1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. 20 जून का पंचांग: शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय नक्षत्र, जानिए कौन सा समय अच्छा और कौन सा बुरा

20 जून का पंचांग: शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय नक्षत्र, जानिए कौन सा समय अच्छा और कौन सा बुरा

पंचांग 20 जून 2021 में आपको शुभ मुहूर्त, राहुकाल, सूर्योदय और सूर्यास्त का समय, तिथि, करण, नक्षत्र, सूर्य और चंद्र ग्रह की स्थिति, हिंदू मास एवं पक्ष आदि की जानकारी मिलती है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

20 जून का पंचांग

पढ़ें :- Aaj ka Panchang : 04 सितंबर का जानें शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

विक्रम संवत – 2078,
शक संवत – 1943,
पूर्णिमांता – ज्येष्ठ:
अमंत मास – ज्येष्ठ

तिथि
शुक्ल पक्ष दशमी – जून 19 06:45 अपराह्न – जून 20 04:21 अपराह्न
शुक्ल पक्ष एकादशी – जून 20 04:21 अपराह्न – जून 21 01:31 अपराह्न

नक्षत्र
चित्रा – जून 19 08:28 अपराह्न – जून 20 06:49 अपराह्न
स्वाति – जून 20 06:49 अपराह्न – जून 21 04:45 अपराह्न

करण
गरिजा – जून 20 05:37 पूर्वाह्न – जून 20 04:21 अपराह्न
वनिजा – जून 20 04:21 अपराह्न – जून 21 02:59 पूर्वाह्न
विष्टी – जून 21 02:59 पूर्वाह्न – जून 21 01:31 अपराह्न

पढ़ें :- Aaj ka Panchang : आज भाद्रपद शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि है, भगवान बृहस्पति की करें पूजा

योग
परिघा – जून 20 12:05 पूर्वाह्न – 20 जून 08:59 अपराह्न
शिव – जून 20 08:59 अपराह्न – जून 21 05:33 अपराह्न

वारा
रविवर (रविवार)

त्यौहार और व्रत
गंगा दशहरा

सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 5:45 AM
सूर्यास्त – 7:11 अपराह्न
चंद्रोदय – जून 20 2:35 अपराह्न
चंद्रास्त – जून २१:२७ पूर्वाह्न

अशुभ काल
राहु – ५:३० अपराह्न – ७:११ अपराह्न
यमगंडा – 12:28 अपराह्न – 2:09 अपराह्न
गुलिक – 3:49 अपराह्न – 5:30 अपराह्न
दुर मुहूर्त – 05:23 अपराह्न – 06:17 अपराह्न
वरज्यम – 11:56 अपराह्न – 01:24 पूर्वाह्न

पढ़ें :- Panchang: भाद्रपद कृष्ण पक्ष अमावस्या, जाने शुभ मुहूर्त, अशुभ समय, मुहूर्त और राहुकाल के बारे में

शुभ मुहूर्त
अभिजीत मुहूर्त – 12:01 अपराह्न – 12:55 अपराह्न
अमृत ​​काल – 12:52 अपराह्न – 02:21 अपराह्न
ब्रह्म मुहूर्त – 04:09 पूर्वाह्न – 04:57 पूर्वाह्न

आनंददी योग
पद्मा तक – 06:49 अपराह्न
मिथुन राशि में सूर्य (मिथुन)

चंद्र रासी
तुला राशि में प्रवेश करने से पहले चंद्रमा 20 जून, 07:42 पूर्वाह्न तक कन्या राशि में भ्रमण करता है

चंद्र मास
अमंता – ज्येष्ठः
पूर्णिमांता – ज्येष्ठ:

शक वर्ष – ज्येष्ठ 30, 1943
वैदिक ऋतु – ग्रिश्मा (ग्रीष्मकालीन)
ड्रिक रितु – ग्रिश्मा (ग्रीष्मकालीन)

पढ़ें :- 24 अगस्त 2022 का पंचांग : आज भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि है,भगवान विघ्नविनाशक की कृपा मिलेगी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...