सांसत मे सरकार: अपनी मांगो को लेकर प्रदर्शन की तैयारी में पंचायत व ग्राम विकास अधिकारी

gram vikas gazipur
गाजीपुर
गाजीपुर। प्रदेश संगठन के निर्देश पर मंगलवार को ग्राम पंचायत अधिकारियो ने प्रेस वार्ता में बताया कि 12 अप्रैल को विकास भवन परिसर में 3 सूत्रीय मांगो को लेकर धरना प्रदर्शन करेगे। उसके बाद 23 अप्रैल को लक्ष्मण मेला पार्क लखनऊ में धरना प्रदर्शन किया जायेगा। उनकी मांगे है कि ग्राम पंचायत अधिकारी एवं ग्राम विकास अधिकारी की शिक्षक योग्याता इंटरमीडिएट के स्थान पर स्नातक किया जाय व अधिमानी शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र के स्थान पर ओ लेवल किया जाय।…

गाजीपुर। प्रदेश संगठन के निर्देश पर मंगलवार को ग्राम पंचायत अधिकारियो ने प्रेस वार्ता में बताया कि 12 अप्रैल को विकास भवन परिसर में 3 सूत्रीय मांगो को लेकर धरना प्रदर्शन करेगे। उसके बाद 23 अप्रैल को लक्ष्मण मेला पार्क लखनऊ में धरना प्रदर्शन किया जायेगा।

उनकी मांगे है कि ग्राम पंचायत अधिकारी एवं ग्राम विकास अधिकारी की शिक्षक योग्याता इंटरमीडिएट के स्थान पर स्नातक किया जाय व अधिमानी शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र के स्थान पर ओ लेवल किया जाय। ग्राम पंचायत अधिकारी एवं ग्राम विकास अधिकारी का वेतनमान 5200-20200 ग्रेड वेतन 2800 रूपये अर्थात सातवे वेतन आयोग की मैट्रिक्स के सापेक्ष लेवल 5 पर, प्रारंभिक मूल वेतन 29200 रूपये प्रदान किया जाये। सीधी भर्ती के सापेक्ष प्रोन्नतीय पद कम से कम 30 प्रतिशत सृजित कर समय से 10 वर्ष पर प्रथम प्रोन्नती, 16 वर्ष पर दितीय प्रोन्न्ति एवं 26 वर्ष पर तृतीय प्रोन्नती प्रदान की जाये।

{ यह भी पढ़ें:- गाजीपुर: 12 लाख गबन मे निलंबित सचिव ने फिर हड़पे 22 लाख }

समय से 10,16,26 वर्ष पर प्रोन्नती ना दे पाने की स्थिति में 10 वर्ष, 16 वर्ष एवं 26 वर्ष पर प्रोन्नती पद का वेतन एसीपी की अनुमन्यता में प्रदान की जाये। प्रेस वार्ता में ग्राम विकास अधिकारी व ग्राम पंचायत अधिकारी समन्‍वय समिति के अध्यक्ष सुरेश सिंह, जिला ग्राम विकास अधिकारी संघ के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश यादव एवं मंत्री वैजनाथ तिवारी, सूर्यभान राय, पवन पांडेय, सुभाष सिंह, रामराज कुशवाहा आदि लोग उपस्थित रहें। ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारियो के धरने को समर्थन देंगी राज्य कर्मचारी परिषद जिसके अध्यक्ष अंबिका दूबे ने घोषणा की है।

रिपोर्ट- राकेश पांडे

{ यह भी पढ़ें:- भारत बंद: हजारों लोग, सैकड़ों मासूम व कई दर्जन मरीज फंसे थे गाजीपुर में }

Loading...