1. हिन्दी समाचार
  2. राफेल की ‘शस्त्र पूजा’ पर राजनाथ सिंह के बचाव में सामने आई पाकिस्तानी सेना, कहा यह धर्म के अनुसार

राफेल की ‘शस्त्र पूजा’ पर राजनाथ सिंह के बचाव में सामने आई पाकिस्तानी सेना, कहा यह धर्म के अनुसार

By बलराम सिंह 
Updated Date

Pakistani Army Came In Defense Of Rajnath Singh On Rafales Arms Worship Said This According To Religion

नई दिल्ली। विजयदशमी के मौके पर फ्रांस ने भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान सौंपा। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल की शस्त्र पूजा की और लड़ाकू विमान राफेल को ‘ऊं’ से भी अलंकृत किया था। इसके अलावा राफेल विमान के पहियों के नीचे नीबू भी रखा गया और नारियल से उसकी पूजा की गई। हालांकि, उस समय राजनाथ सिंह ने नहीं सोचा था कि उनकी पूजा से भारत में कई सवाल खड़े हो जाएंगे। विपक्षी पार्टियों ने शस्त्र पूजा को नौटंकी बताया था। वरिष्ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने राजनाथ सिंह की शस्त्र पूजा को ‘तमाशा’ बताया था। वहीं कांग्रेस नेता उदित राज ने भी आपत्ति जताते हुए कहा कि भारत में ‘अंधविश्वास’ जिस दिन समाप्त हो जाएगा, देश अपने खुद के फाइटर जेट बनाना शुरू कर देगा। लेकिन अब पाकिस्तान की तरफ से राजनाथ सिंह का साथ दिया गया है।

पढ़ें :- नारदा स्टिंग केस: चार नेताओं की गिरफ्तारी के बाद सियासी भूचाल, टीएमसी ने राज्यपाल पर उठाया सवाल

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने गुरुवार को ‘राफेल शस्त्र पूजा’ को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि ‘राफेल पूजा में कुछ भी गलत नहीं है क्योंकि यह धर्म के अनुसार है।’
गौरतलब है कि दशहरे के दिन जब फ्रांस में रक्षा मंत्री को राफेल लड़ाकू विमान सौंपा जा रहा था, उस समय राजनाथ सिंह ने उसकी पूजा की थी। क्योंकि दशहरे के दिन शस्त्रों की पूजा की जाती है। जिसके बाद से ही विपक्ष उन पर निशाना साध रहा है।

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने गुरुवार को ट्वीट किया कि ‘राफेल पूजा में कुछ भी गलत नहीं हैं क्योंकि यह धर्म के अनुसार है। यह अकेली मशीन नहीं जो मायने रखती है असल में उस मशीन को संभालने वाले व्यक्ति की क्षमता, जुनून और संकल्प मायने रखता है। हमें हमारे पीएएफ शहीदों पर गर्व हैं।’

पाकिस्तान की तरफ से यह बयान उस समय आया है जब दोनों देशों के बीच तनाव अपने चरम पर हैं। भारत द्वारा जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे पर की गई कार्रवाई को लेकर पाकिस्तान में रोष का माहौल है।

पढ़ें :- डब्ल्यू.वी. रमन को समर्थन दे रहे है पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X