1. हिन्दी समाचार
  2. पाकिस्तानी गेंदबाज ने कहा, अगर सौरव गांगुली ICC अध्यक्ष बने तो लाइफ बैन के खिलाफ करूंगा अपील

पाकिस्तानी गेंदबाज ने कहा, अगर सौरव गांगुली ICC अध्यक्ष बने तो लाइफ बैन के खिलाफ करूंगा अपील

By रवि तिवारी 
Updated Date

Pakistani Bowler Said If Sourav Ganguly Becomes Icc President I Will Appeal Against Life Ban

इंग्लिश काउंटी क्रिकेट में स्पॉट फिक्सिंग कांड में आजीवन प्रतिबंध झेल रहे पाकिस्तान के स्पिनर दानिश कनेरिया ने सौरव गांगुली के आईसीसी अध्यक्ष बनने का समर्थन किया है। कनेरिया ने कहा कि यदि सौरव गांगुली आईसीसी के अध्यक्ष बन जाते हैं तो वह मेरी हर संभव मदद करेंगे।

पढ़ें :- दिल्ली एम्स में ओपीडी सेवा शुक्रवार से , ऑनलाइन होगा पंजीकरण

दानिश कनेरिया ने कहा, ”यदि सौरव गांगुली आईसीसी के अध्यक्ष बन जाते हैं तो वह अपने लाइफ टाइम बैन के खिलाफ दोबारा अपील करेंगे।” वसीम अकरम, वकार यूनुस और इमरान खान के बाद टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट (261टेस्ट विकेट) लेने वाले दानिश कनेरिया 2012 में एसेक्स के लिए खेल रहे थे। तब इन पर स्पॉट फिक्सिंग के आरोप लगे थे।

शुरू में दानिश कनेरिया इन आरोपों को खारिज करते रहे, लेकिन अंततः उन्होंने 2018 में इन्हें स्वीकार कर लिया। कनेरिया ने सौरव को अद्भुत क्रिकेटर बताते हुए उन्हें आईसीसी प्रमुख के रूप में सबसे उपयुक्त उम्मीदवार बताया। उन्होंने कहा कि इस पद के लिए गांगुली से बेहतर कोई नहीं हो सकता।
उन्होंने कहा, ”गांगुली ने टीम इंडिया का बढ़िया ढंग से नेतृत्व किया। इसके बाद कमान महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली ने संभाली। फिलहाल गांगुली बीसीसीआई के अध्यक्ष हैं। मेरे विश्वास है कि वह क्रिकेट को आगे ले जाएंगे।”

कनेरिया ने कहा, ”अगर गांगुली आईसीसी के अध्यक्ष बन जाते हैं तो उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की मदद की जरूरत नहीं पड़ेगी। गांगुली का मामला खुद ही मजबूत है। उन्हें भी पीसीबी की जरूरत नहीं पड़ेगी।” दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्राम स्मिथ पहले खिलाड़ी है जिन्होंने गांगुली को अगला आईसीसी अध्यक्ष बनाए जाने का समर्थन किया है।

ग्रीम स्मिथ ने कहा, ”खेल कैसे प्रगति करता है, इसके लिए अब आईसीसी का अध्यक्ष पद अहम हो गया है। गांगुली जैसे क्रिकेटर को इस पद पर देखना बहुत अच्छा रहेगा। वह खेल को समझते हैं। वह उच्च स्तर पर खेले हैं और खेल का सम्मान करते हैं। उनकी नियक्ति अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बड़ा कदम होगी।” यदि सुप्रीम कोर्ट बीसीसीआई के रूप में उन्हें विस्तार नहीं देता तो इस तरह की खबरें हैं कि पूर्व भारतीय कप्तान शशांक मनोहर को रिप्लेस कर सकते हैं।

पढ़ें :- विश्वविद्यालय में कैश बुक व बैलेन्स सीट अनिवार्य रूप से तैयार की जाये : आनंदीबेन पटेल

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X