समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट: असीमानंद समेत चारों आरोपी बरी

samjhauta-express-blast-case
समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट: असीमानंद समेत चारों आरोपी बरी

नई दिल्ली। समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट केस मामले में पंचकूला की एनआईए कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए असीमानंद समेत चारों आरोपियों को बरी कर दिया है। पंचकूला स्थित एनआईए की विशेष अदालत में बुधवार को राहिला की याचिका पर सुनवाई हुई जिसे कोर्ट ने सीआरसीपीसी की धारा 311 के तहत खारिज कर दिया।

Panchkula Pakistans Witness Petition Dismissed On Samjhauta Express Blast Case :

बताते चलें कि 14 मार्च को मामले में फैसला सुनाया जाना था, लेकिन ठीक मौके पर राहिला ने ईमेल के माध्यम से याचिका दायर कर दी, जिसके बाद कोर्ट ने फैसला टाल दिया था। राहिला ने अपने वकील मोमिन मलिक के माध्यम से कहा था कि वह मामले में गवाही देना चाहती है।

बता दें कि दिल्ली-लाहौर समझौता एक्सप्रेस ट्रेन में 18 फरवरी 2007 को पानीपत के नजदीक दो बम विस्फोट हुए थे, जिनमें 68 लोग मारे गए थे और 12 अन्य घायल हुए थे।

नई दिल्ली। समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट केस मामले में पंचकूला की एनआईए कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए असीमानंद समेत चारों आरोपियों को बरी कर दिया है। पंचकूला स्थित एनआईए की विशेष अदालत में बुधवार को राहिला की याचिका पर सुनवाई हुई जिसे कोर्ट ने सीआरसीपीसी की धारा 311 के तहत खारिज कर दिया।

बताते चलें कि 14 मार्च को मामले में फैसला सुनाया जाना था, लेकिन ठीक मौके पर राहिला ने ईमेल के माध्यम से याचिका दायर कर दी, जिसके बाद कोर्ट ने फैसला टाल दिया था। राहिला ने अपने वकील मोमिन मलिक के माध्यम से कहा था कि वह मामले में गवाही देना चाहती है।

बता दें कि दिल्ली-लाहौर समझौता एक्सप्रेस ट्रेन में 18 फरवरी 2007 को पानीपत के नजदीक दो बम विस्फोट हुए थे, जिनमें 68 लोग मारे गए थे और 12 अन्य घायल हुए थे।