1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. पंचांग: शुक्रवार, 6 मई 2022

पंचांग: शुक्रवार, 6 मई 2022

यह पृष्ठ 6 मई, 2022 को तिथि, नक्षत्र, अच्छा और बुरा समय आदि दिखाता है।

पंचांग: शुक्रवार, 6 मई 2022

पढ़ें :- Aaj ka Panchang: माघ शुक्ल पक्ष सप्तमी, जाने शुभ-अशुभ समय मुहूर्त और राहुकाल...

विक्रम संवत – 2079, राक्षस :
शक संवत – 1944, शुभकृतो
पूर्णिमांत – वैशाख :
अमंत मास – वैशाख

तिथि
शुक्ल पक्ष पंचमी – 05 मई 10:01 पूर्वाह्न – 06 मई 12:33 अपराह्न
शुक्ल पक्ष षष्ठी – 06 मई 12:33 अपराह्न – 07 मई 02:56 अपराह्न

नक्षत्र
आर्द्रा – 05 मई 06:16 पूर्वाह्न – मई 06 09:20 पूर्वाह्न
पुनर्वसु – मई 06 09:20 पूर्वाह्न – 07 मई 12:18 अपराह्न

करण
बलवा – मई 05 11:17 अपराह्न – 06 मई 12:33 अपराह्न
कौलवा – मई 06 12:33 अपराह्न – 07 मई 01:46 पूर्वाह्न
तैतीला – मई 07 01:46 पूर्वाह्न – मई 07 02:57 अपराह्न

पढ़ें :- 28 जनवरी 2023 राशिफल: इन जातकों के परिवार में रहेंगी खुशियां, इन्हें होगा धनलाभ

योग
धृति – 05 मई 06:06 अपराह्न – 06 मई 07:06 अपराह्न
सूला – 06 मई 07:06 अपराह्न – मई 07 07:58 अपराह्न

वारा
शुक्रवार (शुक्रवार)
त्यौहार और व्रत
सूरदास जयंती

सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 5:54 AM
सूर्यास्त – 6:52 अपराह्न
चंद्रोदय – मई 06 9:45 AM
चंद्रास्त – मई 06 11:52 अपराह्न

अशुभ काल
राहु – 10:46 पूर्वाह्न – 12:23 अपराह्न
यमगंडा – 3:38 अपराह्न – 5:15 अपराह्न
गुलिका – 7:31 पूर्वाह्न – 9:09 पूर्वाह्न
दुर मुहूर्त – 08:30 पूर्वाह्न – 09:21 पूर्वाह्न, 12:49 अपराह्न – 01:41 अपराह्न
वरज्यम – 10:49 अपराह्न – 12:37 पूर्वाह्न

शुभ मुहूर्त
अभिजीत मुहूर्त – 11:57 पूर्वाह्न – 12:49 अपराह्न
अमृत ​​काल – कोई नहीं
ब्रह्म मुहूर्त – 04:18 पूर्वाह्न – 05:06 पूर्वाह्न

पढ़ें :- Budh Gochar 2023 : बुध के गोचर से इन राशियों की बदलने वाली है किस्मत, होगी तरक्की

आनंददी योग
पद्मा तक – 09:20 AM
लुम्बक

सूर्या रसी
मेष राशि में सूर्य (मेष)

चंद्र रासी
करका राशि में प्रवेश करने से पहले चंद्रमा मिथुन राशि से 07 मई, 05:35 पूर्वाह्न तक यात्रा करता है

चंद्र मास
अमंता – वैशाख :
पूर्णिमांत – वैशाख :
शक वर्ष (राष्ट्रीय कैलेंडर) – वैशाख 16, 1944
वैदिक ऋतु – वसंत (वसंत)
ड्रिक रितु – ग्रिश्मा (ग्रीष्मकालीन)

शुभ योग
सर्वार्थ सिद्धि – मई 06 09:20 पूर्वाह्न – 07 मई 05:53 पूर्वाह्न (पुनरवसु और शुक्रवार)

चंद्राष्टम
1. विशाखा अंतिम 1 पदम, अनुराधा , ज्येष्ठ

पढ़ें :- February 2023 Vrat Tyohar : फुलेरा दूज पर श्री कृष्ण और राधा रानी फूलों की होली खेलते हैं, जानिए फरवरी माह के व्रत त्योहार

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...