1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अपना दल कमेरावादी की विधायक पल्लवी पटेल के पति पंकज का पार्टी से इस्तीफा, ये है बड़ी वजह

अपना दल कमेरावादी की विधायक पल्लवी पटेल के पति पंकज का पार्टी से इस्तीफा, ये है बड़ी वजह

यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections) में बीजेपी प्रत्याशी केशव मौर्य (Keshav Prasad Maurya) को हराने वाली पल्लवी पटेल (Pallavi Patel) को रविवार को बड़ा झटका लगा है। उनके पति पंकज पटेल (Pankaj Patel) ने अपनी पार्टी अपना दल कमेरावादी (Apna Dal Comrawadi) से इस्तीफा दे दिया है। पंकज पटेल पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव (Pankaj Patel Party National General Secretary) थे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections) में बीजेपी प्रत्याशी केशव मौर्य (Keshav Prasad Maurya) को हराने वाली पल्लवी पटेल (Pallavi Patel) को रविवार को बड़ा झटका लगा है। उनके पति पंकज पटेल (Pankaj Patel) ने अपनी पार्टी अपना दल कमेरावादी (Apna Dal Comrawadi) से इस्तीफा दे दिया है। पंकज पटेल पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव (Pankaj Patel Party National General Secretary) थे।

पढ़ें :- महराजगंज:एमएलसी चुनाव के मतदान स्थलों की तैयारियों का डीएम व एसपी ने लिया जायजा

मिली जानकारी के अनुसार वह पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल (National President Krishna Patel) से मतभेदों के बाद पकंज पटेल ने इस्तीफा दिया है। हालांकि इस संबंध में फिलहाल कुछ स्पष्ट नहीं है। लेकिन उन्होंने अपनी ही पार्टी को अलविदा कह दिया है।

बता दें कि पंकज पटेल निरंजन की शादी सोनेलाल पटेल की बड़ी बेटी पल्लवी पटेल से हुई है। पंकज पटेल शादी के पहले से ही संघ परिवार से जुड़े रहे हैं। वे संघ के पूर्णकालिक सक्रिय सदस्य रह चुके हैं। पहले भी सामने आ चुकी है पारिवारिक कलह इससे पहले पिछले साल अक्टूबर में अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल की विरासत को लेकर परिवार में कलह मची थी। सोनेलाल पटेल (Sonelal Patel) की दो बेटियां अनुप्रिया पटेल और पल्लवी पटेल के बीच पहले से ही सियासी वर्चस्व के लिए अदावत दिखी थी।

सोनलाल पटेल (Sonelal Patel)  की तीसरी बेटी अमन पटेल ने बड़ी बहन पल्लवी पटेल (Pallavi Patel)  पर गंभीर आरोप लगाए थे। अमन पटेल ने यूपी के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) को पत्र लिखकर अपनी सबसे बड़ी बहन व अपना दल की कार्यकारी अध्यक्ष पल्लवी पटेल (Pallavi Patel)  पर पिता की संपत्ति हड़पने का आरोप लगाया था। इसके साथ ही माता कृष्णा पटेल को तत्काल सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने की मांग की थी।

इसके अलावा उन्होंने बड़ी बहन और उनके पति पंकज निरंजन पर माता कृष्णा पटेल (Krishna Patel) पर अनर्गल दबाव बनाने का भी आरोप लगाए थे। अमन पटेल ने डीजीपी को लिखे पत्र में कहा था कि 2009 में पिता की मृत्यु के बाद मां कृष्णा पटेल (Krishna Patel) व सभी बहनों की सहमति पर बड़ी बहन पल्लवी ने कानपुर स्थित पिताजी के समस्त कारोबार की बागडोर संभाली। उन्होंने आरोप लगाया था कि पिता की संपत्ति बिना किसी को जानकारी दिए हुए 2015 में ही बड़ी बहन ने अपने नाम वसीहत करा ली। उन्होंने दावा किया कि संपत्ति वसीयत के कुछ मूल दस्तावेज वसीयत पंजीकरण कार्यालय से कुछ दिन पहले ही मिलने के बाद उन्हें यह जानकारी हुई।

पढ़ें :- गौतम अडानी का साम्राज्य तबाह करने वाले नाथन एंडरसन जानें कौन हैं?

अनुप्रिया पटेल की बहन हैं पल्लवी पटेल

अनुप्रिया पटेल (Anupriya Patel) की पल्लवी पटेल (Pallavi Patel)  की सगी बहन हैं। उनके पिता सोनेलाल यूपी के बड़े नेता थे। मायावती के करीबी माने जाते थे। उन्होंने ही अपना दल की स्थापना की थी। 2009 में सोनेलाल के निधन के बाद उनकी पत्नी कृष्णा पटेल ने पार्टी की कमान संभाली। 2014 में मिर्जापुर से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अनुप्रिया पटेल ने बगावत कर दी। जिसके बाद अनुप्रिया पटेल (Anupriya Patel)  और उनके पति आशीष सिंह को पार्टी से निकाल दिया गया था। इसके बाद दिसंबर 2016 में अनुप्रिया पटेल ने एक नई पार्टी अपना दल (सोनेलाल) बनाई। दूसरा गुट कृष्णा पटेल का है, जिसकी कमान कृष्णा पटेल (Krishna Patel)  और उनकी बेटी पल्लवी पटेल के पास है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...