1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. 25 जून का पंचांग: जानें शुक्रवार का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय, आज के दिन ये चीजें खाना हैं वर्जित

25 जून का पंचांग: जानें शुक्रवार का शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय, आज के दिन ये चीजें खाना हैं वर्जित

पंचांग शुक्रवार 25 जून 2021 में आपको शुभ मुहूर्त, राहुकाल, सूर्योदय और सूर्यास्त का समय, नक्षत्र, सूर्य और चंद्र ग्रह की स्थिति तिथि, करण, हिंदू मास एवं पक्ष आदि की जानकारी दी गई है

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

25 जून 2021 का दैनिक पंचांग

पढ़ें :- आज का पंचांग : पंचांग • शुक्रवार, 20 अगस्त, 2021
Jai Ho India App Panchang

विक्रम संवत – 2078,
शक संवत – 1943,
पूर्णिमांत – आषाढ़:
अमंत मास – ज्येष्ठ

तिथि
कृष्ण पक्ष प्रतिपदा – जून 25 12:09 पूर्वाह्न – जून 25 08:59 अपराह्न
कृष्ण पक्ष द्वितीया – जून 25 08:59 अपराह्न – जून 26 06:11 अपराह्न

नक्षत्र
मूल – जून 24 09:11 पूर्वाह्न – जून 25 06:40 पूर्वाह्न
पूर्वा आषाढ़ – जून 25 06:40 पूर्वाह्न – जून 26 04:25 पूर्वाह्न
उत्तरा आषाढ़ – जून 26 04:25 पूर्वाह्न – जून 27 02:36 पूर्वाह्न

करण
बलवा – जून 25 12:09 पूर्वाह्न – जून 25 10:32 पूर्वाह्न
कौलवा – जून 25 10:32 पूर्वाह्न – जून 25 08:59 अपराह्न
तैतीला – जून 25 08:59 अपराह्न – जून 26 07:32 पूर्वाह्न

पढ़ें :- आज का पंचांग: गुरुवार, 19 अगस्त, 2021, पंचांग

योग
ब्रह्मा – जून 25 02:16 पूर्वाह्न – जून 25 10:37 अपराह्न
इंद्र – जून 25 10:38 अपराह्न – जून 26 07:18 अपराह्न

वारा
शुक्रवार (शुक्रवार)
सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 5:47 AM
सूर्यास्त – 7:12 अपराह्न
चंद्रोदय – जून २५ ८:०८ अपराह्न
चांदनी – जून 26 7:01 पूर्वाह्न

अशुभ काल
राहु – 10:48 पूर्वाह्न – 12:29 अपराह्न
यमगंडा – 3:50 अपराह्न – 5:31 अपराह्न
गुलिका – 7:27 पूर्वाह्न – 9:08 पूर्वाह्न
दुर मुहूर्त – 08:28 पूर्वाह्न – 09:21 पूर्वाह्न, 12:56 अपराह्न – 01:49 अपराह्न
वर्ज्यम – 11:49 पूर्वाह्न – 01:18 अपराह्न

शुभ मुहूर्त
अभिजीत मुहूर्त – 12:02 अपराह्न – 12:56 अपराह्न
अमृत ​​काल – 12:04 पूर्वाह्न – 01:31 पूर्वाह्न
ब्रह्म मुहूर्त – 04:10 पूर्वाह्न – 04:58 पूर्वाह्न

आनंददी योग
स्थिरा (सुस्थिर) तक – 06:40 AM
वृद्धी (वार्थमान) तक – 04:25 AM

पढ़ें :- पंचांग • मंगलवार, 17 अगस्त, 2021

सूर्या रसी
मिथुन राशि में सूर्य (मिथुन)

चंद्र रासी
चंद्रमा धनु (धनु) में भ्रमण करता है

चंद्र मास
अमंता – ज्येष्ठः
पूर्णिमांत – आषाढ़:
शक वर्ष (राष्ट्रीय कैलेंडर) – आषाढ़ 4, 1943
वैदिक ऋतु – ग्रिश्मा (ग्रीष्मकालीन)
ड्रिक रितु – वर्षा (मानसून)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...