महमूद कुरैशी के साथ मिलकर बिना सुबूत के ही भारत पर हमला कराने का आरोप लगाया ​दिया। वहीं, भारत ने इन सभी आरोपों को खारिज कर दिया।

न्यूयॉर्क। पाकिस्तान के कराची में स्टॉक एक्सचेंज पर हुए आतंकी हमले में 19 लोगों की मौत हुई थी। इस घटना के बाद पाकिस्तान ने इस हमले का आरोप भारत पर लगा दिया। आतंकी हमले के बाद चीन समर्थित संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के बयान को लेकर परिषद के सदस्यों ने नारागजी जाहिर की है। दरअसल, इस बयान में हमले के लिए भारत को दोषी ठहराया गया था, जिस पर साथी सदस्यों ने नाराजगी व्यक्त की। बता दें कि, स्टॉक एक्सचेंज हमले में 19 लोगों कीे मौत हुई थी। हमले को अंजाम देने वाले बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी के चार हमलावरों को भी मुठभेड़ में मार गिराया गया था। न्यूयॉर्क स्थित राजनयिकों के अनुसार, चीन ने मंगलवार को हमले पर यूएनएससी के बयान का प्रस्ताव रखा। किसी भी आतंकी हमले के बाद इस तरह के बयानों को यूएनएससी द्वारा जारी किया जाता है। इस प्रस्ताव को लेकर यूएनएससी सदस्यों ने पाकिस्तान द्वारा अनछुए बयानों पर संदेह व्यक्त करते हुए अंतिम समय पर हस्तक्षेप किया। राजनयिकों के मुताबिक, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने विदेश मंत्री शाहद महमूद कुरैशी के साथ मिलकर बिना सुबूत के ही भारत पर हमला कराने का आरोप लगाया ​दिया। वहीं, भारत ने इन सभी आरोपों को खारिज कर दिया।