अरबो के कर्ज को चुकाने के लिए पाकिस्तान करेगा भैंसों की निलामी, इन चीजों को भी बेंचेगी सरकार

pm imran khan
अरबो के कर्ज को चुकाने के लिए पाकिस्तान करेगा भैंसों की निलामी, इन चीजों को भी बेंचेगी सरकार

Pakistani Government Will Sell Baffalow And Luxury Cars For Get Rid Of Finance Crisis

नई दिल्ली। चीन और वर्ल्ड बैंक के अरबों रुपये के कर्ज के नीचे दबे पाकिस्तान ने इससे उबरने के लिए एक नया अख्तियार करने का फैसला लिया है। इसकी जानकारी लोगों को मिली तो पाकिस्तान की जनता ने दांतों तले उंगलिया दबा लीं। पाकिस्तान को अरबों रुपये के कर्ज से उबारने और नया पाकिस्तान बनाने के अपने वादे की ओर इमरान खान ने एक कदम बढ़ा दिया है।

कर्ज चुकाने और पैसों की कमी से उबरने के लिए इमरान खान की सरकार ने फैसला किया है कि वह 100 से ज्यादा लग्जरी कारों से लेकर भैंस तक की नीलामी करेगी। इमरान खान की किफायत बरतने की मुहिम के तहत प्रधानमंत्री आवास की 102 लग्जरी कारों में से 70 कारों को सोमवार को नीलाम कर दिया गया। सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने बताया है कि पहले चरण में 70 लग्जरी कारों को उनकी बाजारी कीमत पर बेंचा गया है।

उन्होने बताया कि 2016 मॉडल की 24 मर्सिडीज बेंज कार नीलाम की गई हैं। 28 अन्य कारों में दो 4000 सीसी के एसयूवी भी हैं जिन्हें बेचा गया है। इनको बेचकर 200 मिलियन पाकिस्तानी रुपये ($1.6 million ) जमा किए गए हैं। प्रधानमंत्री आवास की आठ भैंसे बेचने की भी योजना है। खान के एक करीबी सहयोगी ने पिछले सप्ताह बताया था कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने आठ भैंसें पाल रखी थीं। इन्हें भी नीलाम किया जाएगा।

सूत्रों का कहना है कि सरकार सुरक्षा में इस्तेमाल होने वाली बुलेट और बम प्रूफ कारें भी बेचेगी। जल्द ही चार नए मॉडल वाली मर्सिडीज बेंज कारें, आठ बुलेटप्रूफ बीएमडब्ल्यू कार, तीन 5000 सीसी वाली एसयूवी कार और दो 3000 सीसी वाली एसयूवी को बेचा जाएगा। इनके अतिरिक्त 40 टोयोटा कारों और लेक्सस और लैंड क्रूजर एसयूवी की भी नीलामी की जाएगी।

राजनीतिक मामलों में प्रधानमंत्री के विशेष सहायक नईम-उल-हक ने कहा कि सरकार मंत्रिमंडल के उपयोग के लिए रखे गए चार हेलीकॉप्टर भी नीलाम करेगी। आपको बता दें कि लग्जरी चीजों के बेचने और सरकारी खर्चे के बोझ को कम करने का वादा इमरान खान ने पाकिस्तान चुनाव के वक्त किया था, जिसे वह निभा रहे हैं।

बता दें कि पाकिस्तान का कुल कर्ज बढ़कर पिछले वित्त वर्ष के अंत तक करीब 30 हजार अरब रुपये पर पहुंच गया है। जबकि पाकिस्तान का सरकारी खजाना खाली हो चुका है। प्रधानमंत्री का मानना है कि पाकिस्तान की आर्थ‍िक हालात को ठीक नहीं किया गया तो वह कंगाल हो जाएगा।

नई दिल्ली। चीन और वर्ल्ड बैंक के अरबों रुपये के कर्ज के नीचे दबे पाकिस्तान ने इससे उबरने के लिए एक नया अख्तियार करने का फैसला लिया है। इसकी जानकारी लोगों को मिली तो पाकिस्तान की जनता ने दांतों तले उंगलिया दबा लीं। पाकिस्तान को अरबों रुपये के कर्ज से उबारने और नया पाकिस्तान बनाने के अपने वादे की ओर इमरान खान ने एक कदम बढ़ा दिया है। कर्ज चुकाने और पैसों की कमी से उबरने के लिए इमरान खान…