1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. पंचांग: मंगलवार, 5 अप्रैल, 2022

पंचांग: मंगलवार, 5 अप्रैल, 2022

पंचांग 05/04/22, मंगलवार यह पृष्ठ 5 अप्रैल, 2022 को तिथि, नक्षत्र, अच्छा और बुरा समय आदि दिखाता है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

पंचांग: मंगलवार, 5 अप्रैल, 2022
विक्रम संवत – 2079, राक्षस
शक सम्वत – 1944, शुभकृत्
पूर्णिमांत – चैत्र
अमांत – चैत्र

पढ़ें :- Char Dham Yatra 2023 : चार धाम यात्रा इस दिन से शुरू होने जा रही है , केदारनाथ धाम के कपाट 26 अप्रैल खुलेंगे

तिथि
शुक्ल पक्ष चतुर्थी – Apr 04 01:55 PM – Apr 05 03:45 PM
शुक्ल पक्ष पंचमी – Apr 05 03:45 PM – Apr 06 06:01 PM

नक्षत्र
कृत्तिका – Apr 04 02:28 PM – Apr 05 04:52 PM
रोहिणी – Apr 05 04:52 PM – Apr 06 07:40 PM

करण
विष्टि – Apr 05 02:46 AM – Apr 05 03:45 PM
बव – Apr 05 03:45 PM – Apr 06 04:51 AM
बालव – Apr 06 04:51 AM – Apr 06 06:01 PM

योग
प्रीति – Apr 04 07:42 AM – Apr 05 07:59 AM
आयुष्मान – Apr 05 07:59 AM – Apr 06 08:38 AM

पढ़ें :- Abeer Ke Totake : चांदी के डिब्बे में सफेद अबीर घर में इस जगह रखेंं, काम बनने लगेंगे

वार
मंगलवार

त्यौहार और व्रत
वरद चतुर्थी

सूर्य और चंद्रमा का समय
सूर्योदय – 6:19 AM
सूर्यास्त – 6:39 PM
चन्द्रोदय – Apr 05 8:47 AM
चन्द्रास्त – Apr 05 10:31 PM

अशुभ काल
राहू – 3:35 PM – 5:07 PM
यम गण्ड – 9:24 AM – 10:57 AM
कुलिक – 12:29 PM – 2:02 PM
दुर्मुहूर्त – 08:47 AM – 09:36 AM, 11:19 PM – 12:05 AM
वर्ज्यम् – 10:44 AM – 12:31 PM

शुभ काल
अभिजीत मुहूर्त – 12:04 PM – 12:54 PM
अमृत काल – 02:13 PM – 03:59 PM
ब्रह्म मुहूर्त – 04:43 AM – 05:31 AM

पढ़ें :- Roti Banana Varjit : मां लक्ष्मी से जुड़े त्योहार आने पर घर में रोटी नहीं पकवान बनाए जाने चाहिए, शुभ परिणाम मिलते हैं

आनन्दादि योग
गद – 04:52 PM
मातंग

सूर्या राशि
सूर्य मीन राशि पर है

चंद्र राशि
चन्द्रमा वृषभ राशि पर संचार करेगा (पूरा दिन-रात)

चन्द्र मास
अमांत – चैत्र
पूर्णिमांत – चैत्र
शक संवत (राष्ट्रीय कलैण्डर) – चैत्र 15, 1944
वैदिक ऋतु – वसंत
द्रिक ऋतु – वसंत

शुभ योग
सर्वार्थ सिद्धि योग – अप्रैल 05 06:19 पूर्वाह्न – अप्रैल 05 04:52 अपराह्न (कृतिका और मंगलवार)

चंद्राष्टम
1. चित्रा अंतिम 2 पदम, स्वाति , विशाखा प्रथम 3 पदम

पढ़ें :- Aaj ka Panchang: माघ शुक्ल पक्ष सप्तमी, जाने शुभ-अशुभ समय मुहूर्त और राहुकाल...

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...