पाकिस्तान को नहीं करने देंगे नदी जल की बर्बादी : मोदी

बठिंडा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि सतलुज, ब्यास और रावी नदियों के जल पर भारत का अधिकार है और इनके पानी को पाकिस्तान में बर्बाद होने से रोका जाएगा। वह सुनिश्चित करेंगे कि यहां के किसान उनका इस्तेमाल करें। प्रधानमंत्री ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘सिंधु जल समझौता (सतलुज, ब्यास, रावी) इन नदियों का जल भारत का और हमारे किसानों का है। इनका इस्तेमाल पाकिस्तान के खेतों में नहीं होता बल्कि पाकिस्तान के रास्ते समुद्र में चला जाता है।’




उन्होंने कहा, ‘‘अब इनका एक-एक बूंद रोका जाएगा और मैं उन्हें पंजाब तथा जम्मू-कश्मीर एवं भारत के किसानों को ये पानी दूंगा। मैं इसके लिए कृतसंकल्प हूं।’ उन्होंने कहा कि एक कार्यबल का गठन किया गया है ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि सतलुज, ब्यास और रावी से बहने वाली हर एक बूंद पंजाब तथा जम्मू-कश्मीर पहुंचे। उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा कोई कारण नहीं है कि हम अपने अधिकारों का इस्तेमाल नहीं कर सकते (अपने पानी पर) और अपने किसानों को कठिनाई झेलने दें।’ उन्होंने कहा, ‘‘आपके खेतों की सिंचाई की जरूरत को पूरा करने के लिए मुझे आपके आशीर्वाद की जरूरत है।’



प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पाकिस्तान अभी तक सर्जिकल स्ट्राइक से उबर नहीं पाया है। भारत से लड़कर वह खुद अपना नुकसान कर रहा है। मोदी ने कहा, पहले सैनिक ताकत होते हुए भी अपनी ताकत नहीं दिखा पाते थे लेकिन अब नियंतण्ररेखा के पार 250 किमी के क्षेत्र में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाक ने हमारे बहादुर सैनिकों की ताकत देख ली है।