‘हाई-रेटेड गबरू’ गाने की वजह से मुश्किल में पाकिस्तानी महिला, मिली ये सजा

'हाई-रेटेड गबरू' गाने की वजह से मुश्किल में पाकिस्तानी महिला, दिया गया सजा
'हाई-रेटेड गबरू' गाने की वजह से मुश्किल में पाकिस्तानी महिला, दिया गया सजा

नई दिल्ली। पाकिस्तान हवाई अड्डा सुरक्षा बल ने सोमवार को अपनी एक महिला कर्मचारी को दंडित किया। दरअसल वह पाकिस्तानी झंडे लगी टोपी पहनते समय एक भारतीय गाना ‘हाई रेटेड गबरू’ गुनगुना रही थी जिसका वीडियो सोशल नेटवर्किंग साइटों पर वायरल हो गया।

Pakistani Woman Punished For Singing Indian Song :

दरअसल यह महिला गुरु रंधावा का बेहद चर्चित गाना ‘हाई-रेटेड गबरू’ गुनगुना रही थी, जिसका वीडियो सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों पर वायरल हो गया था। इसके बाद अधिकारियों ने मामले की जांच का आदेश दिया था। एयरपोर्ट सिक्योरिटी फोर्स (एएसएफ) ने आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में 25 वर्षीय महिला कर्मचारी के वेतन और भत्तों में दो साल तक वृद्धि पर रोक लगा दी है।

अधिकारियों ने इसके साथ ही उन्हें आगाह किया है कि अगर वह भविष्य में आचार संहिता का फिर से उल्लंघन करती हैं, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पहले भी हो चुकी है कार्रवाई

पाकिस्तान में ऐसी कार्रवाई कोई पहली बार नहीं हुई। साल 2016 में वहां के एक शख्स उमर द्राज ने भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली की तारीफ में कुछ शब्द कहे थे। पाकिस्तानी प्रशासन को यह बात रास नहीं आई और उसे सजा सुनाई गई थी। उस शख्स की एक गलती और थी कि उसने अपने घर पर भारतीय झंडा लगा दिया था।

पाक की एक अदालत ने कोहली के प्रति प्यार जताने और तिरंगा लहराने के जुर्म में उस शख्स को 10 साल जेल की सजा सुनाई थी। 22 साल का उमर द्राज पेशे से दर्जी है। द्राज को पुलिस ने शिकायत मिलने पर उसके घर से गिरफ्तार किया था। इतना ही नहीं, पुलिस ने पाकिस्तानी दंड संहिता की धारा 123ए और 16 के तहत उमर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पाक में धारा 123-ए देश की संप्रभुता को नुकसान पहुंचाने वाली कार्रवाई के लिए चस्पा की जाती है।

साल 2017 में एक और मामला सामने आया था। वहां के एक न्यूज चैनल के खिलाफ मुकदमा सिर्फ इसलिए दर्ज किया गया था क्योंकि उसने भारत की तारीफ की थी।

नई दिल्ली। पाकिस्तान हवाई अड्डा सुरक्षा बल ने सोमवार को अपनी एक महिला कर्मचारी को दंडित किया। दरअसल वह पाकिस्तानी झंडे लगी टोपी पहनते समय एक भारतीय गाना ‘हाई रेटेड गबरू’ गुनगुना रही थी जिसका वीडियो सोशल नेटवर्किंग साइटों पर वायरल हो गया। दरअसल यह महिला गुरु रंधावा का बेहद चर्चित गाना 'हाई-रेटेड गबरू' गुनगुना रही थी, जिसका वीडियो सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों पर वायरल हो गया था। इसके बाद अधिकारियों ने मामले की जांच का आदेश दिया था। एयरपोर्ट सिक्योरिटी फोर्स (एएसएफ) ने आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में 25 वर्षीय महिला कर्मचारी के वेतन और भत्तों में दो साल तक वृद्धि पर रोक लगा दी है। अधिकारियों ने इसके साथ ही उन्हें आगाह किया है कि अगर वह भविष्य में आचार संहिता का फिर से उल्लंघन करती हैं, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पहले भी हो चुकी है कार्रवाई

पाकिस्तान में ऐसी कार्रवाई कोई पहली बार नहीं हुई। साल 2016 में वहां के एक शख्स उमर द्राज ने भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली की तारीफ में कुछ शब्द कहे थे। पाकिस्तानी प्रशासन को यह बात रास नहीं आई और उसे सजा सुनाई गई थी। उस शख्स की एक गलती और थी कि उसने अपने घर पर भारतीय झंडा लगा दिया था। पाक की एक अदालत ने कोहली के प्रति प्यार जताने और तिरंगा लहराने के जुर्म में उस शख्स को 10 साल जेल की सजा सुनाई थी। 22 साल का उमर द्राज पेशे से दर्जी है। द्राज को पुलिस ने शिकायत मिलने पर उसके घर से गिरफ्तार किया था। इतना ही नहीं, पुलिस ने पाकिस्तानी दंड संहिता की धारा 123ए और 16 के तहत उमर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पाक में धारा 123-ए देश की संप्रभुता को नुकसान पहुंचाने वाली कार्रवाई के लिए चस्पा की जाती है। साल 2017 में एक और मामला सामने आया था। वहां के एक न्यूज चैनल के खिलाफ मुकदमा सिर्फ इसलिए दर्ज किया गया था क्योंकि उसने भारत की तारीफ की थी।