नई दिल्ली। पंचकुला की सीबीआई कोर्ट में शुक्रवार को शारीरिक शोषण के मामले में दोषी करार दिए गए धर्मगुरू गुरुमीत राम रहीम की गिरफ्तारी के बाद उनके समर्थकों द्वारा किए गए हिंसक प्रदर्शन में 36 लोगों की मौत हुई है। हरियाणा पुलिस द्वारा जारी किए गए आंकड़ों में इन मौतों के अलावा 269 लोग घायल हुए हैं जबकि 552 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

हरियाणा पुलिस की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 24 घंटों तक चले डेरा समर्थकों के हिंसक प्रदर्शन को नियंत्रित किया जा चुका है। हरियाणा में शांति बहाली हो रही है। पुलिस और आरपीएफ की टोलियों को स्टैंडबाई पर रखा गया है। डेरा समर्थक बाहुल्य इलाकों में पुलिस गश्त कर लोगों को शांति बनाए रखने की अपील कर रही है।

{ यह भी पढ़ें:- पूर्व पति ने खोला राज, बलात्कारी बाबा के बेडरूम तक था हनी की प्रीत का असर }

पुलिस को भरोसा है कि आने वाले 24 घंटों में हरियाणा में आम जनजीवन बहाल हो जाएगा। हरियाणा से होकर गुजरने वाली ट्रेनों के संचालन को भी हरी झंडी दी जाने लगी है। हालांकि रेलवे ने हरियाणा से गुजरने वाली ट्रेनों की सुरक्षा के लिए पुख्ता कदम उठाने की बात भी कही है।

बताया जा रहा है कि हरियाणा पुलिस ने इस हिंसक प्रदर्शन की अगुआई करने वालों की वीडियो फुटेज के आधार पर पहचान की जा रही है। इसके अलावा प्रशासन ने पंचकुला में हुई आगजनी और तोड़फोड़ की घटनाओं में हुए आम लोगों के नुकसान के आंकलन की प्रक्रिया भी जल्द शुरू की जाएगी।

{ यह भी पढ़ें:- बलात्कारी गुरमीत ने सिरसा डेरे को बना दिया था ​​कब्रिस्तान, 600 शव हैं दफन }