1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. पंचांग: मंगलवार, 12 अप्रैल, 2022

पंचांग: मंगलवार, 12 अप्रैल, 2022

पंचांग 12/04/22, मंगलवार। यह पृष्ठ 12 अप्रैल, 2022 को तिथि, नक्षत्र, अच्छा और बुरा समय आदि दिखाता है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

पंचांग: मंगलवार, 12 अप्रैल, 2022

पढ़ें :- 27 जून 2022 का पंचांग: जाने आज का पंचांग, शुभ मुहूर्त और नक्षत्र की चाल के बारे में ...

विक्रम संवत – 2079, राक्षस
शक सम्वत – 1944, शुभकृत्
पूर्णिमांत – चैत्र
अमांत – चैत्र

तिथि
शुक्ल पक्ष एकादशी – Apr 12 04:30 AM – Apr 13 05:02 AM
शुक्ल पक्ष द्वादशी – Apr 13 05:02 AM – Apr 14 04:50 AM

नक्षत्र
आश्लेषा – Apr 11 06:51 AM – Apr 12 08:35 AM
मघा – Apr 12 08:35 AM – Apr 13 09:37 AM

करण
वणिज – Apr 12 04:30 AM – Apr 12 04:52 PM
विष्टि – Apr 12 04:52 PM – Apr 13 05:02 AM
बव – Apr 13 05:02 AM – Apr 13 05:01 PM

पढ़ें :- 16 जून 2022 का राशिफल : आज चंद्रमा धनु राशि में विराजमान हैं, जानिए क्या कहती है आपकी राशि

योग
शूल – Apr 11 12:18 PM – Apr 12 12:03 PM
गण्ड – Apr 12 12:03 PM – Apr 13 11:14 AM

वार
मंगलवार

त्यौहार और व्रत
वैष्णव कामदा एकादशी
कामदा एकादशी

सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 6:12 AM
सूर्यास्त – 6:42 PM
चन्द्रोदय – Apr 12 2:40 PM
चन्द्रास्त – Apr 13 4:00 AM

अशुभ काल
राहू – 3:35 PM – 5:09 PM
यम गण्ड – 9:20 AM – 10:54 AM
कुलिक – 12:27 PM – 2:01 PM
दुर्मुहूर्त – 08:42 AM – 09:32 AM, 11:18 PM – 12:04 AM
वर्ज्यम् – 09:06 PM – 10:46 PM

पढ़ें :- Purnima June 2022 Date, Tithi: ज्येष्ठ पूर्णिमा पर करें दान, भगवान सत्यनारायण की पूजा सुनने से मिलेगी सफलता

शुभ काल
अभिजीत मुहूर्त – 12:02 PM – 12:52 PM
अमृत काल – 06:52 AM – 08:35 AM
ब्रह्म मुहूर्त – 04:36 AM – 05:24 AM

आनन्दादि योग
आनन्द – 08:35 AM
कालदण्ड

सूर्या राशि
सूर्य मीन राशि पर है

चंद्र राशि
चन्द्रमा अप्रैल 12, 08:35 AM तक कर्क राशि उपरांत सिंह राशि पर संचार करेगा

चन्द्र मास
अमांत – चैत्र
पूर्णिमांत – चैत्र
शक संवत (राष्ट्रीय कलैण्डर) – चैत्र 22, 1944
वैदिक ऋतु – वसंत
द्रिक ऋतु – वसंत

शुभ योग
सर्वार्थ सिद्धि योग – अप्रैल 12 06:12 पूर्वाह्न – अप्रैल 12 08:35 पूर्वाह्न (अश्लेषा और मंगलवार)

पढ़ें :- Shani Vakri 2022 : जुलाई में इस दिन से शुरू हो रही है शनि की उल्टी चाल, शनिदेव की पूजा करते समय नीले रंग के फूल अर्पित करें

चंद्राष्टम
1. मूल, पूर्वा आषाढ़, उत्तरा आषाढ़ प्रथम 1 पदम

गण्डमाला नक्षत्र
1. अप्रैल 11 06:51 पूर्वाह्न – अप्रैल 12 08:35 पूर्वाह्न (अश्लेषा)
2. अप्रैल 12 08:35 पूर्वाह्न – अप्रैल 13 09:37 पूर्वाह्न (माघ)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...