2025 तक पाकिस्तान हो जाएगा भारत का हिस्सा: RSS नेता इंन्द्रेश कुमार

rss indresh kumar
2025 तक पाकिस्तान हो जाएगा भारत का हिस्सा: RSS नेता इंन्द्रेश कुमार

नई दिल्ली। पुलवामा अटैक के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच चल रही खींचतान के बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ नेता इन्द्रेश कुमार ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा कि आगामी 2025 तक पाकिस्तान भारत का हिस्सा हो जाएगा। एक कार्यक्रम में वो’कश्मरी- आगे की राह’ विषय पर बोल रहे थे। इस दौरान उन्होने कहा कि’आप लिखकर लीजिए 5-7 साल बाद आप कहीं कराची, लाहौर, रावलपिंडी, सियालकोट में मकान खरीदेंगे और बिजनेस करने का मौका मिलेगा।’

Pakistan Will Be Part Of India By 2025 Says Rss Leader Indresh Kumar :

बता दें कि इंद्रेश कुमार ने साथ ही कहा, ’47 के पहले पाकिस्तान नहीं था. लोग ये कहते हैं कि 45 के पहले वह हिन्दुस्तान था। वही पाकिस्तान 25 के बाद से अपने मूल रूप में आ जाएगा। वहीं बाद में इस आरएसएस नेता नेता ने कहा कि बांग्लादेश की सरकार भी इसके पक्ष में थी। साथ ही उन्होने कहा कि ‘भारत सरकार ने पहली बार कश्मीर में सख्त लाइन दी है, क्योंकि सेना पॉलिटिकल विलपॉवर पर काम करती है। हमारा के सपना है कि लाहौर में जाकर आराम से बैठें और कैलाश मानसरोवर जाने के लिए चीन से इजाजत न लेनी पड़ें।

इस कार्यक्रम में बोलते हुए इन्द्रेश कुमार ने कहा कि वह यह समझ सकते हैं कि चीन पाकिस्तान की मदद क्यों कर रहा है। आरएसएस नेता ने कहा कि पाकिस्तान चीन को इसलिए अपनी तरफ रखना चाहता है क्योंकि हमने बिना बंदूक के उसे हरा दिया है। हमारी सेना ने डोकलाम से चीन को खदेड़ दिया है। दुनिया यही जानती है कि चीन अपराजित है, लेकिन हमने उसे हरा दिया। यहीं वजह है कि उसके अंदर भारत के लिए गुस्सा भरा हुआ है।

नई दिल्ली। पुलवामा अटैक के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच चल रही खींचतान के बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ नेता इन्द्रेश कुमार ने एक बड़ा बयान दिया है। उन्होने कहा कि आगामी 2025 तक पाकिस्तान भारत का हिस्सा हो जाएगा। एक कार्यक्रम में वो'कश्मरी- आगे की राह' विषय पर बोल रहे थे। इस दौरान उन्होने कहा कि'आप लिखकर लीजिए 5-7 साल बाद आप कहीं कराची, लाहौर, रावलपिंडी, सियालकोट में मकान खरीदेंगे और बिजनेस करने का मौका मिलेगा।'

बता दें कि इंद्रेश कुमार ने साथ ही कहा, '47 के पहले पाकिस्तान नहीं था. लोग ये कहते हैं कि 45 के पहले वह हिन्दुस्तान था। वही पाकिस्तान 25 के बाद से अपने मूल रूप में आ जाएगा। वहीं बाद में इस आरएसएस नेता नेता ने कहा कि बांग्लादेश की सरकार भी इसके पक्ष में थी। साथ ही उन्होने कहा कि 'भारत सरकार ने पहली बार कश्मीर में सख्त लाइन दी है, क्योंकि सेना पॉलिटिकल विलपॉवर पर काम करती है। हमारा के सपना है कि लाहौर में जाकर आराम से बैठें और कैलाश मानसरोवर जाने के लिए चीन से इजाजत न लेनी पड़ें।

इस कार्यक्रम में बोलते हुए इन्द्रेश कुमार ने कहा कि वह यह समझ सकते हैं कि चीन पाकिस्तान की मदद क्यों कर रहा है। आरएसएस नेता ने कहा कि पाकिस्तान चीन को इसलिए अपनी तरफ रखना चाहता है क्योंकि हमने बिना बंदूक के उसे हरा दिया है। हमारी सेना ने डोकलाम से चीन को खदेड़ दिया है। दुनिया यही जानती है कि चीन अपराजित है, लेकिन हमने उसे हरा दिया। यहीं वजह है कि उसके अंदर भारत के लिए गुस्सा भरा हुआ है।