पाकिस्तान का झूठ फिर बेनकाब, एयर स्ट्राइक में मारे गए पायलटों के लिए बनवाया स्मारक

pak
पाकिस्तान का झूठ फिर बेनकाब, एयर स्ट्राइक में मारे गए पायलटों के लिए बनवाया स्मारक

नई दिल्ली। पाकिस्तान (Pakistan) का झूठ एक बार फिर से दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है। 27 फरवरी को भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) की एयर स्ट्राइक (airstrike) में मारे गए पाकिस्तानी पायटों के लिए स्मारक बनवाया है। इस मेमोरियल का उद्घाटन 7 सितंबर को पाकिस्तान वायुसेना दिवस के दिन किया गया।

Pakistans Lie Again Exposed Memorial Built For Pilots Killed In Air Strike :

आपको बता दें एमरॉम मिसाइल सिर्फ एफ-16 से ही दागी जा सकती है। पाकिस्तान का कहना है कि मिग-21 बाइसन (MIG-21 Bison) को भी एमरॉम से निशाना बनाया गया था। हक़ीक़त ये है कि अभिनन्दन ने जो एफ-16 मार गिराया था पाकिस्तान ने उसकी तस्दीक़ की है।  

F-16 का भी किया है जिक्र

मेमोरियल में लिखा गया है कि सुखोई-30 MKI को PAF F-16 उड़ा रहे स्क्वाड्रन लीडर हसन महमूद सिद्दकी ने एआईएम-120 एमरॉम बीवीआर मिसाइल का इस्तेमाल कर उसे गिरा दिया था। यही नहीं उसने विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Wing Commander Abhinandan Varthman) के विमान मिग-21 बाइसन के संदर्भ में भी एफ-16 विमान का ही ज़िक्र किया है। जिसे अभिनंदन ने मार गिराया था।

पुलवामा हमले का भारत ने लिया था बदला

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) में 14 फरवरी को आतंकियों ने सुरक्षाबलों के एक काफिले को निशाना बनाकर आत्मघाती हमला किया था जिसमें करीब 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish E Mohammad) ने ली थी। भारत ने इसका बदला लेते हुए 27 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट (Balakot) समेत जैश-ए-मोहम्मद के कई ठिकानों को निशाना बनाकर हमला किया था। इसके अगले पाकिस्तान ने अपने एफ-16 विमान को मार गिराया था।

नई दिल्ली। पाकिस्तान (Pakistan) का झूठ एक बार फिर से दुनिया के सामने बेनकाब हो गया है। 27 फरवरी को भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) की एयर स्ट्राइक (airstrike) में मारे गए पाकिस्तानी पायटों के लिए स्मारक बनवाया है। इस मेमोरियल का उद्घाटन 7 सितंबर को पाकिस्तान वायुसेना दिवस के दिन किया गया। आपको बता दें एमरॉम मिसाइल सिर्फ एफ-16 से ही दागी जा सकती है। पाकिस्तान का कहना है कि मिग-21 बाइसन (MIG-21 Bison) को भी एमरॉम से निशाना बनाया गया था। हक़ीक़त ये है कि अभिनन्दन ने जो एफ-16 मार गिराया था पाकिस्तान ने उसकी तस्दीक़ की है।   F-16 का भी किया है जिक्र मेमोरियल में लिखा गया है कि सुखोई-30 MKI को PAF F-16 उड़ा रहे स्क्वाड्रन लीडर हसन महमूद सिद्दकी ने एआईएम-120 एमरॉम बीवीआर मिसाइल का इस्तेमाल कर उसे गिरा दिया था। यही नहीं उसने विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Wing Commander Abhinandan Varthman) के विमान मिग-21 बाइसन के संदर्भ में भी एफ-16 विमान का ही ज़िक्र किया है। जिसे अभिनंदन ने मार गिराया था। पुलवामा हमले का भारत ने लिया था बदला जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के पुलवामा (Pulwama) में 14 फरवरी को आतंकियों ने सुरक्षाबलों के एक काफिले को निशाना बनाकर आत्मघाती हमला किया था जिसमें करीब 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish E Mohammad) ने ली थी। भारत ने इसका बदला लेते हुए 27 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट (Balakot) समेत जैश-ए-मोहम्मद के कई ठिकानों को निशाना बनाकर हमला किया था। इसके अगले पाकिस्तान ने अपने एफ-16 विमान को मार गिराया था।