पाकिस्तान के मंत्री ने भारत के खिलाफ उगला जहर, अंग्रेजी की दशा देख उड़ रहा मजाक

Fawad Hussain
पाकिस्तान के मंत्री ने भारत के खिलाफ उगला जहर, अंग्रेजी की दशा देख उड़ रहा मजाक

नई दिल्ली। भारत के खिलाफ पाकिस्तान और उसके नेता हर मौकों पर जहर उगलने की कोशिश करते रहते हैं, मगर अक्सर किसी न किसी वजह से अपनी किरकिरी खुद करा लेते हैं। कोरोना वायरस के कहर के बीच पाकिस्तान के विज्ञान और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद हुसैन चौधरी भी उस वक्त सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए, जब उन्होंने भारत की आलोचना करने के लिए अंग्रेजी का सहारा लिया। दरअसल, फवाद चौधरी ने कोरोना वायरस और भारत में जारी लॉकडाउन पर अंग्रेजी में एक ट्वीट किया, जिसमें सिर्फ गलतियां ही नहीं, बल्कि गलतियों का अंबार दिखा।

Pakistans Minister Spewed Poison Against India Mocking English Conditions :

पाक मंत्री फवाद चौधरी ने जो ट्वीट किया, उसके अंग्रेजी को सही करने पर जो मतलब निकलता है वह यह है, ‘भारत के लोगों को कोरोना वायरस लॉकडाउन से ये सबक लेना चाहिए कि राजनीतिक दबाव का कभी समर्थन ना करें। मोदी सरकार ने कश्‍मीर के अनिश्चितकालीन लॉकडाउन के जरिए लोगों को दर्द दिया। भारत यह दर्द महामारी की वजह से नहीं बल्कि इस वजह से झेल रहा है क्‍योंकि भारत का राजनीतिक नेतृत्व विफल रहा है।’

फवाद के इस ट्वीट में एक नहीं, बल्कि कई गलतियां हैं। इस ट्वीट के गलतियों पर नजर दौड़ाने पर पाते हैं कि पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी ने पहले India को Endia लिखा। फिर वह हैशटैग CoronaLockdown लिखने में गलती कर बैठे और इसके बदले CoronaLockddow लिख दिया। इतना ही नहीं, उन्होंने Pandemic, जिसका मतलब महामारी होता है, को Pendamic लिख बैठे। हैरान करने वाली बात है कि वह Because की अंग्रेजी भी becauuse गलत लिख बैठ।

इसके बाद तो सोशल मीडिया पर उनकी जमकर ट्रोलिंग हुई। खुद पाकिस्तानियों ने पोस्ट का समर्थन करने के बजाय उनकी अंग्रेजी को लेकर #RIPEnglish के तहत जबरदस्त चुटकी ली थी। कुछ यूजर ने तो यहां तक लिखा था कि चौधरी ने गूगल ट्रांसलेटर पर जाकर पंजाबी में लिखे ट्वीट का अंग्रेजी में अनुवाद किया होगा। कुछ ने तो ग्रामर तक भेजने की बात कही। बता दें कि इससे पहले भी वह ट्रोल हो चुके हैं।

नई दिल्ली। भारत के खिलाफ पाकिस्तान और उसके नेता हर मौकों पर जहर उगलने की कोशिश करते रहते हैं, मगर अक्सर किसी न किसी वजह से अपनी किरकिरी खुद करा लेते हैं। कोरोना वायरस के कहर के बीच पाकिस्तान के विज्ञान और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद हुसैन चौधरी भी उस वक्त सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए, जब उन्होंने भारत की आलोचना करने के लिए अंग्रेजी का सहारा लिया। दरअसल, फवाद चौधरी ने कोरोना वायरस और भारत में जारी लॉकडाउन पर अंग्रेजी में एक ट्वीट किया, जिसमें सिर्फ गलतियां ही नहीं, बल्कि गलतियों का अंबार दिखा। पाक मंत्री फवाद चौधरी ने जो ट्वीट किया, उसके अंग्रेजी को सही करने पर जो मतलब निकलता है वह यह है, 'भारत के लोगों को कोरोना वायरस लॉकडाउन से ये सबक लेना चाहिए कि राजनीतिक दबाव का कभी समर्थन ना करें। मोदी सरकार ने कश्‍मीर के अनिश्चितकालीन लॉकडाउन के जरिए लोगों को दर्द दिया। भारत यह दर्द महामारी की वजह से नहीं बल्कि इस वजह से झेल रहा है क्‍योंकि भारत का राजनीतिक नेतृत्व विफल रहा है।' फवाद के इस ट्वीट में एक नहीं, बल्कि कई गलतियां हैं। इस ट्वीट के गलतियों पर नजर दौड़ाने पर पाते हैं कि पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी ने पहले India को Endia लिखा। फिर वह हैशटैग CoronaLockdown लिखने में गलती कर बैठे और इसके बदले CoronaLockddow लिख दिया। इतना ही नहीं, उन्होंने Pandemic, जिसका मतलब महामारी होता है, को Pendamic लिख बैठे। हैरान करने वाली बात है कि वह Because की अंग्रेजी भी becauuse गलत लिख बैठ। इसके बाद तो सोशल मीडिया पर उनकी जमकर ट्रोलिंग हुई। खुद पाकिस्तानियों ने पोस्ट का समर्थन करने के बजाय उनकी अंग्रेजी को लेकर #RIPEnglish के तहत जबरदस्त चुटकी ली थी। कुछ यूजर ने तो यहां तक लिखा था कि चौधरी ने गूगल ट्रांसलेटर पर जाकर पंजाबी में लिखे ट्वीट का अंग्रेजी में अनुवाद किया होगा। कुछ ने तो ग्रामर तक भेजने की बात कही। बता दें कि इससे पहले भी वह ट्रोल हो चुके हैं।