36 साल से पाकिस्तान की जेल में कैद है गजानंद, स्वतन्त्रता दिवस से पहले रिहा होने की उम्मीद

vk-singh
36 साल से पाकिस्तान की जेल में कैद है गजानंद, स्वतन्त्रता दिवस से पहले रिहा होने की उम्मीद

नई दिल्ली। पाकिस्तान की एक जेल में पूरे 36 साल से बंद जयपुर के गजानंद शर्मा 13 अगस्त को रिहा हो सकते हैं। केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने इसका आश्वासन आज जयपुर के सांसद रामचरण बोहरा की अगुआई में उनसे मिलने आये प्रतिनिधिमंडल को दिया। गुरुवार को गजानंद शर्मा की पत्नी मखनी देवी, बेटा मुकेश ने केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह से मुलाकात की। बोहरा ने बताया कि सिंह ने उन्हें आश्वस्त किया है कि लाहौर की जेल में बंद गजानंद को 13 अगस्त को रिहा कर दिया जायेगा।

Pakistan Will Be Releasing Gajanand Sharma Soon From The Lahore Jail :

गजानंद के परिवार के साथ जयपुर से भाजपा सांसद रामचरण बोहरा, हवामहल विधायक सुरेंद्र पारीक, भाजपा नेता राजेंद्र पारीक और स्नेहलता शर्मा भी मौजूद रहीं। गजानंद के बेटे मुकेश ने खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने मुलाकात के बीच मखनी देवी से कहा कि गजानंद को स्वतंत्रता दिवस के पहले 13 अगस्त को पाक जेल से रिहाई मिल सकती है।

बताते चलें कि 68 वर्षीय गजानंद पिछले 36 साल से पाकिस्तान की कोट लखपत जेल में बंद है। बोहरा के अनुसार उन्हें सिर्फ दो माह की सजा हुई थी लेकिन ‘काउंसलर एक्सेस” नहीं होने के कारण वह 36 साल से जेल में बंद है। साल 1982 में घर से अचानक लापता हुए गजानंद के बारे में परिजनों को उनके पाकिस्तान जेल में होने की जानकारी उस समय लगी जब मई में पुलिस अधिकारियों ने परिजनों से गजानंद की राष्ट्रीयता के बारे में पुष्टि करने के लिए सम्पर्क किया और उन्हें बताया कि वह पाकिस्तान जेल में बंद है।

मुकेश के मुताबिक मूल रुप से उनका परिवार गांव महारकलां, थाना सामोद का रहने वाला है, लेकिन वे बरसों पहले जयपुर आकर रहने लगे थे। मुकेश के मुताबिक पाकिस्तान से आए दस्तावेजों से पता नहीं चला कि वह कब से पाक जेल में बंद हैं और उनका क्या कसूर है।

नई दिल्ली। पाकिस्तान की एक जेल में पूरे 36 साल से बंद जयपुर के गजानंद शर्मा 13 अगस्त को रिहा हो सकते हैं। केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने इसका आश्वासन आज जयपुर के सांसद रामचरण बोहरा की अगुआई में उनसे मिलने आये प्रतिनिधिमंडल को दिया। गुरुवार को गजानंद शर्मा की पत्नी मखनी देवी, बेटा मुकेश ने केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह से मुलाकात की। बोहरा ने बताया कि सिंह ने उन्हें आश्वस्त किया है कि लाहौर की जेल में बंद गजानंद को 13 अगस्त को रिहा कर दिया जायेगा।गजानंद के परिवार के साथ जयपुर से भाजपा सांसद रामचरण बोहरा, हवामहल विधायक सुरेंद्र पारीक, भाजपा नेता राजेंद्र पारीक और स्नेहलता शर्मा भी मौजूद रहीं। गजानंद के बेटे मुकेश ने खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने मुलाकात के बीच मखनी देवी से कहा कि गजानंद को स्वतंत्रता दिवस के पहले 13 अगस्त को पाक जेल से रिहाई मिल सकती है।बताते चलें कि 68 वर्षीय गजानंद पिछले 36 साल से पाकिस्तान की कोट लखपत जेल में बंद है। बोहरा के अनुसार उन्हें सिर्फ दो माह की सजा हुई थी लेकिन 'काउंसलर एक्सेस" नहीं होने के कारण वह 36 साल से जेल में बंद है। साल 1982 में घर से अचानक लापता हुए गजानंद के बारे में परिजनों को उनके पाकिस्तान जेल में होने की जानकारी उस समय लगी जब मई में पुलिस अधिकारियों ने परिजनों से गजानंद की राष्ट्रीयता के बारे में पुष्टि करने के लिए सम्पर्क किया और उन्हें बताया कि वह पाकिस्तान जेल में बंद है।मुकेश के मुताबिक मूल रुप से उनका परिवार गांव महारकलां, थाना सामोद का रहने वाला है, लेकिन वे बरसों पहले जयपुर आकर रहने लगे थे। मुकेश के मुताबिक पाकिस्तान से आए दस्तावेजों से पता नहीं चला कि वह कब से पाक जेल में बंद हैं और उनका क्या कसूर है।