पाकिस्तान ने पहली बार बताया पाक अधिकृत कश्मीर को भारत का हिस्सा

jammu
पाकिस्तान ने पहली बार बताया पाक अधिकृत कश्मीर को भारत का हिस्सा

पिछले दिनों भारत की ओर से वेदर बुलेटिन में गिलगित-बल्टिस्तान को शामिल किए जाने पर पाकिस्तान काफी बौखला गया था। उसने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) पर अपने दावे को दोहराना शुरू किया। यहां तक कि अपने वेदर बुलेटिन में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का तापमान बताकर जवाब देने की कोशिश भी की, जो तकनीकी गलती की वजह से उसे उलटी पड़ गई। अब एक बार फिर तकनीकी पेच के चक्कर में पाकिस्तान ने जाने-अनजाने PoK को भारत का हिस्सा घोषित कर डाला।

Pakistan Told Pakistan Occupied Kashmir For The First Time As Part Of India :

भारत में शामिल PoK

दरअसल, पाकिस्तान ने कोरोना वायरस के लिए बनाई गई वेबसाइट पर देश का नक्शा जारी किया जिसमें भारत भी दिखाई दे रहा था। सोशल मीडिया यूजर्स की नजर फौरन इस बात पर गई कि इस नक्शे में उस हिस्से को भारत में शामिल दिखाया गया है जिस पर भारत का दावा है। यानी यह भारत द्वारा मान्य नक्शा ही दिखा रहा था। इसे लेकर पाकिस्तान की किरकिरी भी हो गई कि उसने खुद ही अपनी साइट पर ऐसा नक्शा जारी कर दिया जिससे PoK पर उसका दावा कमजोर होता है।

इसलिए दिखा ऐसा नक्शा

हालांकि, ऐसा पाकिस्तान ने जानबूझकर नहीं किया। दरअसल, साइट पर अपलोड किया गया नक्शा माइक्रोसॉफ्ट का बनाया हुआ है। सीमाओं को लेकर विवाद होने के चलते यह नक्शे हर देश में अलग-अलग दिखता है। जिस देश में जो नक्शा आधिकारिक तौर पर मान्य होता है, वहां के यूजर्स को वह नक्शा वैसा ही दिखता है। इसलिए भारत में दिखना वाला PoK को हिस्सा दरअसल भारतीय नक्शे के हिसाब से ही है, जबकि इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है कि पाकिस्तान अपने दावे से पीछे हट गया है।

भारत के बुलेटिन की गलत नकल

इससे पहले भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने जम्‍मू-कश्‍मीर सब-डिविजन को अब ‘जम्‍मू और कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद’ नाम दे दिया। गिलगित-बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद, दोनों पर पाकिस्‍तान ने अवैध रूप से कब्‍जा कर रखा है। यहां तक कि IMD के डायरेक्‍टर-जनरल मृत्‍युंजय महापात्रा ने कहा कि ‘IMD पूरे जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख के लिए वेदर बुलेटिन जारी करता रहा है। हम बुलेटिन में गिलगित-बाल्टिस्‍तान, मुजफ्फराबाद का जिक्र इसलिए कर रहे हैं क्‍योंकि वह भारत का हिस्‍सा है।’

इसके बाद पाकिस्तान ने अपने बुलेटिन में जम्मू-कश्मीर के जम्मू, श्रीनगर और पुलवामा और लद्दाख का तापमान अपने बुलेटिन में जारी कर संदेश देने की कोशिश की लेकिन ऐसे करने में वह तकनीकी गलती कर बैठा जिसके चलते उसकी ही किरकिरी हो गई थी।  

पिछले दिनों भारत की ओर से वेदर बुलेटिन में गिलगित-बल्टिस्तान को शामिल किए जाने पर पाकिस्तान काफी बौखला गया था। उसने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) पर अपने दावे को दोहराना शुरू किया। यहां तक कि अपने वेदर बुलेटिन में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का तापमान बताकर जवाब देने की कोशिश भी की, जो तकनीकी गलती की वजह से उसे उलटी पड़ गई। अब एक बार फिर तकनीकी पेच के चक्कर में पाकिस्तान ने जाने-अनजाने PoK को भारत का हिस्सा घोषित कर डाला। भारत में शामिल PoK दरअसल, पाकिस्तान ने कोरोना वायरस के लिए बनाई गई वेबसाइट पर देश का नक्शा जारी किया जिसमें भारत भी दिखाई दे रहा था। सोशल मीडिया यूजर्स की नजर फौरन इस बात पर गई कि इस नक्शे में उस हिस्से को भारत में शामिल दिखाया गया है जिस पर भारत का दावा है। यानी यह भारत द्वारा मान्य नक्शा ही दिखा रहा था। इसे लेकर पाकिस्तान की किरकिरी भी हो गई कि उसने खुद ही अपनी साइट पर ऐसा नक्शा जारी कर दिया जिससे PoK पर उसका दावा कमजोर होता है। इसलिए दिखा ऐसा नक्शा हालांकि, ऐसा पाकिस्तान ने जानबूझकर नहीं किया। दरअसल, साइट पर अपलोड किया गया नक्शा माइक्रोसॉफ्ट का बनाया हुआ है। सीमाओं को लेकर विवाद होने के चलते यह नक्शे हर देश में अलग-अलग दिखता है। जिस देश में जो नक्शा आधिकारिक तौर पर मान्य होता है, वहां के यूजर्स को वह नक्शा वैसा ही दिखता है। इसलिए भारत में दिखना वाला PoK को हिस्सा दरअसल भारतीय नक्शे के हिसाब से ही है, जबकि इसका मतलब यह बिलकुल नहीं है कि पाकिस्तान अपने दावे से पीछे हट गया है। भारत के बुलेटिन की गलत नकल इससे पहले भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने जम्‍मू-कश्‍मीर सब-डिविजन को अब 'जम्‍मू और कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद' नाम दे दिया। गिलगित-बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद, दोनों पर पाकिस्‍तान ने अवैध रूप से कब्‍जा कर रखा है। यहां तक कि IMD के डायरेक्‍टर-जनरल मृत्‍युंजय महापात्रा ने कहा कि 'IMD पूरे जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख के लिए वेदर बुलेटिन जारी करता रहा है। हम बुलेटिन में गिलगित-बाल्टिस्‍तान, मुजफ्फराबाद का जिक्र इसलिए कर रहे हैं क्‍योंकि वह भारत का हिस्‍सा है।' इसके बाद पाकिस्तान ने अपने बुलेटिन में जम्मू-कश्मीर के जम्मू, श्रीनगर और पुलवामा और लद्दाख का तापमान अपने बुलेटिन में जारी कर संदेश देने की कोशिश की लेकिन ऐसे करने में वह तकनीकी गलती कर बैठा जिसके चलते उसकी ही किरकिरी हो गई थी।